आप FACEBOOK बातें करते हो, लेकिन ये लोग करते थे बंदूकों का धंधा, ये थी TRICK

आप FACEBOOK बातें करते हो, लेकिन ये लोग करते थे बंदूकों का धंधा, ये थी TRICK

Gaurav Sen | Publish: Jun, 14 2018 02:45:27 PM (IST) Gwalior, Madhya Pradesh, India

आप FACEBOOK बातें करते हो, लेकिन ये लोग करते थे बंदूकों का धंधा, ये थी TRIK

ग्वालियर। शहर में गुंडों को कट्टे, रिवाल्वर सप्लाई करने वाले दो सौदागर पकड़े गए हंैं। सप्लायर सोशल मीडिया के जरिए अवैध हथियारों की मार्केटिंग करते थे। हथियारों की नई खेप आने पर सप्लायर फेसबुक पर उसके फोटो अपलोड कर खरीदारों को बता देते थे कि उनके स्टॉक में कौन से हथियार हैं। बुधवार को दोनों हथियार सप्लाइ करने आए थे उनकी मौजूदगी पता चलते ही पुलिस ने उन्हें धर दबोचा। उनका बैग खंगाला तो उसमें ५ कट्टे, ६ कारतूस और 40 हजार रुपए मिले।

 

MP BOARD RESULT 2018: 10 वीं 12 वीं का परीक्षा परिणाम हुआ घोषित, एक क्लिक पर देखें अपना RESULT

गोला का मंदिर टीआई अमित भदौरिया ने बताया सूर्य मंदिर से आर्मी फार्म के पास रवि वंशकार निवासी गोला का मंदिर और राहुल पाराशर निवासी पनिहार बैग में ४ कट्टे लेकर आए थे। इस ठिकाने पर उनका ग्राहक आने वाला था। लेकिन उससे पहले पुलिस पहुंच गई तो दोनों पकड़ गए। दोनों ने इंट्रोगेशन में खुलासा किया हथियार भिण्ड, इटावा और आसपास के इलाकों से अवैध हथियारों की खेप आती है। उनका काम शहर में कट्टे, रिवाल्वर खपाना है। इसलिए अपने पास स्टॉक में हमेशा 5-6 कट्टे और कारतूस रखते हैं। हथियारों की डील कर फेसबुक पर हथियार का फोटो दिखाते हैं। सौदा पटने पर ठिकाने से हथियार लाकर खरीदार को थमाते हैं।

बिग ब्रेकिंग: शिवपुरी हाइवे पर गैस टैंकर हुआ दुर्घटनाग्रस्त, 17 टन गैस घुली हवा में, लोग घर छोड़कर भागे

बिचौलिया लाकर देता है खेप
पुलिस के मुताबिक रवि और राहुल ने शहर के बाहर से हथियार भेजने वाले कई सौदागरों के नाम बताए हैं। दोनों का कहना है उनकी डीलिंग सौदागर के एजेंट से है। स्टॉक खत्म होने पर उसे ही ऑर्डर देते हैं। सरगना से वही हथियारों की खेप लाकर देता है। एक तमंचे पर करीब डेढ़ हजार रुपए तक मुनाफा होता है।

 

mp board result 2018 का रिजल्ट घोषित, ये है वे छात्र जिन्होंने किया टॉप, देखें पूरी लिस्ट

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned