सवा करोड़ का टेंडर निकाला, काम किन सड़कों पर होगा पता नहीं

सवा करोड़ का टेंडर निकाला, काम किन सड़कों पर होगा पता नहीं

Rahul rai | Publish: Aug, 12 2018 07:23:21 PM (IST) Gwalior, Madhya Pradesh, India

सड़कों की मरम्मत करने की सामग्री का तो उल्लेख किया गया है, लेकिन सड़कों के नाम नहीं खोले गए हैं

ग्वालियर। नगर निगम द्वारा सड़कों के नाम पर फिर गोलमाल की तैयारी की जा रही है। बारिश में बह गईं शहर की तीन साल की गारंटी पीरियड वाली सड़कों की मरम्मत उनके ठेकेदारों से कराने के बजाय करीब सवा करोड़ रुपए का नया टेंडर जारी किया गया है।

 

खास बात यह है कि टेंडर में सड़कों की मरम्मत करने की सामग्री का तो उल्लेख किया गया है, लेकिन सड़कों के नाम नहीं खोले गए हैं, जिससे टेंडर प्रक्रिया सवालों के घेरे में आ गई है।

 

जानकारों का मानना है कि ग्वालियर पूर्व विधानसभा क्षेत्र के लिए निकाले गए सवा करोड़ रुपए के इस टेंडर से गांरटी वाली सड़कों की भी मरम्मत कराकर ठेकेदारों को लाभ पहुंचा दिया जाएगा। यानि जो काम गारंटी अवधि में ठेकेदार को करना चाहिए, वह निगम के पैसों से कराने की तैयारी की जा रही है।

 

यह हैं 39 सड़कें गारंटी वाली, कर लें चेक
-दीनदयाल नगर डी.एम. सेक्टर, बी.एस.एफ. कॉलोनी, सेक्टर ई.में विभिन्न गलियां, रणधीर कॉलोनी शुक्ला किराना, पंचशील नगर पार्क में, समता मार्ग गली नं.01, सी.एन.कॉन्वेंट स्कूल से पीताम्बरा स्टेट, इंद्रमणि नगर से मुरार मुक्तिधाम, कृष्णा नगर टंकी से मुक्तिधाम, इंद्रमणि नगर, सुरेश नगर से मुक्तिधाम, मयूर नगर में नाला से जादौन के मकान तक, थीम रोड महल गेट के स्थान पर, आकाशवाणी से मृगनयनी रोड तक, थाटीपुर में चम्बल कॉलोनी, गांधी रोड प्रमिला प्लाजा से घुरैया के मकान से भूपेन्द्र के मकान तक, सुदामापुरी, वार्ड 26 रिसाला बाजार बजाज खाना घासमण्डी, नगर निगम कॉलोनी, नदी संतर, चिक संतर, संभाजी कॉलोनी, न्यू कलेक्ट्रेट रोड में मेट्रो टॉवर से नई फ ोरलेन तक, महलगांव खदान वाला मोहल्ले से थाना जीवाजी यूनिवर्सिटी तक, आठ दुकान से जय बालाजी डेयरी तक, स्टेट बैंक के बगल वाली गली, अनुपम नगर एवं मां वैष्णो वक्र्स से तोमर के मकान तक, पूर्व विधानसभा अंतर्गत, कैलाश विहार मेन रोड पर भारतीय स्टेट बैंक से डॉ.त्रिखा तक, अनुपम नगर टैगोर नगर खचेरूलाल गुप्ता से राजकुमार त्रिपाठी तक, अचलेश्वर रोड पर उत्सव वाटिका तक, हाईकोर्ट के बगल वाली गली खूबी की बजरिया, सिंध विहार, थाटीपुर पंप से जीवाजी नगर सुरेश नगर तक, आरोग्यधाम से करौलीमाता मंदिर तक, गोविंदपुरी एबीसी ब्लॉक, सूरी नगर (ब) सत्यराज इनक्लेव, थाटीपुर पंप से जीवाजी नगर सुरेश नगर, गायत्री विहार, महलगांव, सचिन तेन्दुलकर मार्ग से भदौरिया मार्केट दर्पण कॉलोनी, गुरुद्वारा पुल से इंद्रगंज चौराहे के चारों ओर अचलेश्वर रोड, ग्वालियर ग्लोरी से इंद्रापुरकर भवन तक हरीशंकरपुरम, डॉ.एस.एन.तिवारी से नीड्म रोड तक, एलआइसी से शिवम हॉस्पीटल प्रेम मोटर्स के सामने एवं फूलबाग चौपाटी के सामने से बोट क्लब तक, होटल सनबीम से बाल भवन तक, डामरीकरण किया गया। उक्त सड़कें तीन साल की गारंटी अवधि की हैं, इनमें से कई बारिश में बह चुकी हैं।

 

करोड़ों का गोलमाल-
गारंटी की सड़कों में हर बार करोड़ों रुपए का गोलमाल किया जाता रहा है। नगर निगम के पैसों से गारंटी वाली सड़कों की मरम्मत करा कर ठेकेदार को लाभ दे दिया जाता है। इसमें अफसरों की पाटर्नरशिप मुख्य वजह है, इसलिए साइटों के नाम टेंडर में नहीं खोले गए हैं।

कृष्णराव दीक्षित, नेता प्रतिपक्ष, नगर निगम।

 

गंभीर मामला है-
अगर अफसरों ने टेंडर में सड़कों के नाम नहीं खोले हैं, तो यह मामला गंभीर है। हम अफसरों से जवाब मांगेंगे। किसी भी हालत में गड़बड़ी नहीं होने देंगे।

धर्मेंद्र राणा, जनकार्य प्रभारी, नगर निगम।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned