कब्र से दोबारा निकाला गया इस लड़की का शव, वजह जानकर हैरान पह जाएंगे आप

जिंदा रहते इस लड़की के साथ क्या हुआ...

हमीरपुर. मौदहा नगर क्षेत्र में सभी जगह एक ही चर्चा रही। मामला मौदहा निवासी एक युवती का है। जिसके तार चित्रकूट धाम करवी थाना क्षेत्र स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से जुड़े हैं।

 

स्टाफ नर्स थी लड़की

जानकारी के मुताबिक मौदहा निवासी 25 वर्षीय सायमा सोनू पुत्री स्व. इस्तेखार करवी स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में स्टाफ नर्स के पद पर कार्यरत थी। जिनकी मृत्यु 27 अप्रैल 2018 की शाम फांसी लगाकर होना बताया गया और पोस्टमार्टम उपरांत शव को मौदहा लाकर दफना दिया गया। जबकि मृतका के भाई इस्लामुददीन (धर्मेन्द्र) की मानें तो उसने उसी दिन कोतवाली में बहन की हत्या की शंका जाहिर करते हुए कोतवाली करवी में दो युवको के विरूद्ध नामजद तहरीर सौंपी थी। लेकिन कोतवाली प्रभारी ने तहरीर के आधार पर मामला दर्ज करने के बजाय आत्महत्या का मामला दर्ज मामला रफादफा कर दिया था।

 

कब्र खुदवाकर निकाला गया शव

वहीं भाई इस्लामुददीन के लगातार प्रयास के बाद चित्रकूट जिलाधिकारी विशाख अय्यर द्वारा कब्र खुदवा कर शव के दोबारा पोस्टमार्टम के आदेश कोतवाली मौदहा पुलिस को दिए। जिसके चलते पुलिस क्षेत्राधिकारी मौदहा, एसडीएम मौदहा और सीएचसी अधीक्षक डा. अनिल सचान की मौजूदगी में कब्र खुदवाकर शव को पोस्टमार्टम के लिए हमीरपुर ले जाया गया।

 

यह था मामला

मृतका के भाई ने करवी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में संविदा कर्मी के पद पर तैनात जुनैद (काकू) और शनि पर हत्या के आरोप लगाते हुए बहन के साथ बलात्कार किये जाने की भी शंका जाहिर की है। भाई का आरोप है कि जुनैद के पिता सीएमओ कार्यालय में बड़े बाबू के पद पर तैनात हैं। जिसके असर के कारण पोस्टमार्टम रिपोर्ट मे छेड़छाड़ की गई है।

यह भी पढ़ें: आठ लोगों मौत का LIVE वीडियो, देखिए कैसे एक-एक करके डूबे आठ लोग, मोबाइल में रिकॉर्ड हुआ मौत का खौफनाक मंजर

 

यह भी पढ़ें: तेज रफ्तार बस ने सड़क पार कर रहे लड़के को कुचला, मौके पर मौत

नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned