scriptState's first drone school will open in MITS from March, DGCA inspects | एमआइटीएस में मार्च से खुलेगा प्रदेश का पहला ड्रोन स्कूल, डीजीसीए ने किया निरीक्षण | Patrika News

एमआइटीएस में मार्च से खुलेगा प्रदेश का पहला ड्रोन स्कूल, डीजीसीए ने किया निरीक्षण

ड्रोन मेला में उड्डयन मंत्री ने की थी घोषणा, परिसर में जगह भी हुई चिन्हित

ग्वालियर

Updated: January 29, 2022 11:07:34 am

ग्वालियर.

प्रदेश का पहला ड्रोन स्कूल माधव इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड साइंस (एमआइटीएस) में खुलने जा रहा है। इसके लिए डीजीसीए (डायरेक्टोरेट जनरल ऑफ सिविल एविएशन) ने निरीक्षण कर लिया है। साथ ही जगह भी चिन्हित कर ली गई है। ड्रोन स्कूल खुलने से शहर एवं बाहर के स्टूडेंट्स को ड्रोन के क्षेत्र में कॅरियर बनाने के अच्छे मौके मिलेंगे। ड्रोन स्कूल मार्च में शुरू होने की उम्मीद है। उल्लेखनीय है कि लास्ट मंथ एमआइटीएस में आयोजित ड्रोन मेला में उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने प्रदेश मे पांच ड्रोन स्कूल खोलने की घोषणा की थी। इनमें से ग्वालियर में भी ड्रोन स्कूल भी शामिल था।
एमआइटीएस में मार्च से खुलेगा प्रदेश का पहला ड्रोन स्कूल, डीजीसीए ने किया निरीक्षण
एमआइटीएस में मार्च से खुलेगा प्रदेश का पहला ड्रोन स्कूल, डीजीसीए ने किया निरीक्षण
्एमओयू हुआ हस्ताक्षरित
एमआइटीएस ग्वालियर एवं इंदिरा गांधी राष्ट्रीय उड़ान अकादमी के बीच शुक्रवार को एमओयू हस्ताक्षरित हुआ। अकादमी की ओर से कृष्णनेदु गुप्ता ने अपने ट्रेनिंग पार्टनर ड्रोन डेस्टिनेशन प्राइवेट लिमिटेड के साथ हस्ताक्षर किया। प्रशिक्षण की परमीशन, ड्रोन उड़ाने संबंधित परमीशन व गाइडलाइन जल्द ही तय किए जाएंगे।
छात्रों को इंटर्नशिप भी कराई जाएगी
ड्रोन स्कूल में संस्थान के भी छात्रों को इंटर्नशिप प्रोवाइड कराई जाएगी। ड्रोन स्कूल अपने ट्रेनिंग कोर्स भी संचालित करेगा। इस ट्रेनिंग स्कूल में सरकारी विभाग, कॉर्पोरेट सेक्टर, लॉ इंफोरेसीमेंट एजेंसी, पीएसयू आदि को ट्रेनिंग दी जाएगी। एमआइटीएस के छात्रों को कॅरिकुलम में ड्रोन तकनीकी का फायदा मिलेगा।
3 माह से 1 साल तक के होंगे कोर्स
ये कोर्स 3 माह से शुरू होकर 1 साल तक के होंगे, जिसमें पार्टिसिपेंट्स को ड्रोन एसेंबलिंग से लेकर ड्रोन पायलट तक की ट्रेनिंग दी जाएगी। इसके अलावा एडवांस कोर्स भी होंगे।

एमआइटीएस में प्रदेश का पहला ड्रोन स्कूल मार्च से खुलने जा रहा है। इसके लिए हमने इंदिरा गांधी राष्ट्रीय उड़ान अकादमी से एमओयू साइन किया है। वे अपने ट्रेनिंग कोर्स भी संचालित करेंगे। चूंकि आने वाला समय ड्रोन तकनीक का है। इन कोर्स को कर स्टूडेंट्स अपने सपने साकार कर सकते हैं।
डॉ आरके पंडित, डायरेक्टर, एमआइटीएस

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

नाइजीरिया के चर्च में कार्यक्रम के दौरान मची भगदड़ से 31 की मौत, कई घायल, मृतकों में ज्यादातर बच्चे शामिल'पीएम मोदी ने बनाया भारत को मजबूत, जवाहरलाल नेहरू से उनकी नहीं की जा सकती तुलना'- कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मईमहाराष्ट्र में Omicron के B.A.4 वेरिएंट के 5 और B.A.5 के 3 मामले आए सामने, अलर्ट जारीAsia Cup Hockey 2022: सुपर 4 राउंड के अपने पहले मैच में भारत ने जापान को 2-1 से हरायाRBI की रिपोर्ट का दावा - 'आपके पास मौजूद कैश हो सकता है नकली'कुत्ता घुमाने वाले IAS दम्पती के बचाव में उतरीं मेनका गांधी, ट्रांसफर पर नाराजगी जताईDGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्ड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.