स्टूडेंट्स में न्यू सेशन का उत्साह, शुरू की प्रिपरेशन

स्टूडेंट्स में न्यू सेशन का उत्साह, शुरू की प्रिपरेशन

By: Mahesh Gupta

Published: 23 Mar 2019, 12:12 PM IST

25 मार्च से 1 अप्रैल तक ओपन होंगे स्कूल

सीबीएसई बोर्ड एग्जाम को छोडकऱ बाकी सभी कक्षाओं के एग्जाम लगभग थम चुके हैं। अब स्कूलों को नया सेशन भी शुरू होने जा रहा है। इसको लेकर शहर के सभी स्कूलों ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। कुछ स्कूल का नया सेशन शुरू भी हो चुका है, तो वहीं कुछ स्कूलों में सेशन की शुरुआत होने जा रही है। अधिकतर स्कूल 25 मार्च से लेकर 1 अप्रैल तक ओपन हो जाएंगे। सिटी स्कूल्स में नए सेशन की शुरुआत के बाद 30 अप्रैल से 5 मई तक समर वेकेशन लग जाएंगे। इस दौरान स्टूडेंट्स को क्लासवाइज होमवर्क दिया जाएगा। इसके बाद 15 जून से 1 जुलाई के बीच सभी स्कूल ओपन हो जाएंगे।

बच्चों की स्टडी एंड फूड हैबिट
होली का खुमार उतरने के साथ ही नए सेशन की शुरुआत हो जाएगी। पैरेंट्स पहली बार स्कूल जाने वाले बच्चों को लेकर अधिक चिंतित हैं। क्योंकि उनका बच्चा अभी उनसे दूर नहीं रह पाता। इसके लिए वह बच्चे की स्टडी हैबिट, खाने-पीने की हैबिट डाल रहे हैं। साथ ही घर पर उनकी क्लास भी ली जा रही है, जिससे वे पढऩे के लिए एक जगह पर कुछ देर बैठ सके। इसके साथ ही पैरेंट्स काउंसलर की मदद भी ले रहे हैं।

बच्चों की च्वॉइस का रखा जा रहा ध्यान
बच्चों के स्कूल को लेकर पैरेंट्स की तैयारियां भी शुरू हो गई है। क्योंकि बच्चे अब नई क्लास में जाएंगे। उनके ड्रेस से लेकर कॉपी किताब और बैग तक की परचेजिंग भी शुरू हो चुकी है। मार्केट भी इसके लिए तैयार हो चुका है। पैरेंट्स भी बच्चों के स्कूल से जुड़े सामान के लिए मार्केट पहुंचने लगे हैं। परचेजिंग के साथ ही बच्चों की च्वॉइस का भी ध्यान रखा जा रहा है।

फ्रोजन कैरेक्टर बैग की 30 परसेंट बढ़ी डिमांड
स्कूल बैग में बच्चों के बीच इन दिनों सबसे ज्यादा फ्रोजन कैरेक्टर वाले स्कूल बैग की डिमांड बढ़ गई है। पहले तक केवल छोटा भीम, मोटू-पतलू, स्पाइडर मैन और बॉर्बी डॉल वाले कैरेक्टर ही पसंद किए जाते थे, लेकिन इन दिनों अब फ्रोजन कैरेक्टर ज्यादा पसंद आ रहे हैं। इनकी डिमांड हर साल की अपेक्षा इस वर्ष 30 परसेंट तक बढ़ी है।

पैरेंट्स की परचेजिंग शुरू
नए सेशन का उत्साह बच्चों में जबरदस्त दिखाई दे रहा है, क्योंकि उनके बीच नई कक्षा, नई किताबें, नई कॉपियां, नए बैग को लेकर जाने का उत्साह है। सभी स्टेशनरी शॉप में स्टॉक मंगवा लिए गए हैं। पैरेंट्स भी खरीदारी में जुट गए हैं, ताकि समय रहते वह सभी किताबें खरीद पाएं, क्योंकि बाद में किताबों की शॉर्टेज हो जाती है।

Mahesh Gupta
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned