हंगामे के बाद शुरू हो सकी चने की खरीद, गेहूं से भरा पड़ा है गोदाम

आक्रोशित किसानों को शांत करने के उददेश्य से एक किसान के करीब साढे़ सोलह कुंतल चने खरीद लिये गये...

हमीरपुर. हमीरपुर जनपद के राठ कसबा स्थित नवीन कृषि उपज मण्डी में चने की फसल बेचने गये किसानों की फसल नहीं खरीदी गई। केन्द्र प्रभारी ने गोदाम में जगह न होने की बात कह कर खरीद करने से मना कर दिया गया। जिस पर किसानों ने जमकर हंगामा काटा। आक्रोशित किसानों को शांत करने के उददेश्य से एक किसान के करीब साढे़ सोलह कुंतल चने खरीद लिये गये।

 

शुरू हुई गेहूं की खरीद

आपको बता दें कि किसानों को उनकी उपज का सही मूल्य दिलाने के लिये सरकार प्रयासरत है। दलहन की खरीद के बाद एक अप्रैल से गेहूं की खरीद शुरू की गई थी। किन्तु उठान न होने से कई केन्द्रों पर खरीद ठप पड़ी हुई है। दलहन व तिलहन की फसलों की खरीद हेतुं शासन द्वारा मण्डी स्थित पीसीएफ को खरीद केन्द्र बना दिया गया है। जहां पर सोमवार से खरीद भी शुरू हो जानी थी। लेकिन पहले से उठान न होने से गोदाम में गेहुूं भरा पड़ा है। जिस वजह से अन्य फसलों को रखने के लिये जगह भी नहीं है। जिस वजह से खरीद केन्द्र प्रभारी ने चने आदि की खरीद करने से मना कर दिया। जिस पर किसानों ने जमकर हंगामा काटते हुए खरीद किये जाने का दबाव बनाया।

 

किसानों को समझाकर कराया शांत

हंगामा होते देख किसी तरह केन्द्र प्रभारी ने किसानों को समझा बुझा कर शांत कराया। चिल्ली गांव निवासी किसान रामसिंह पुत्र राधाचरण का मात्र साढ़े सोलह कुंतल चना खरीदा खरीदा गया अन्य किसानों को टॉकिंग देकर अगले सप्ताह का समय दिया गया है। जिस पर किसानों में नाराजगी वियाप्त है उनका कहना है यहां पर दलालों के बोल बाला है और उनके ही इशारे पर मंडी कर्मचारी किसानों को परेशान किया जा रहा है।

 

यह भी पढ़ें: घाघरा नदी में आठ लोगों के डूबने का मामला, अभी भी नहीं मिला एक शव, NDRF का रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned