एक्टिविटी क्लब से स्टूडेंट्स को मिलेगा मंच

एक्टिविटी क्लब से स्टूडेंट्स को मिलेगा मंच

Harish kushwah | Publish: Sep, 06 2018 07:33:52 PM (IST) | Updated: Sep, 06 2018 07:40:50 PM (IST) Gwalior, Madhya Pradesh, India

अच्छे आइडियाज के लिए कॉलेज करता है फंड प्रोवाइड

कॉलेजेस में एडमिशन प्रोसेस पूरा होने के बाद अब स्टूडेंट्स ने कॉलेज एक्टिविटी क्लब में रजिस्ट्रेशन कराना शुरू कर दिया है। कॉलेज परिसर में होने वाली डिफरेंट एक्टिीविटी के लिए अलग-अलग क्लब्स बनाए गए हैं, जिन्हें स्टूडेंट्स द्वारा ऑपरेट किया जाता है। जिससे सालभर में होने वाले सभी प्रोग्राम, प्रोजेक्ट, एक्टिविटी स्टूडेंट्स द्वारा तय की जाती हैं। शासकीय, निजी कॉलेज और यूनिवर्सिटी में क्लब्स स्टूडेंट्स द्वारा तैयार किए जाते हैं, जिन्हें फैकल्टी मॉनिटरिंग करती हैं। क्लब के जरिए स्टूडेंट्स को अपने टैलेंट को दिखाने के लिए एक मंच मिलता है। ड्रामा, डंास, एडवेंचर, सेफ, लाइव प्रोजेक्ट जैसे टैलेंट को भी बेहतर बनाने के लिए फैकल्टी गाइड करती हैं। साथ ही अच्छे आइडियाज के लिए कॉलेज ही फंड प्रोवाइड करवाता है।

ऐसे होगा रजिस्ट्रेशन

क्लब में रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन कराना होता है। रजिस्ट्रेशन उन स्टूडेंट्स के लिए जरूरी है, जिन्हें मेंबरशिप चाहिए होती है। आप केवल एक ही क्लब में मेंबर हो सकते हैं। लेकिन जिन्हें पार्टिसिपेट करना होता है। वह क्लब में जाकर डायरेक्ट हिस्सा ले सकते हैं।

ये हैं फायदे

जब स्टूडेंट्स इन क्लब में एचीवमेंट, इनोवेशन करते हैं और अपने इनोवशन को किसी कॉम्पीटिशन में प्रजेंट करते हैं, तो ये एक्टिविटी उनके रिज्यूम को रिच बनाती है। कैम्पस आने पर इसका फायदा कॅरियर में मिलता है। क्योंकि आज मार्केट को इनोवशन की डिमांड है।

स्टूडेंट्स होंगे मोटिवेट

एमआइटीएस

रोबोटिक्स क्लब की बात करें तो स्टूडेंट्स ने रोबोट्स बनाए हैं। उसी के साथ ही ड्रोन मेकिंग जैसी एक्टिविटी कर रहे हैं। साथ ही नाट्य मंच, कॅरियर काउंसलर, फोटोग्राफी, एमआइटीएस कोड बार, रिसर्च स्कॉलर क्लब आदि 50 क्लब है। डांस, सिगिंग, कोडिंग स्किल कॉम्पीटिशन, लाइव प्रोजेक्ट, क्विज, डिबेट आदि एक्टिविटी कराते हैं। हर क्लब को एक एक्सपर्ट दिया गया हैए लेकिन क्लब को-ऑर्डिनेट सीनियर स्टूडेंट्स करते हैं।

आइआइटीटीएम

स्टूडेंट्स को एडवेंचर क्लब के लिए कहीं बाहर नहीं जाना होगा। उसके लिए कैम्पस में ही टेंट में नाइट स्टे, स्टार ग्रेजिंग जैसी एक्टिीविटी करनी होंगी। इसी के साथ ही वैल्यू क्लब के जरिये महापुरुषों की जयंती पर सेलिबे्रशन किया जाएगा। कॉलेज में पहले से 2 क्लब हैं, लेकिन इस साल से ही तीन क्लब और बनाए जा रहे हैं। दिशा क्लब, मीडिया क्लब साथ ही न्यू क्लब में एडवेंचर, वैल्यू, हॉबी क्लब को जोड़ा जा रहा है। दिशा क्लब में स्टूडेंट्स को डिबेट, मॉडल, बिजनेस प्रपोजल, एडवरटाइजिंग, ब्रांडिंग आदि एक्टिविटी कराते हैं। वहीं मीडिया कैमरा, वीडियो कैमरा, ड्रोन कैमरा, फोटो ग्राफी वर्क को सोशल मीडिया के माध्यम से स्टूडेंट्स मार्केटिंग करते हैं। इसके रजिस्ट्रेशन के लिए कोर कमेटी को एप्लीकेशन देना होगा।

आइएचएम

कॉलेज में 3 क्लब रन कर रहे हैं। इनमें टूरिज्म क्लब, सैफ क्लब और ईको क्लब शामिल हैं। हर क्लब का अलग-अलग काम हैं। स्टूडेंट्स टूरिज्म में ग्वालियर दर्शन एक्टिविटी को जोड़ा गया है, जिसमें स्टूडेंट्स बाहर से एक्सपर्ट और गेस्ट को ग्वालियर का हेरिटेज विजिट कराएंगे। सैफ क्लब में स्टूडेंट्स की स्किल को डवलेप करने के लिए थीम डिनर, फूड दर्शन जैसे एक्टिविटी कराई जाएंगी। ये एक्टिविटी कैम्पस सिलेक्शन, एक्सपर्ट, गेस्ट आदि के लिए की जाती है।

Ad Block is Banned