जल संकट के बीच राहत की खबर: 10 साल बाद फिर ककेटो से पानी की लिफ्टिंग, जनवरी में तिघरा से मिलेगा

आखिरकार 10 साल बाद एक बार फिर जल संकट से शहर को बचाने के लिए ककेटो बांध से पानी की पंपिंग शुरू कर दी गई है।

By: Gaurav Sen

Published: 14 Nov 2017, 11:09 AM IST

ग्वालियर। आखिरकार 10 साल बाद एक बार फिर जल संकट से शहर को बचाने के लिए ककेटो बांध से पानी की पंपिंग शुरू कर दी गई है। ककेटो का पानी मंगलवार तक पहसारी बांध में स्टोर होना शुरू हो जाएगा। जहां जनवरी तक पानी को पंप करके स्टोर किया जाएगा। इसके बाद जनवरी फरवरी 2018 में पानी को तिघरा के लिए छोड़ा जाएगा। वहीं वर्तमान जल संकट को एक दिन छोड़कर पानी देने पर जून 2018 तक टाला जा सकेगा। अगर इस बीच बरसात नहीं हुई तो शहर के भयावह हालात हो जाएंगे क्योंकि शहर में मानसून देरी से आता है। ऐसे हालात में जल संकट से कैसे निपटेंगे इस पर भी मंथन शुरू हो गया है।


परिषद की बैठक में दो दिन छोड़कर पानी देने पर चर्चा हुई थी। अगर दो दिन छोड़कर पानी देने का निर्णय निगम कर पाती है तो अगले साल नवंबर माह तक पानी की पूर्ति की जा सकती है। इसके लिए निगम कोर्ट में जाने की तैयारी भी कर रही है। सोमवार को महापौर विवेक शेजवकर ने ककेटो बांध पहुंचकर पंपिंग मशीन का बटन दबाकर शुरू की। इस दौरान सभापति राकेश माहौर, निगमायुक्त विनोद कुमार शर्मा, एमआईसी सदस्य सतीश बोहरे, धर्मेन्द्र राणा, धर्मेन्द्र सिंह गुडडू तोमर, खेमचंद गुरवानी, नीलिमा शिन्दे, जल संसाधन विभाग के मुख्य अभियंता एनपी कोरी, अधीक्षण यंत्री आरएलएस मौर्य, आरएन करैया, एके सिंघल, जलसंसाधन विभाग के एसडीओ राजेश मिश्रा आदि मौजूद रहे।

 

 

* पानी पंपिंग के दौरान निरीक्षण के लिए नगर निगम, जिला प्रशासन और पुलिस अधिकारियों का दल भ्रमण कर कार्य की मॉनीटरिंग करेगा।

* कैकेटो डेम पर पंपिंग के दौरान लाइट की व्यवस्था के लिए निगम की ओर से सोलर पैनल द्वारा जा रही है। इसके साथ ही सुरक्षा के लिए भी पुलिस अधीक्षक से चर्चा कर व्यवस्था की जा रही है।

* जलसंसाधन विभाग के सहयोग के लिए निगम के अधिकारियों को भी पंपिग के दौरान तैनात किया गया है।


तिघरा तक पानी पहुंचने पर यह होगा पानी का गणित७२१ फीट है तिघरा का वर्तमान वाटर लेवल, 1273 एमसीएफ टी पानी उपलब्ध है तिघरा में 1200 एमसीएफटी पानी के मिल जाने से २४७३ पानी बचेगा इससे करीब 30 प्रतिशत 741 पानी बांध के लीकेज और सीपेज में चला जाएगा। 238 एमसीएफटी पानी डेड स्टोरेज में जाने से शहर के लिए कुल बचा १४९४ एमसीएफटी पानी मिलेगा शहर को एक दिन छोड़कर 229 दिन 18 जून2018 तक पानी मिलेगा। दो दिन छोड़कर 373 दिन 21 नवंबर 2018 तक पानी मिलेगा।

caceto damcaceto damcaceto damcaceto damcaceto dam
Show More
Gaurav Sen
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned