स्विमिंग नहीं कर पा रहे तैराक, लेकिन खुद को फिट रखने के लिए कर रहे आउटडोर एक्सरसाइज

कोरोना महामारी से सभी खेल प्रभावित हुए हैं, लेकिन सबसे ज्यादा प्रभावित कोई खेल हुआ है तो वह है स्वीमिंग। शहर के सभी स्विमिंग पूल बंद है और इस साल तो खुलने की संभावना भी नहीं है, क्योंकि बारिश के बाद सर्दी शुरू हो जाएगी..

ग्वालियर. कोरोना महामारी से सभी खेल प्रभावित हुए हैं, लेकिन सबसे ज्यादा प्रभावित कोई खेल हुआ है तो वह है स्वीमिंग। शहर के सभी स्विमिंग पूल बंद है और इस साल तो खुलने की संभावना भी नहीं है, क्योंकि बारिश के बाद सर्दी शुरू हो जाएगी। ऐसे में खिलाडिय़ों को अगले साल गर्मियों तक का इंतजार करना होगा। ऐसी स्थिति में खिलाड़ी को खुद को फिट रखने के लिए आउटडोर एक्सरसाइज कर रहे हैं। ऑनलाइन स्विमिंग के कोच और नेशनल खिलाडिय़ों से बात कर ट्रेनिंग और टिप्स ले रहे हैं। ऐसी स्थिति में खिलाड़ी मानसिक रूप से भी परेशान हैं क्योंकि उनको खेलने का मौका नहीं मिल रहा है इसलिए उनको साइक्लॉजी के एक्सपर्ट भी सलाह दे रहे हैं। खिलाडिय़ों को बूस्टअप करने के लिए हर संडे नया शेड्यूल बनाकर फिट रखा जा रहा है।


ऑनलाइन ले रहे टिप्स
करीब सात महीने से स्विमिंग पूल में उतरकर खिलाडिय़ों ने प्रैक्टिस नहीं की है, इसलिए ऑनलाइन ही सीनियर खिलाडिय़ों और कोच से टिप्स लेकर घर और आउटडोर प्रैक्टिस कर रहे हैं। करीब चार महीने से हर संडे शहर के राष्ट्रीय तैराकों को नया शेड्यूल बनाकर दिया जाता है और एक हफ्ते बाद उसकी प्रोग्रेस रिपोर्ट और जो परेशानी होती है उसे कोच सुधारते हैं। योगा और ऐसी एक्सरसाइज जो खिलाड़ी घर में कर सके और खुद को फिट रख सके वह करने की सलाह दे रहे हैं। हर संडे ऐप के माध्यम से खिलाडिय़ों को सीनियर नेशनल तैराक खिलाडिय़ों से बात कराते हैं और उनके अनुभव शेयर करा रहे हैं।

घर पर ही तैयारी
स्वीमिंग के लेवल-1 कोच सचिन पाल ने बताया, कोरोना के खिलाड़ी पूल में प्रैक्टिस नहीं कर पा रहे हैं। खिलाडिय़ों को फिट रखने तैराकी संघ जूम ऐप के से हर रविवार तैराकों को बूस्टअप करने फिजीकल शेड्यूल दे रहे हैं जिसकी वह घर पर तैयारी करते हैं। सोमवार को एक्सरसाइज, योगा की पीडीएफ खिलाडिय़ों को भेजी जाती है इससे खिलाड़ी प्रैक्टिस करते हैं।


घर पर ही तैयारी
स्टेट मेडिलिस्ट स्वीमर अविकल्प ने कहा, कोरोना के कारण बनी स्थिति अगले साल तक रहेगी। इसलिए खुद को फिट रखने के लिए रोज एक्सरसाइज के साथ योगा भी कर रहे हैं। सुबह एक घंटे साइकिलिंग भी करता हूं। ऑनलाइन कोच जो भी टास्क देते हैं उसको भी पूरा कर रहे हैं।


घर पर ही तैयारी
स्विमिंग खिलाड़ी निमिषा ने कहा, घर पर ही रोज सुबह और शाम प्रैटिक्स कर रही है, लेकिन स्विमिंग पूल में जो स्किल प्रैटिक्स हो सकती है वह नहीं हो पा रही है। परेशानी तो आ रही है, लेकिन तैयारी में जुटी हूं। ऑनलाइन सीनियर खिलाडिय़ोंं और कोच से जो टिप्स मिल रही है उसे फॉलो कर रही हूं। व्हाट्सऐप ग्रुप बना रखा है उसे रोज की फिजिकली एक्टीविटी शेयर कर रहे हैं। तैराक अलंकृत और मनु ने कहा, तैयारी जारी है, भले ही स्विमिंग पूल में नहीं जा पा रहे है, लेकिन उतनी मेहतन आउटडोर में कर रहे हैं।

रिज़वान खान Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned