कथावाचक के अपहरणकर्ताओं ने किया खुलासा

6 साल पहले मुरार से चचेरे भाई का अपहरण कर की थी हत्या
6 साल बाद हुआ अंधे कत्ल और अपहरण का खुलासा
मुरार पुलिस ने मांगा रिमांड पर मांगा, प्रोटेक्शन वारंट पर पूछताछ के लिए लाएगी

By: prashant sharma

Updated: 30 Jun 2020, 05:49 PM IST

ग्वालियर. कथा के बहाने वाचक को बुलाकर फिरौती के लिए उनका अपहरण कराने वाले गिरोह ने 6 साल पहले चचेरे भाई को भी मुरार से इसी तर्ज पर अगवा कर उसकी हत्या का खुलासा किया है। भिण्ड पुलिस के सामने जुर्म की नई परत हत्यारोपी अपहरणकर्ताओं ने खोली हैं, इसलिए अब मुरार पुलिस इन आरोपियों को रिमांड पर लाएगी। उनसे छात्र के अपहरण और हत्या के अंधे कत्ल में पूछताछ करेगी। इसकी कवायद शुरू कर दी है। कोर्ट से आरोपियों का प्रोटेक्शन वारंट मांगा गया है।
पुलिस ने बताया कि मुरार से करीब 6 साल पहले अनुभव शर्मा 16 को अगवा कर हत्या की गई थी। अनुभव पिपरसाना गांव निवासी नाथूराम शर्मा का बेटा था।ड्ड उसे पढ़ाने के लिए पिता गणेशपुरा मुरार किराए का मकान लेकर रहते थे। अनुभव को चचेरा भाई मनोज शर्मा ने मामा के बेटे पंकज के साथ मिलकर अपहरण किया था। मनोज उसे घर से बाजार ले जाने के बहाने ले गया था। उसके बाद अनुभव का पता नहीं चला। मुरार पुलिस ने केस दर्ज किया था लेकिन अनुभव को नहीं ढूंढ पाई थी। छह साल बाद केस की फाइल उठाकर रख दी थी। गोहद पुलिस ने पिपरसान गांव से ही हाल में 17 जून कथावचक सतीश शर्मा को फिरौती के लिए अगवा करने में मनोज शर्मा, पंकज, विवेक और करु गुर्जर को पकड़ा है। पूछताछ में आरोपियों ने खुलासा किया सतीश को अगवा कर शताब्दीपुरम में ठिकाने पर रखा था। वहीं से सतीश के पिता रमेश शर्मा से 30 लाख की फिरौती मांगी थी। इसके अलावा छह साल पहले नाथूराम शर्मा के बेटे अनुभव को भी अगवा किया था। अगवा कर उसकी हत्या कर दी थी। फिर नाथूराम शर्मा से बेटे की रिहाई के एवज में 40 लाख रुपए मांगे थे।
खुलासे पर मुरार पुलिस करेगी पूछताछ
मुरार टीआइ अमित भदौरिया ने बताया अनुभव शर्मा के अपहरण और हत्या का खुलासा होने पर आरोपियों को रिमांड पर लिया जाएगा। इसके लिए कोर्ट से प्रोटेक्शन वारंट मांगेगे। अंधे कत्ल और अपहरण की वारदात में आरोपियों से पूछताछ की जाएगी। अनुभव को अगवा और हत्या करने में पकड़े गए आरोपियों के अलावा और कौन शामिल था पूछताछ में ही सामने आएगा।

prashant sharma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned