आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग लेकर कोतवाली पहुंचे अधिवक्ता

Mahendra Pratap

Publish: Mar, 14 2018 02:08:22 PM (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग लेकर कोतवाली पहुंचे अधिवक्ता

जनपद के राठ नगर के मुहाल सिकन्दरपुरा निवासी अधिवक्ता संघ के पूर्व अध्यक्ष हरीशंकर रावत के घर पर कुछ दबंग युवकों ने फायरिंग की थी।

हमीरपुर. जनपद के राठ नगर के मुहाल सिकन्दरपुरा निवासी अधिवक्ता संघ के पूर्व अध्यक्ष हरीशंकर रावत के घर पर कुछ दबंग युवकों ने फायरिंग की थी। जिसके विरोध में मंगलवार को अधिवक्ताओं ने कार्य बहिस्कार करते हुए बैठक कर घटना की निंदा की। कोतवाली पहुंच कर आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए अधिवक्ताओं ने हंगामा किया।

अधिवकताओं ने कार्य बहिस्कार करते हुए भवन में बैठक की

विदित हो कि सिकन्दरपुरा निवासी अधिवक्ता हरीशंकर रावत के मकान के सामने मुहाल के ही सौरभ पांचाल, हरिओम राजपूत तथा मुहाल मुगलपुरा निवासी गौरव यादव लघु शंका कर रहे थे। मना करने पर उक्त युवक अधिवक्ता के भाई के साथ गालीगलौच करने लगे। विवाद बढ़ने पर आस पड़ोस के लोग मौके पर पहुंच गये, जिस पर आरोपी युवक धमकी देते हुए वहां से चले गये।

अधिवक्ता हरीशंकर रावत ने बताया कि कुछ ही देर बाद उक्त तीनों युवक अपने अन्य तीन साथियों के साथ आये तथा गालीगलौच करते हुए उसके दरवाजे व खिड़कियों को तोड़ने का प्रयास किया। जब अधिवक्ता ने दरवाजा नहीं खोला तो दबंगों ने दहशत फैलाने की गरज से हवाई फायरिंग की थी। इस मामले में अधिवक्ता हरीशंकर रावत ने तीन नामजद सहित छह के खिलाफ कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई। मंगलवार को अधिवकताओं ने कार्य बहिस्कार करते हुए बार भवन में एक बैठक की। बैठक के बाद दर्जनों अधिवक्ता नारेबाजी करते हुए कोतवाली पहुंच गये तथा आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग करने लगे। कोतवाली प्रभारी ने आरोपी युवकों की जल्द गिरफ्तारी का आश्वासन देकर अधिवक्ताओं को शांत कराया।

आरोपी बना रहे हैं राजीनाम का दबाव, अधिवक्ताओं ने मांगी सुरक्षा

अधिवक्ताओं ने कोतवाली प्रभारी अनिल कुमार सिंह को बताया कि आरोपी युवक दबंग प्रब्रत्ति के हैं। जिनके परिजन पीड़ित अधिवक्ता के घर पहुंच कर उसे राजीनामा करने के लिये धमका रहे हैं। अधिवक्ताओं ने चेतावनी दी कि यदि पीड़ित अधिवक्ता अथवा उसके परिजनों के साथ कोई अप्रिय घटना होती है तो इसकी जिम्मेदारी पुलिस प्रशासन की होगी। अधिवक्ताआें ने पीड़ित अधिवक्ता को पुलिस सुरक्षा दिये जाने की मांग की। जिस पर कोतवाली प्रभारी ने पुलिस फोर्स कम होने की बात कहते हुए साफ इनकार कर दिया।

मामूली विवाद में कर दी गई थी अधिवक्ता की हत्या

सिकन्दरपुरा मुहाल के ही निवासी अधिवक्ता संघ के पूर्व महामंत्री अशोक अहिरवार का बीते दो वर्ष पूर्व मुहाल के ही कुछ लोगों से मामूली विवाद हो गया था। इस मामले को स्थानीय पुलिस द्वारा गंभीरता से नहीं लिया गया था। जिस पर अधिवक्ता अशोक अहिरवार की गोली मार कर हत्या कर दी गई थी। अधिवक्ताओं ने आशंका जाहिर की कि यदि पुलिस आरोपियों पर सख्त कार्यवाही नहीं करती तो पीड़ित अधिवक्ता के साथ भी कोई अप्रिय घटना से इनकार नहीं किया जा सकता।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned