धड़ल्ले से चल रहा अवैध ई-टिकट बनाने का कारोबार, पांच स्थानों पर छापा मारा तो मिले लाखों के टिकट

धड़ल्ले से चल रहा अवैध ई-टिकट बनाने का कारोबार, पांच स्थानों पर छापा मारा तो मिले लाखों के टिकट

Rahul Aditya Rai | Updated: 14 Jun 2019, 08:09:34 PM (IST) Gwalior, Gwalior, Madhya Pradesh, India

लगातार इसकी शिकायतें मिलने पर आरपीएफ ने पांच स्थानों पर छापे मारकर लाखों के अवैध ई-टिकट बरामद किए

ग्वालियर। शहर में ई-टिकट का अवैध कारोबार खूब फलफूल रहा है। लगातार इसकी शिकायतें मिलने पर आरपीएफ ने पांच स्थानों पर छापे मारकर लाखों के अवैध ई-टिकट बरामद किए। आरपीएफ आईजी के निर्देश पर टीआई आनंद पांडेय द्वारा पांच टीमें बनाकर कार्रवाई की गई।

 

किलागेट सेवानगर में नितिन साइबर जोन पर छापा मारकर दिनेश कुशवाह पुत्र बाबूलाल कुशवाह को पकड़ा। उससे एक नया टिकट एवं 76,824 रुपए कीमत के 81 पुराने टिकट पकड़े हैं। किलागेट पच्ची पाड़ा गंज से ई-टिकट की दुकान से अनंत सिंघल पुत्र महेन्द्र सिंघल को पकड़ा है। उससे भविष्य की यात्रा के दो टिकट पकड़े हैं, जिनकी कीमत 4995 है। इसके अलावा पुराने टिकट 1 लाख 35 हजार 278 रुपए के बरामद किए हैं।


जीवाजीगंज में परदेशी ट्रैवल्स पर कार्रवाई कर सुरेन्द्र अग्रवाल पुत्र पूरणचंद्र अग्रवाल से एक टिकट 4710 रुपए का और 24 पुराने टिकट 61 हजार 390 रुपए के बरामद किए हैं। टेकनपुर में श्रीराम एमपी ऑनलाइन पर छापा मारकर सागर कुशवाह पुत्र लाल सिंह कुशवाह से भविष्य की यात्रा के 3270 रुपए के टिकट और 13 पुराने टिकट 22,242 रुपए के बरामद किए हैं। बहोड़ापुर स्थित अपना घर में पवन पटवार पुत्र अशोक पतवार के यहां से 3660 रुपए के टिकट पकड़े गए हैं।

 

कार्रवाई करने वाली टीमों में आरपीएफ के एसआई अमित मीणा, एके गोस्वामी, नंदलाला मीणा, टीआई पांडेय आदि शामिल थे। 2016 में भी की थी परदेशी पर कार्रवाईशहर के ई-टिकट कारोबारी परदेशी ट्रैवल्स के यहां 2016 में भी बड़ी कार्रवाई की गई थी। उस समय आरोपी कोर्ट से छूट गए थे, इसके बाद फिर यही काम कर यात्रियों को लूटने में लगे थे।

 

कार्रवाई जारी रहेगी
शहर व आसपास के क्षेत्रों में ई-टिकट का कारोबार काफी हो रहा है। इसको लेकर हमने कार्रवाई शुरू कर दी है। जल्द ही आसपास के क्षेत्रों से ओर भी लोग पकड़ में आएंगे।
आनंद पांडेय, टीआई आरपीएफ

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned