टल गया बड़ा ट्रेन हादसा, रेलगाड़ी से जा टकराया कैदियों से भरा पुलिस वाहन

ट्रेन की स्पीड काफी कम होने से एक बड़ा हादसा होते-होते बच गया। श्योपुर से आने वाली नैरोगेज शाम 5.55 बजे के आसपास

By: Gaurav Sen

Published: 10 Feb 2018, 12:54 PM IST

ग्वालियर। रामदास घाटी पर नैरोगेज ट्रेन पुलिस के वाहन से टकरा गई। ट्रेन की स्पीड काफी कम होने से एक बड़ा हादसा होते-होते बच गया। श्योपुर से आने वाली नैरोगेज शाम 5.55 बजे के आसपास रामदास घाटी पर पहुंची ही थी कि दूसरी साइड से सड़क पर एक पुलिस का वाहन कैदियों को लेकर जेल की ओर जा रहा था।

पुलिस का यह वाहन नैरोगेज के इंजन से जा टकराया। टक्कर होते ही नैरोगेज ट्रेन भी रूक गई। इसके बाद ट्रेन को पीछे करके पुलिस वाहन को पटरी से हटाया गया। इस हादसे को देखकर आसपास के लोग काफी संख्या में मौके पर मौजूद हो गए। ट्रेन और पुलिस वाहन के टकराने से आसपास जाम की स्थिति बन गई और आसपास के लोग सड़क पर आ गए। यह हादसा गुरूवार शाम का है। इससे पहले भी नैरोगेज की ट्रेन कई बार अपने ट्रेक से उतर चुकी है।


शहर में आ रहे हैं खास मेहमान : राज्यपाल आनंदीबेन और बिहार के सीएम पहुंचेंगे आज, राष्ट्रपति का आगमन कल

यह भी पढ़ें: विधानसभा चुनाव से पहले बुआ-भतीजे की किस्मत दांव पर! ये चुनाव करेगा भाग्य का फैसला

डॉक्टर पर नहीं थी बीपी मशीन, शताब्दी आधा घंटे रोकी
ग्वालियर । भोपाल से नईदिल्ली जा रही शताब्दी में शुक्रवार रात को डबरा-ग्वालियर के बीच में मुकुल गुप्ता भोपाल की तबीयत खराब हो गई। सूचना पर डॉक्टर पहुंच गए, डॉक्टर पर बीपी मशीन न होने पर यात्री ने डॉक्टर से दिल्ली तक चलने की कहा। लगा रेलवे ने ट्रेन चलाने की कोशिश की, लेकिन यात्रियों ने चेन पुलिंग क रके ट्रेन रोक दी। आधा घंटे खड़ी रहने के बाद रात 7.30 बजे आगरा की ओर रवाना हो सकी।

 

बड़ी खबर: 150 की स्पीड से दौड़ रहा था ट्रक जो आया सामने रौंद दिया,कमजोर दिल वाले न देखें वीडियो


शताब्दी, राजधानी में ट्रॉली से खाना

ग्वालियर। शताब्दी और राजधानी एक्सप्रेस में अब यात्रियों को गर्म खाना मिलेगा। आईआरसीटीसी ने वीआईपी ट्रेनों में ट्रॉली के माध्यम से यात्रियों को खाना-नाश्ता परोसने की व्यवस्था की है, जिससे यात्रियों को सीट पर ही खाना गर्म मिलेगा। इसके लिए आईआरसीटीसी ने परीक्षण शुरू कर दिया है। जल्द ही नई दिल्ली से भोपाल जाने वाली शताब्दी के साथ राजधानी में भी यात्रियों को ट्रॉली से ही भोजन मिलेगा। अभी तक कर्मचारी यात्रियों की सीट पर देने जाता है। एक ट्रॉली में लगभग ३५ थाली के आसपास यात्रियों तक एक साथ पहुंच सकेगी। शताब्दी, राजधानी में ट्रॉली से खाना

Gaurav Sen
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned