न्यायालय की जमीन पर कब्जा...जाने फिर क्या हुआ

न्यायालय की दो बीघा जमीन पर किए गए कब्जे को गिराने जब प्रशासनिक अमला पहुंचा तो कब्जेधारियों की एक नहीं चली...

ग्वालियर. सरकारी या गैरसरकारी जमीन पर कब्जा करते करते दबंग अब न्यायालय की जमीन पर भी कब्जा जमाने लगे हैं। एक कब्जे से प्रशासन ने कार्यवाही करके जिला न्यायालय के नए भवन के आसपास की लगभग 2 बीघा जमीन मुक्त करा ली। दोपहर से लेकर शाम तक जारी रही कार्यवाही के दौरान शुरुआत में कुछ लोगों ने बहस करने की कोशिश की लेकिन बाद में प्रशासनिक सख्ती ने सभी के कस बल ढीले कर दिए।

दरअसल, जिला न्यायालय के नए भवन का निर्माण कलेक्ट्रेट पहाड़ी के पास किया जा रहा है। इस भवन का निर्माण लगभग पूरा हो चुका है,लेकिन पौने चार हैक्टेयर की जगह में विस्तार लिए भवन के दायीं ओर की लगभग दो बीघा जमीन पर डॉ अरविंद दुबे, अशोक गुप्ता, अनिल तायल सहित आठ अन्य लोगों का कब्जा था। कब्जाई जमीन पर लोगों ने बाउंड्री भी बना ली थी। इस अतिक्रमण को हटाने के लिए पूर्व में प्रशासन ने नोटिस जारी किए थे लेकिन किसी ने भी सरकारी नोटिस पर ध्यान नहीं दिया। इसके बाद रविवार को कलेक्टर अनुराग चौधरी के निर्देश पर एसडीएम अनिल बनवारिया और तहसीलदार शिवानी पांडेय की अगुवाई में जेसीबी की मदद से ढाई से तीन घंटे की कार्यवाही में बाउंड्री को तोडकऱ पूरी जगह मुक्त करा ली। इसके बाद यह जगह न्यायालय के अधिकारियों की सुपुर्दगी में भी दे दी गयी है।

Show More
राजेश श्रीवास्तव
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned