scriptThings are normal in Ukraine, we are safe, don't worry | यूक्रेन में हालात एकदम सामान्य, हम सुरक्षित हैं फिक्र न करें | Patrika News

यूक्रेन में हालात एकदम सामान्य, हम सुरक्षित हैं फिक्र न करें

- रूस-यूक्रेन विवाद : मध्यप्रदेश सहित दूसरे राज्यों के छात्र बोले यहां हालात एकदम सामान्य

ग्वालियर

Published: February 18, 2022 10:59:40 am

ग्वालियर. रुस के साथ युद्ध छिडऩे की आशंका के बीच भले ही भारत सरकार ने भारतीयों को यूक्रेन छोडऩे की सलाह दी हो लेकिन वहां मेडिकल की पढ़ाई कर रहे मध्यप्रदेश सहित दूसरे राज्यों के छात्रों में डर जैसी कोई बात नहीं है। पत्रिका ने यूक्रेन में ट्रेनोपॉल यूनिवर्सिटी के छात्रों से बात कर वहां के ताजा हालात जाने तो उनका कहना था कि यहां सबकुछ पहले की तरह ही सामान्य है। उनकी क्लासेस भी पहले की तरह हर रोज ऑफलाइन ही लग रही हैं। मॉल, थियेटर, फूड सभी कुछ पहले की तरह खुल रहे हैं। यही कारण है कि ये सभी छात्र फिलहाल भारत आने के मूड में नहीं हैं। हालांकि इनके माता-पिता हालातों को देखते हुए थोड़े डरे-सहमे हैं फिर भी ये छात्र रोजाना उन्हें फोन पर अपडेट देने के साथ-साथ सकारात्मक रहने की सलाह भी दे रहे हैं।
यूक्रेन में हालात एकदम सामान्य, हम सुरक्षित हैं फिक्र न करें
यूक्रेन में हालात एकदम सामान्य, हम सुरक्षित हैं फिक्र न करें
मेडिकल की पढ़ाई के लिए जाते हैं यूक्रेन
यूक्रेन और उसके पास के कुछ देशों में मेडिकल कोर्स चलाने वाले संस्थानों की संख्या काफी अधिक है। वहां चयन भी सरलता से हो जाता है। इसके अलावा यह भारत की तुलना में सस्ता भी पड़ता है, इसलिए छात्र वहां जाते हैं। वहां से डिग्री लेकर आने के बाद भी छात्रों को भारत में एक परीक्षा पास करनी होती है। इसके बाद वे भारत में प्रेक्टिस कर सकते हैं।
यूनिवर्सिटी कर रही पूरा सपोर्ट
यहां ऐसा कुछ भी नहीं है जिससे डरा जाए, इसलिए मेरा घर जाने का मन बिलकुल भी नहीं है। हमारी यूनिवर्सिटी पूरा सपोर्ट कर रही है। यूनिवर्सिटी ने यह भी बोला है कि यदि आप जाना चाहते हैं तो जा सकते हैं और री वर्क के लिए किसी तरह का कोई चार्ज भी नहीं किया जाएगा। री वर्क को ऑनलाइन इंडिया में ही करा देंगे। पहले मेरी मम्मी ने वापस इंडिया आने के लिए कहा था पर बाद में मैंने उन्हें समझाया तो वह मान गईं और अपनी स्टडी पर फोकस करने के लिए कह दिया। यहां सबकुछ पहले जैसा ही है। पब्लिक ट्रांसपोर्ट से लेकर सबकुछ चल रहा है, दामों में भी कोई बढ़ोतरी नहीं हुई है।
- शीतल अंतिमा गुप्ता, ग्वालियर (मध्यप्रदेश)
सिर्फ 15 दिन के लिए जाउंगा
परिजनों के कहने पर शुक्रवार को इंडिया के लिए रवाना हो रहा हूं, लेकिन सिर्फ 15 दिन के लिए इंडिया जाउंगा। मेरा यहां से जाने का बिल्कुल भी मन नहीं है। सिर्फ घरवालों के टेंशन के कारण कुछ दिन के लिए जाना पड़ रहा है। यहां पर डरने जैसा कुछ भी नहीं है। यूनिवर्सिटी के डीन ने भी हमें कहा है कि किसी को परेशान होने की जरूरत नहीं है। लोग यहां पहले की तरह खा-पी रहे हैं, पार्टियां कर रहे हैं। कोविड-19 के चलते पहले जैसा माहौल था, वैसा भी नहीं है।
- अभि मल्होत्रा, चंडीगढ़ (पंजाब)
90 फीसदी बच्चे वापस नहीं जाना चाहते हैं
पहले और अब के माहौल में कोई अंतर नहीं है। हम सारे छात्र जब यू-ट्यूब पर न्यूज सुन रहे हैं, तो हंस रहे हैं। यहां ऐसा कुछ भी नहीं है। सबकुछ पहले जैसा सामान्य है। हमारी क्लासेस रोज की तरह ही ऑफलाइन लग रही हैं। हालांकि परिजन और दोस्त बार-बार फोन करके यहां के हालातों के बारे में पता कर रहे हैं। मैं तो अभी भारत नहीं जाउंगा, 90 फीसदी बच्चे वापस नहीं चाहते हैं। सिर्फ घरवालों के डर के कारण वापस जा रहे हैं।
- हर सिमरन सिंह, दिल्ली
ऑफलाइन ही हो रहीं क्लासेस
ऐसा बताया गया था कि यहां अमेरिकन सैनिकों का दल आ चुका है जबकि ऐसा कुछ भी नहीं है। जो कुछ भी है यूक्रेन के बाहर पोलेंड के आसपास ही है। लोगों को घर पर रहने के लिए भी नहीं बोला गया है। सभी क्लासेस भी ऑफलाइन ही हो रही हैं। हम रोजाना की तरह पढ़ाई, शॉपिंग आदि काम कर रहे हैं। रोजाना यूनिवर्सिटी सभी छात्रों को इ-मेल से हालातों के बारे में अपडेट कर रही है। यदि हालात गड़बड़ होते हैं तो यहां से तुरंत भेजने की व्यवस्था भी की गई है। मैं तो 15 दिन पहले ही इंडिया से आया हूं, अभी रोजाना माता-पिता से बात करके उन्हें यहां के बारे में बताता हूं।
- अब्दुल कादिर खान, भीलवाड़ा (राजस्थान)
बुधवार को यूनिटी डे मनाया था
मैं यूके्रन में पिछले चार साल से हूं। यहां के हालात आम जनता के हिसाब से बिल्कुल सामान्य है। बुधवार को यहां यूनिटी डे मनाया गया, इसमें सभी लोगों ने सार्वजनिक रूप से नेशनल एंथम गाया। इंडिया में परिजन जरूर चिंतित हैं, पर उन्हें समझा देता हूं कि यहां इंडिया, पाकिस्तान, नाइजीरिया, अफ्रीका, सीरिया, नेपाल आदि जगहों के करीब एक लाख बच्चे मौजूद हैं। दो दिन पहले सायबर अटैक के बाद बैंकों में कामकाज कुछ समय के बंद रहा था पर अभी सामान्य है।
- मनु चहल, कुरुक्षेत्र, (हरियाणा)

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

यहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतियूपी में घर बनवाना हुआ आसान, सस्ती हुई सीमेंट, स्टील के दाम भी धड़ामName Astrology: पिता के लिए भाग्यशाली होती हैं इन नाम की लड़कियां, कहलाती हैं 'पापा की परी'इन 4 राशियों के लड़के अपनी लाइफ पार्टनर को रखते हैं बेहद खुश, Best Husband होते हैं साबितजून में इन 4 राशि वालों के करियर को मिलेगी नई दिशा, प्रमोशन और तरक्की के जबरदस्त आसारमस्तमौला होते हैं इन 4 बर्थ डेट वाले लोग, खुलकर जीते हैं अपनी जिंदगी, धन की नहीं होती कमी1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्ससंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजर

बड़ी खबरें

पंजाब CM भगवंत मान ने स्वास्थ्य मंत्री को भ्रष्टाचार के आरोप में किया बर्खास्तकांग्रेस की Task Force-2024 और पॉलिटिकल अफेयर्स कमिटी का ऐलान, जानिए सोनिया गांधी ने किन को दिया मौकापाकिस्तान ने भेजी है विषकन्या: राजस्थान इंटेलिजेंस ने सेना को तस्वीरें भेज कर किया अलर्टकुतुब मीनार केसः साकेत कोर्ट में दोनों पक्षों की दलीलें पूरी, 9 जून को अदालत सुनाएगी फैसलाPooja Singhal Case: झारखंड की 6 और बिहार के मुजफ्फरपुर में ED की एक साथ छापेमारी, अहम सुराग मिलने की उम्मीदश्रीलंका में फिर बढ़ी पेट्रोल-डीजल की कीमत, 420 रुपए प्रति लीटर पेट्रोल तो 400 रुपए में मिल रही एक लीटर डीजलकर्नाटक के पूर्व सीएम सिद्धारमैया का विवादित बयान, 'मैं हिंदू हूं, चाहूं तो बीफ खा सकता हूं..'सबसे आगे मोदी, पीछे से बाइडेन सहित अन्य नेता, QUAD Summit से आई PM मोदी की ये तस्वीर वायरल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.