सरकारी योजनाओं का लाभ सबको पहुंचा जरुरी

सरकारी योजनाओं का लाभ सबको पहुंचा जरुरी
सरकारी योजनाओं का लाभ सबको पहुंचा जरुरी

Rajesh Shrivastava | Updated: 15 Sep 2019, 08:33:53 PM (IST) Gwalior, Gwalior, Madhya Pradesh, India

शहर और गांव के प्रत्येक स्कूल में शिक्षा विभाग के माध्यम से नियुक्त शिक्षकों के अलावा शिक्षित-उच्च शिक्षित कामकाजी लोग अपना कुछ समय प्राथमिक, माध्यमिक या हायर सेकंडरी स्कूलों में दें।

ग्वालियर. शहर के विकास के लिए यातायात, एजुकेशन व अपराध को रोकना बहुत जरूरी है। इसके लिए शहर और गांव के प्रत्येक स्कूल में शिक्षा विभाग के माध्यम से नियुक्त शिक्षकों के अलावा शिक्षित-उच्च शिक्षित कामकाजी लोग अपना कुछ समय प्राथमिक, माध्यमिक या हायर सेकंडरी स्कूलों में दें। ये कहना है ग्वालियर कलेक्टर अनुराध चौधरी का। उन्होंने कहा कि वे जिस विषय में पारंगत हैं, उस विषय की कम से कम एक क्लास जरूर लें। इससे दूरस्थ स्कूलों की शैक्षणिक गुणवत्ता और बच्चों की सोच विकसित होगी। हमने विद्यादान योजना के अंतर्गत यह काम शुरू किया है, सभी सरकारी अधिकारी अपनी सुविधा के अनुसार विद्यादान के लिए जा रहे हैं। इसमें उच्च शिक्षित युवा, बुजुर्ग, महिलाएं भी जुड़ें तो परिणाम और ज्यादा सकारात्मक आएंगे। यह कहना है विद्यादान को ध्येय मानकर सरकारी स्कूलों में एजुकेशन का स्तर बढ़ाने का प्रयास कर रहे कलेक्टर अनुराग चौधरी का। उन्होंने बताया कि प्रदेश और केन्द्र की सभी योजनाओं को लाभ पहुंचाना सबसे पहली प्राथमिकता है, इसी के साथ समाज उपयोगी कार्यों को करने के लिए आमजन को प्रोत्साहित करने की कोशिश जारी है। जिले में चल रहे कामों को लेकर पत्रिका ने कलेक्टर से बात की तो उन्होंने लगभग हर मुद्दे पर साफगोई से जवाब दिये।
शहरी यातायात को व्यवस्थित करने के लिए किस तरह के उपाय कर रहे हैं इसके जवाब में कलेक्टर ने कहा कि यातायात को सुगम करने के लिए शहर के सभी व्यस्त पाइंट चिन्हित कर लिये गए हैं। सप्ताह में दो दिन अधिकारी शहर के अलग-अलग स्थानों पर जाकर परिस्थितियों को देख रहे हैं। साथ ही सरकारी योजनाओं में शहर और गांव के हितग्राहियों की शिकायतें का समाधान मैं स्वयं करा रहा हूं, मंगलवार को जनसुनवाई में आने वाले प्रत्येक आवेदक की शिकायत को सुनने के बाद संबंधित अधिकारी को निराकरण के लिए देने के बाद फॉलोअप भी कर रहे हैं। शिकायतों के निराकरण का प्रतिशत अब और बेहतर हुआ है। इसके अलावा रेत के अवैध परिवहन, उत्खनन पर पूरी तरह से लगाम लगाने के लिए कार्रवाई जारी हैं। डबरा एसडीएम द्वारा लगातार कार्रवाई की जा रही है। निगरानी के लिए स्थापित नाकों के माध्यम से भी खनिज के आवागमन पर नजर है।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned