ड्रेस के लिए डेढ़ लाख साड़ी का ऑर्डर था, लेकिन दलालों की वजह से करना पड़ा कैंसिल

-प्रदेश की आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के लिए नए सिरे से होगी ड्रेस की प्रक्रिया
-मंत्री ने कहा, दलाली प्रथा बंद करने की ओर बढ़ा रहे हैं कदम

By: Dharmendra Trivedi

Published: 03 Dec 2019, 10:49 AM IST

 

ग्वालियर। प्रदेश की आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं की वर्तमान ड्रेस ज्यादा अच्छी नहीं लगती है, मैं इसको बदलने की कोशिश कर रही हूं, इसकी तैयारी भी हो चुकी थी और गुजरात से डेढ़ लाख साडिय़ों के लिए ऑर्डर भी हो चुका था, लेकिन बीच में कुछ दलाल टाइप लोगो ंने थोड़ा घिनौना काम कर दिया, इस ऑर्डर में कुछ गड़बड़ हुई है तो दलालों की वजह से मैंने पूरा ऑर्डर ही कैंसल कर दिया। मैं हमारी महिलाओं की ड्रेस बदलना चाहती हूं और जल्दी से जल्दी नई ड्रेस अपनी बहनों को दूंगी। यह बात प्रदेश की महिला बाल विकास मंत्री इमरतीदेवी सुमन ने बाल भवन में मातृ वंदना कार्यक्रम के दौरान कही है।
दरअसल, मंत्री इमरती देवी ग्वालियर में नगर निगम मुख्यालय के पास बाल भवन में प्रधानमंत्री मातृ वंदना सप्ताह कार्यक्रम की शुरुआत करने के लिए आई थीं। कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि योजना के तहत प्रदेश के 8 लाख 53 हजार का लक्ष्य रखा गया था, इसमें से 14 लाख 36 हजार हितग्राहियों को लाभान्वित करने का काम जारी है। इस सप्ताह के दौरान जो हितग्राही छूट गए हैं, उनको चिन्हित करके लाभ दिलाया जाएगा।

इस दौरान जब आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और सहायिकाओ ंकी ड्रेस बदले जाने के मुद्दे पर उन्होंने बोलना शुरू किया तो पिछली सरकार पर जमकर प्रहार किया। उन्होंने दलाली प्रथा को लेकर कहा कि बीते 15 साल के दौरान प्रदेश में दलाली प्रथा हावी हो गई थी, इस दलाली प्रथा को उन्होंने हटा दिया है,अब जो दलाल सक्रिय हैं, उनको भी हटा दिया जाएगा। पूर्व में आंगनवाडिय़ों में भूसा और कंडे भरे मिलते थे, इस स्थिति में भी परिवर्तन किया गया है अब केन्द्र खुल रहे हैं और बच्चों को पोषण आहार भी मिल रहा है।

दलालों पर कार्रवाई को लेकर मंत्री ने कहा कि मैं अपना काम अपने तरीके से कर रही हूं, गलत काम करने वालों पर कार्रवाई जारी है। बीते दिनों बीना में दलिया बेचने वाले, खरीदने वाले सहित तीन लोगों पर एफआईआर कराई है। भिंड में भी अपने ही विभाग के लोगों पर एफआईआर कराई है, सस्पेंड किया है, यह कार्रवाई आगे भी जारी रहेगी।

Dharmendra Trivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned