रविवार रात 11 बजे तिघरा के तीन गेट फिर खोले, 694.44 क्यूसेक पानी छोड़ा

रविवार रात 11 बजे तिघरा के तीन गेट फिर खोले, 694.44 क्यूसेक पानी छोड़ा

Gaurav Sen | Publish: Sep, 03 2018 12:14:07 PM (IST) Gwalior, Madhya Pradesh, India

रविवार रात 11 बजे तिघरा के तीन गेट फिर खोले, 694.44 क्यूसेक पानी छोड़ा

ग्वालियर। तिघरा बांध के तीन गेट रविवार रात को पौने ग्यारह बजे फिर खोले गए, जिनसे 694.44 क्यूसेक पानी छोड़ा गया। शनिवार को रात 9 बजे तीन गेट खोलकर 10 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा गया था, इसके बाद रात को एक बजे गेट बंद कर दिए गए थे। रविवार को गेट खोलने के निर्णय पर अफसर असमंजस की स्थिति में रहे, क्योंकि सबलगढ़ और श्योपुर के बीच चलने वाली नैरोगेज टे्रन के टै्रक पर खोजीपुरा के पास नदी का पानी भर गया था, इससे ट्रेन देरी से चल रही थी। इंजीनियरों का कहना था कि तिघरा से छूटने वाला पानी कई स्थानों पर नैरोगेज के ट्रैक को प्रभावित करता है। तिघरा में पानी करीब 738.50 फीट के लेवल तक पहुंच चुका है।

यहां और चाहिए पानी
उधर तिघरा भर जाने और गेट खुलने के बाद भी शहर के लोगों को रोज पानी नहीं मिलने पर सवाल लोग सवाल उठा रहे हैं। इसका जवाब तलाशने के लिए पत्रिका टीम ने पड़ताल की तो पाया कि अभी तक ककेटो बांध करीब 35 फीट खाली है, इसमें 25 फीट पानी आने से इसके ओवर वियर से पानी निकलना शुरू होगा, इसके लिए 1727 एमसीएफटी पानी और चाहिए, लेकिन तब तक यह बांध पानी की पूर्ति के लिए डेंजर जोन में है। साथ ही पहसारी बांध भी 11 फीट से अधिक खाली है, यहां पर भी 825 एमसीएफटी से अधिक पानी चाहिए।

देर शाम हुआ लेवल 738.50 फीट, ककेटो-पेहसारी खाली

तिघरा में पानी आने के बाद शनिवार को तीन गेट खोले गए थे इसके लिए रविवार को एक बार फिर तीन गेटों को खोल दिया गया।-पत्रिका

 

वर्तमान में बांधों का जल स्तर
क्षमता 740 फीट
वर्तमान 738.5 फीट
बांध दो बार 738 के पार जा चुका है। 100 साल पुराना होने से इस लेवल पर गेट खोलने की बात अफसर कह रहे हैं।

पानी

कुल क्षमता-4389.26 एमसीएफटी
वर्तमान में पानी-3978.55 एमसीएफटी
चाहिए-410.71 एमसीएफटी पानी
tighra water dam

नहीं दे सकते प्रतिदिन पानी
अभी ककेटो और पेहसारी बांध में पानी पर्याप्त नहीं पहुंचा है, इसके चलते प्रतिदिन पानी देने का निर्णय नहीं कर सकते।
आरएलएस मौर्य, अधीक्षण यंत्री पीएचई नगर निगम

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned