अध्यापकों का विरोध प्रदर्शन, सिर मुंडाकर सरकार से मांगा हक

बीते रोज भोपाल में आजाद अध्यापक संघ द्वारा शिक्षा विभाग में मांग न माने जाने के विरोध में महिला अध्यापकों द्वारा सिर मुंडन

By: Gaurav Sen

Published: 15 Jan 2018, 04:32 PM IST

ग्वालियर। बीते रोज भोपाल में आजाद अध्यापक संघ द्वारा शिक्षा विभाग में मांग न माने जाने के विरोध में महिला अध्यापकों द्वारा सिर मुंडन कराया था। जिलेभर के अध्यापकों ने एकजुटता दिखाते हुए लक्ष्मीबाई समाधि स्थल पर सरकार का विरोध किया और अध्यापक संवर्ग को शिक्षा विभाग में शामिल किए जाने की मांग करते हुए सामूहिक सिर मुंडन कराया।


आजाद अध्यापक संघ की प्रदेश पदाधिकारी शिल्पी शिवानी अन्य अध्यापिकाओं द्वारा सरकार द्वारा अध्यापकों के साथ किए जा रहे भेदभाव को लेकर सिर मुंडन कराया। यह मामला तूल पकड़ते ही जिले में अलग-अलग अध्यापक संगठनों ने एकजुटता दिखाई। अध्यापक कांग्रेस के संभागीय अध्यक्ष निरंजन गुर्जर के आह्वान पर सभी संगठन एकमत हुए। कोई भी अध्यापक संघ द्वारा बिना बैनर लगाए और मतभेदों को भुलाते हुए एकता का प्रदर्शन किया। पहले बैठक हुई इसके बाद महिला अध्यापिकाओं के प्रदर्शन का सपोर्ट करते हुए अध्यापकों ने सिर मुंडन कराया। विरोध प्रदर्शन के दौरान सिर मुंडन कराकर रोष व्यक्त करने वालों में अमजद खान, आदेश द्विवेदी, रामबहादुर सिंह यादव, विनोद मिश्रा, महेन्द्र सिंह रावत, शिव सिंह बघेल, मनोज कुमार जाटव, निरंजन सिह घुरैया शामिल थे। इस मौके पर सरकार की नीतियों का विरोध करने वालों में अरविंद दीक्षित, कीर्ती झा, शकुंतला तोमर, गजेंद्र गुर्जर, विवेक चौरसिया आदि शामिल होंगे।

आज फिर बनेगी रणनीति
बैठक का संचालन कुलदीप सिंह राजपूत ने किया । आज 15 जनवरी को अध्यापक एक बार फिर से शाम 5 बजे समाधि स्थल पर एकत्रित होंगे। इसक बाद अपनी मांगों को लेकर आगे की रणनीति बनाई जाएगी।

 

कांग्रेस कराएगी अभिभाषकों का महा सम्मेलन
ग्वालियर मप्र उच्च न्यायालय के वरिष्ठ अभिभाषकों की बैठक रविवार को कांग्रेस भवन में हुई, जिसमें अभिभाषकों का महासम्मेलन कराने का निर्णय लिया गया। इस दौरान पूर्व विधायक रमेश अग्रवाल, अभिभाषक विनोद भारद्वाज, पूर्व अध्यक्ष विनोद शर्मा, राकेश नारायण दीक्षित, प्रेम सिंह भदौरिया, राजेन्द्र जैन, राकेश पाराशर, अमर सिंह माहौर उपस्थित थे। सम्मेलन में पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया, राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा उपस्थित रहेंगे। बैठक का संचालन विधि मानव अधिकारी विभाग के जिलाध्यक्ष पीपीएस वजीता ने किया। विनोद भारद्वाज ने कहा कि संविधान की रक्षा, न्यायपालिका का सम्मान, लोकतंत्र बचाने के लिए अभिभाषकों का सम्मेलन सार्थक सिद्ध होगा।

Gaurav Sen
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned