लक्ष्मीबाई का शौर्य और तानसेन के राग सुनाएंगी दीवारें

इसके लिए स्मार्ट सिटी के जरिए काम होगा। दीवारों का चयन जल्द किया जाएगा। कलेक्टर अनुराग चौधरी ने इसके निर्देश दिए हैं।

ग्वालियर। शहरवासियों और पर्यटकों को वीरांगना महारानी लक्ष्मीबाई के शौर्य और संगीत सम्राट तानसेन की सुर साधना से परिचित कराने के लिए दीवारों पर चित्र उकेरे जाएंगे। साथ ही एक दीवार पर योग के आसन भी प्रदर्शित किए जाएंगे। इसके लिए स्मार्ट सिटी के जरिए काम होगा। दीवारों का चयन जल्द किया जाएगा। कलेक्टर अनुराग चौधरी ने इसके निर्देश दिए हैं।

उल्लेखनीय है कि वीरांगना लक्ष्मीबाई की समाधि पर लगे शिलालेख में उनकी शौर्य गाथा को गलत ढंग से परिभाषित किया गया था, इस ऐतिहासिक गलती को लेकर पत्रिका ने प्रमुखता से समाचार प्रकाशित कर मुहिम छेड़ी थी, जिसके बाद शिलालेख को हटाया गया। इस मुहिम में शहर के संगठनों ने भी ज्ञापन दिए थे, अब वीरांगना की गाथा को चित्रों के जरिए दीवारों पर प्रदर्शित करने की प्लानिंग पर काम शुरू किया गया है, ताकि लोगों को उनका संघर्ष आसानी से समझाया जा सके।

दीवारें बताएंगी इतिहास
-प्रथम स्वतंत्रता संग्राम में वीरांगना लक्ष्मीबाई ने अंग्रेजों के छक्के छुड़ा दिए थे। ग्वालियर में वीरता से लड़ते हुए उन्होंने वीरगति पाई थी। उनकी शौर्य गाथा को चित्रों के माध्यम से दीवार पर प्रदर्शित किया जाएगा। इसके लिए समाधि स्थल के आसपास के क्षेत्र को चिह्नित किया जा सकता है।


-मुगल बादशाह अकबर के दरबार के नवरत्नों में शामिल संगीत सम्राट तानसेन की संगीत की साधना का क्षेत्र ग्वालियर और बेहट में ज्यादा रहा है। उनका मकबरा हजीरा में है, इसके आसपास तानसेन की संगीत गाथा चित्रों के माध्यम से दीवारों पर उकेरी जाएगी।


-योग को आमजन तक पहुंचाने के लिए सूर्य नमस्कार के 12 आसन मूर्तियों के जरिए समझाने के लिए मेला ग्राउंड के पास स्थित तिराहे पर प्रतिमा स्थापित हैं। अब योग से संबंधित अन्य आसन चित्रों के माध्यम से प्रदर्शित किए जाएंगे, ताकि लोग आसानी से समझ सकें।

बनेंगे स्मार्ट स्कूल और शौचालय
-शहर के चार स्थानों पर सभी आधुनिक सुविधाओं से लैस शौचालय बनाए जाएंगे।
-नगर निगम सीमा में स्थित चार सरकारी स्कूलों को आधुनिक बनाया जाएगा, इन स्कूलों में बच्चों की पढ़ाई के लिए सभी संसाधन उपलब्ध कराए जाएंगे।



ग्वालियर की पहचान संगीत सम्राट तानेसन और वीरांगना लक्ष्मीबाई की गौरव गाथा चित्रों के माध्यम से दीवारों पर प्रदर्शित की जाएगी, इससे युवा पीढ़ी, स्कूली बच्चों व पर्यटकों को समझने में आसानी होगी। इसके लिए दीवारों का चयन होना है।
अनुराग चौधरी, कलेक्टर

Rahul rai
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned