बैजाताल पर बिखरी सौंदर्य की छटा, रैम्प वॉक में नजर आया हेरिटेज

ड्रेसेज में सभ्यता, संस्कृति और आधुनिकता का संगम

By: Mahesh Gupta

Published: 01 Mar 2020, 11:16 PM IST

ग्वालियर.

वैभवशाली इतिहास को अपने अंदर समेटे बैजाताल एक बार फि र जीवंत हो उठा। पानी के बीचाबीच बने मंच पर रैम्प वॉक करते मॉडल की ड्रेसेज में सभ्यता, संस्कृत और आधुनिकता का संगम देखने को मिला। कलरफुल लाइटिंग के बीच डिफरेंट ट्रेडिशनल कॉस्ट्यूम ने ऑडियंस को अपना दीवाना बनाया। एक के बाद एक कई राउंड में आयोजित फैशन शो की थीम 'हेरिटेजÓ थी। मौका था टैलेंटिका और जेडी इंस्टीट्यूट के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित 'इंडिया हेरिटेज फैशन शोÓ का। इसमें देशभर से 30 मॉडल्स ने पार्टिसिपेट किया, जिसमें शहर के 13 मॉडल्स शामिल थे।


फैशन शो में मुख्य आकर्षण का केन्द्र ' टुगेदर नेस कलेक्शनÓ, मोहित एवं मिनी का Óकुलव्रत कलेक्शनÓ, रीत रिवाज 'मातरू कलेक्शनÓ प्रजेंट किया। इसके साथ ही जेडी इंस्टीट्यूट के छात्रों ने अपने विशिष्ट कलात्मक प्रयोगों से सभी का दिल जीत लिया।

टुगेदर नेस कलेक्शन- यह वैवाहिक जोड़ो के लिए समर्पित था, जिसमें परिणय सूत्र में बंधने को तत्पर युवाओं के लिए भाव, प्रेम एवं समर्पण की अभिव्यक्ति के साथ परिवार की महत्व को प्रदर्शित किया गया था।

कुलव्रत कलेक्शन- दुल्हन के लिए तो मार्केट में कई ड्रेसेज अवेलेबल हैं। इंदोर की रुचि नाहर और सुमित नाहर ने पहली बार दुल्हे को समर्पित कुलव्रत कलेक्शन में परम्परा के साथ आधुनिकता का समावेश किया गया था।

मातरू कलेक्शन- दुल्हा, दुल्हन के साथ यदि मां का जिक्र न हो तो परंपराएं बेमानी हो जाती हैं। इसी भाव से रुचि नाहर और सुमित नाहर ने अपने कलेक्शन में बनारसी के माध्यम से ममता, प्रेम, धैर्य के साथ मां के उन सभी पहलुओं को दर्शाने की कोशिश की, जिन्हें शब्दों मे पिरो पाना संभव नहीं है।

धुनची कलेक्शन- बंगाल के नृत्य को कपड़ों में पिरोने का असंभव कार्य जेडी के स्टूडेंट्स ने किया। ऊर्जा के सतत प्रवाह, श्रद्धा एवं भक्ति का समावेश आधुनिकता के साथ कर सम सामयिक संवेदनाओं को वस्त्रों में प्रदर्शित कर छात्रों ने सभी के अंतर्मन को छू लिया।

क्वाट्रेन कलेक्शन- पार्टिसिपेंट्स ने भारत की चारों दिशाओं से परिधानों की उत्कृष्टता को संभाला। इसके माध्यम से रचनात्मकता को सबसे आगे रखा गया।

देश में दूसरा फैशन शो ग्वालियर में
आयोजन के संचालक शिवा और आंचल बंसल ने बताया कि इंडिया हेरिटेज फैशन का यह दूसरा शो है। इसका उद्देश्य हेरिटेज को प्रमोट करना, धरोहरों को संजोना और बुनकरों को आगे लाना है। इस शो में दक्षिण से तराना, उत्तर से ऋ तु, मध्यभारत से युक्ता, आलोक विशेष आकर्षण का केंद्र रहे।

Mahesh Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned