शहर की आवोहवा में जहर घोलते हुए पकड़े ४० वाहन

शहर की आबो-हवा में जहरीला धुआं घोल रहे ३८ टेंपो, लोडिंग वाहन व २ स्कूल बसों की फिटनेस निरस्त की गई है। बिना हेलमेट के दोपहिया वाहन चलाने वाले १६ चालकों के तीन महीने के लिए ड्राइविंग लाइसेंस निलंबित किए गए हैं।

 

ग्वालियर। परिवहन विभाग, यातायात पुलिस व प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने फूलबाग पर सुबह १०.३० से दोपहर १२.२० बजे तक संयुक्त अभियान चलाकर नियमों का उल्लंघन करने वाले वाहनों पर कार्रवाई की। परिवहन विभाग व ट्रैफिक के जवानों ने जहरीला धुआं छोड़ रहे टेंपो और लोडिंग वाहनों को पकड़ा। जांच के दौरान ६५ एचएसयू (हार्टेज्ड स्मोक यूनिट) से अधिक धुआं छोड़ते टेंपो और लोडिंग वाहन मिले। इस दौरान ४८ वाहनों की चेकिंग की गई, जिनमें ३८ का एचएसयू अधिक था। कई वाहनों के एचएसयू ८५ से ९५ तक मिले। परिवहन अफसरों ने इन वाहनों की मौके पर ही फिटनेस निरस्त की।

बिना हेलमेट के पकड़े दोपहिया वाहन चालक, तीन महीने के लिए लाइसेंस निलंबित
क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी डॉ.एमपीसिंह और एआरटीओ रिंकू शर्मा ने बिना हेलमेट चलने वाले दोपहिया वाहन चालकों को पकडऩे के निर्देश दिए। इस पर १६ दोपहिया वाहन चालकों के लाइसेंस जब्त कर तीन महीने के लिए निलंबित कर दिए।

बुलट से ११२ डेसीबल शोर

चैकिंग के दौरान दो बुलट चालक पकड़े गए। इनके वाहन में मॉडिफाइड साइलेंसर लगे थे। परिवहन टीम व यातायात डीएसपी नरेश अन्नोटिया ने इनकी जांच की, फिर प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के वैज्ञानिक आरके जैन ने ध्वनि मापक यंत्र से दोनों बुलट के साइलेंसरों से होने वाले ध्वनि प्रदूषण को मापा। एक वाहन द्वारा ११२ डेसीबल और दूसरे वाहन से ९८ डेसीबल ध्वनि प्रदूषण हो रहा था। बोर्ड के कार्यपालन यंत्री आरएस रोहिताश का कहना था कि ६५ डेसीबल से अधिक ध्वनि दोपहिया वाहन के साइलेंसर से नहीं निकलना चाहिए।

स्कूल प्रबंधन को भी नोटिस

इसके बाद टीम प्रगति विद्यापीठ स्कूल पहुंची। यहां परिवहन टीम ने दो बसों की जांच की। कई खामियां मिलने पर दोनों की फिटनेस निरस्त कर दी। इसके अलावा स्कूल में छात्रों को लाने ले जाने में संलग्र वाहनों को सिरोल पहाड़ी स्थित आरटीओ कार्यालय लाकर जांच कराने के लिए नोटिस दिया गया।

वाहनों की चैंकिंग के लिए परिवहन विभाग यातायात पुलिस के सहयोग से कार्रवाई जारी रहेगी। बुलट चालक, टेंपो नियम विरुद्ध चलने पर और बिना हेलमेट दो पहिया वाहन चलाने वालों के लाइसेंस निलंबित होंगे।
डॉ. एमपी सिंह, क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी

Pawan Dixit
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned