न्याय की पाने के लिए आए दिव्यांग को कलेक्ट्रेड में घुसने नहीं दिया गया

प्रोबेशन विभाग में विधि सह परिवीक्षा अधिकारी के पद से बर्खास्त की गई दिव्यांग आरती सिंह के मुद्दे को लेकर गुरुवार को होने वाले राष्टीय विकलांग पार्टी का धरना पुलिस प्रशासन की सख्ती की वजह से नहीं हो सका।

By: Karishma Lalwani

Published: 16 Oct 2020, 04:53 PM IST

Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

हमीरपुर. प्रोबेशन विभाग में विधि सह परिवीक्षा अधिकारी के पद से बर्खास्त की गई दिव्यांग आरती सिंह के मुद्दे को लेकर गुरुवार को होने वाले राष्टीय विकलांग पार्टी का धरना पुलिस प्रशासन की सख्ती की वजह से नहीं हो सका। पुलिस ने कलेक्ट्रेट के अंदर किसी भी दिव्यांग को प्रवेश नहीं करने दिया। गेट पर ही धरना देने जाने वालों की पुलिस से नोकझोंक होती रही। राष्ट्रीय विकलांग पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता पंकज त्रिपाठी ने बताया कि पहले आरती को गलत तरीके से नौकरी से बर्खास्त किया गया और फिर उसके ऊपर एक के बाद एक फर्जी मुकदमे राजनीतिक दबाव में लिखे गए हैं। इसमें सदर विधायक भी शरीक हैं। मुख्यमंत्री को भेजे गए छह सूत्री मांग पत्र में आरती पर एफआईआर दर्ज करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाए सदर विधायक के दबाव में दर्ज की गई। एफआईआर को वापस लिए जाए जिला प्रोबेशन अधिकारी के ऊपर कार्रवाई कि जाए

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned