छेड़छाड़ से दुखी होकर पड़ोसन ने किया था सुसाइड, जानिए क्या है पूरा मामला

होली पर बाप, बेटे ने की थी हरकत : पति, पत्नी सहित बेटे पर एफआईआर

By: monu sahu

Published: 01 Jul 2019, 05:50 PM IST

ग्वालियर। कृष्णानगर पहाड़ी पर खुद को आग लगा चुकी नवविवाहिता के सुसाइड केस में उसके पड़ोसियों की होली पर घर में घुसकर उसके साथ छेडख़ानी वजह रही है। रंग लगाने के बहाने बाप बेटे ने नवविवाहिता के साथ हरकतें की थीं। उसका पति विरोध नहीं करे इसलिए उसके कमरे की कुंडी बाहर से लगा दी थी। इससे नवविवाहित शर्मसार हुई थी और उसने घटना के कुछ देर बाद अपने ऊपर मिट्टी का तेल छिडकक़र आग लगा ली थी। लंबी जांच में सामने आया है कि पति और बेटे की इस हरकत को शह देने में पड़ोसन भी शामिल थी। इसलिए पुलिस ने पति, पत्नी और बेटे को नवविवाहिता की मौत का दोषी मान कर तीनों पर एफआइआर की है।

 

इसे भी पढ़ें : मृत पति के क्लेम सेटलमेंट की स्पीड पोस्ट डाकिए ने पत्नी को नहीं दी, बोला- जिसके नाम से आई है डाक उसी को देंगे

महाराजपुरा सीएसपी रवि भदौरिया ने बताया बमरौली, मुरैना निवासी ब़ृजेश श्रीवास की शादी चार साल पहले 30 अप्रैल को लक्ष्मी से हुई थी। बृजेश ने मजदूरी करने के लिए पत्नी सहित कृष्णा नगर पहाड़ी, पुरानी छावनी पर रहने लगा था। यहां पड़ोस में जण्डेल श्रीवास, उसकी पत्नी मनोज और बेटे अजय से उसके घरेलू ताल्लुक हो गए। मोहल्ले के नाते बृजेश ने मनोज को मुंहबोली बहन बना लिया। 21 मार्च को होली के दिन बृजेश कमरे में था। तब जण्डेल, उसकी पत्नी मनोज और बेटा अजय तीनों घर में घुस आए।

 

इसे भी पढ़ें : Breaking : कांग्रेस के युवा विधायक ने फुटपाथ पर लगाई दुकान, 80 रुपए में बेचा दुपट्टा

 

बृजेश के कमरे की कुंदी बाहर से बंद कर दी। फिर उसकी पत्नी लक्ष्मी को दूसरे कमरे में घेर लिया। मनोज की मौजूदगी में जण्डेल और उसके बेटे अजय ने लक्ष्मी के साथ होली के बहाने अश्लील हरकतें कीं। लक्ष्मी ने तमाम विरोध किया,मनोज से कहा कि वह पति और बेटे को रोके, लेकिन बाप बेटे नहीं माने। रंग खेलने की आड़ में उसे तंग करते रहे। पत्नी के शोर मचाने पर बृजेश कुंदी तोडकऱ बाहर निकला तो तीनों भाग गए।

इसे भी पढ़ें : फ्री में नहीं मिला देसी चिकन, तो पड़ोसी ने मारे पांच मुर्गे, मालकिन ने दर्ज कराया केस

पड़ोसियों की इस हकरत से लक्ष्मी व्यथित हो गई। उसने कुछ देर बाद अपने ऊपर मिट्टी का तेल डालकर आग लगा ली। बृजेश ने पत्नी को गंभीर हालत में इलाज के लिए जेएएच में भर्ती कराया। जिदंगी से जूझ रही लक्ष्मी ने मरणासन्न कथन में नायब तहसीलदार को बताया कि मनोज,जण्डेल और अजय ने उसके साथ जो हरकत की है उससे वह ग्लानी महसूस कर रही थी इसलिए आग लगाई वह चाहती है कि तीनों को उनके किए की सजा मिले। कुछ दिन इलाज के बाद 30 अप्रैल को लक्ष्मी की मौत हो गई।

इसे भी पढ़ें : ढाबे पर बैठे युवक पर बाइक सवार बदमाशों ने बरसाई गोलियां, अस्पताल में मौत

केस की जांच में भी यही सामने आया कि पति, पत्नी और बेटे की अश्लील हरकतों की वजह से लक्ष्मी ने सुसाइड किया है। इसलिए तीनों पर उसके साथ छेडख़ानी, आत्महत्या के लिए प्रेरित करने का केस दर्ज किया है।

monu sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned