साइट पर मिलेगा कॉलेजों का डाटा

उच्चशिक्षा की गुणवत्ता के लिए परिणाम के आधार पर विभाग पूरे प्रदेश के कॉलेजों की लिस्ट तैयार कर रहा है। इसमें प्रदेश की सभी यूनिवर्सिटी से डाटा मांगा गया है। इस डाटा के आधार पर प्रत्येक कॉलेज को रैंकिंग दी जाएगी।

ग्वालियर. उच्चशिक्षा की गुणवत्ता के लिए परिणाम के आधार पर विभाग पूरे प्रदेश के कॉलेजों की लिस्ट तैयार कर रहा है। इसमें प्रदेश की सभी यूनिवर्सिटी से डाटा मांगा गया है। इस डाटा के आधार पर प्रत्येक कॉलेज को रैंकिंग दी जाएगी। उच्चशिक्षा विभाग ने यूजी और पीजी कोर्सों में एडमिशन की प्रक्रिया के लिए तैयारियां शुरू कर दी हैं।
अधिकारी का प्रयास है कि छात्र ज्यादा से ज्यादा संख्या में दाखिला लें। इस नई व्यवस्था को लागू करने का मकसद छात्रों को एडमिशन के समय कॉलेज चुनने में होने वाले असमंजस से बचाना है। एडमिशन के समय छात्र को अपने विषय के आधार पर कॉलेज का चयन करना होता है। उकई बार निजी कॉलेज संचालकों या दलालों के हस्तक्षेप के कारण भी छात्र गलत कॉलेज चयन कर लेता है। जिससे उसका समय और पैसा व्यर्थ जाता है। इसलिए विभाग चाहता है कि छात्र अच्छे कॉलेजों में एडमिशन लेकर अपनी पढ़ाई पूरी करें, ताकि परीक्षा परिणाम सुधर सके।

अपलोड होगी पूरी जानकारी
अधिकारियों के अनुसार यह सूची मई माह के द्वितीय सप्ताह एडमिशन प्रक्रिया से करीब एक सप्ताह पहले विभाग की वेबसाइट पर अपलोड हो जाएगी।  इसमें कॉलेज के परीक्षा परिणाम सहित छात्रों को मिलने वाली सभी सुविधाओं के बारे में जानकारी होगी। साथ ही कॉलेज को किस कोर्स की संबद्धता मिली है के बारे में भी स्पष्ट बताया जाएगा। यह सिस्टम विगत वर्ष ही लागू होना था, लेकिन तकनीकी समस्या के कारण एनवक्त पर इसे बंद करना पड़ा। 

कॉलेजों की जानकारी छात्रों को देंगे
 इस बार एडमिशन प्रक्रिया में हमारी कोशिश है कि प्रदेश का प्रत्येक छात्र जिसने १२वीं उत्तीर्ण कर ली है, एडमिशन ले। कॉलेजों की जानकारी हम छात्रों को उपलब्ध कराएंगे, जिससे वे आसानी से कॉलेज का चयन कर सकेंगे।
उमाकान्त उमराव, आयुक्त, उच्चशिक्षा

rishi jaiswal
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned