script70 donkeys stolen in 15 days, brought someone else's donkey to the pol | सिंचाई पानी किसानों का हक, इसे पाने के लिए करेंगे संघर्ष | Patrika News

सिंचाई पानी किसानों का हक, इसे पाने के लिए करेंगे संघर्ष

हनुमानगढ़. नोहर फीडर में निर्धारित 332 क्यूसेक सिंचाई पानी सहित दस सूत्री मांगों को लेकर किसान पंचायत का आयोजन बुधवार को जसाना में किया गया।

हनुमानगढ़

Published: December 29, 2021 10:12:32 pm

सिंचाई पानी किसानों का हक, इसे पाने के लिए करेंगे संघर्ष
- जसाना में किसान पंचायत में किसानों ने भरी हुंकार
- पांच जनवरी को भादरा मोड़ मेगा हाइवे पर डालेंगे पड़ाव
हनुमानगढ़. नोहर फीडर में निर्धारित 332 क्यूसेक सिंचाई पानी सहित दस सूत्री मांगों को लेकर किसान पंचायत का आयोजन बुधवार को जसाना में किया गया। किसान पंचायत में वक्ताओं ने सिंचाई समस्याओं के आंदोलन को साझी लड़ाई बताते हुए पांच जनवरी को मेगा हाइवे भादरा मोड़ पर पड़ाव डालकर आर-पार की लड़ाई लडऩे का निर्णय किया गया।
किसान पंचायत में दो दर्जन से अधिक गांव के सैकड़ों किसान जुटे। वहीं प्रशासन के मौके पर नहीं पहुंचने पर किसानों ने आक्रोश व्यक्त किया। इससे पहले बुधवार सुबह बड़ी संख्या में निकटवर्ती गांव-ढाणियों से किसान पंचायत में पहुंचे। यहां आयोजित सभा में वक्ताओं ने सिंचाई समस्याओं को लेकर टंकी पर चढ़े किसानों के समर्थन में आंदोलन तेज करने की चेतावनी दी। उन्होंने कहा कि किसान छह दिन से टंकी पर चढ़कर सिंचाई समस्याओं की लड़ाई लड़ रहे हैं। परंतु प्रशासन उनकी समस्याओं के निस्तारण करने के स्थान पर मुकदमे दर्ज करवाकर आंदोलन कुचलना चाह रहा है। किसान प्रतिनिधियों ने कहा कि किसान मुकदमों से डरने वाले नहीं है। प्रशासन किसानों पर जितने दाव आजमाना चाहता है वह करे, मगर आंदोलन अपने हक लेने तक जारी रहेगा। किसानों ने नोहर फीडर में निर्धारित 332 क्यूसेक सिंचाई पानी सहित सीपी चार हैड पर हरियाणा के कथित मोघे को हटाने, मल्लेका माइनर का अलग से साइफन बनाने, हरियाणा क्षेत्र में नोहर फीडर 27 किमी क्षेत्र पर संयुक्त टीम बनाकर सिंचाई पानी चोरी पर अंकुश लगाने, नहरों के पटड़ों से वृक्ष हटाने, सीपी चार पर स्काडा सिस्टम लगाने, नहराना हैड से अंतिम छोर तक नहरों को सीसी बनाने, टूटे खालों का पुनर्निर्माण करने, सीपी चार की निगरानी करने, हरियाणा में क्षतिग्रस्त नोहर फीडर की मरम्मत व सफाई कार्य करवाने की मांग को लेकर 5 जनवरी को भादरा मोड़ पर पड़ाव डालने की घोषणा की।
दिल्ली आंदोलन की तर्ज पर लड़ेंगे लड़ाई
महापंचायत में फेफाना, पदमपुरा, गुडिया, राजपुरिया, रतनपुरा, पिचकराई, भूकरका, देईदास, भगवान, ढंढ़ेला, किकराली सहित अनेक गांव के सैकड़ों किसान ढोल-नगाढ़ो के साथ नाचते हुए उत्साहित होकर पहुंचे। टंकी के ऊपर से पंस सदस्य रमेश बेनीवाल ने किसानों की मांगें पूरी करवाने के लिए हर हद तक जाने की बात कही। उन्होंने कहा कि 10 सूत्री मांग पूरी होने तक टंकी ही किसानों का आशियाना रहेगा। सरपंच राजेन्द्र न्यौल, काशीराम गोदारा, रामकृष्ण भाकर, अमरसिंह पूनिया, पंस सदस्य मंगेज चौधरी, रामकुमार सहारण, राजेन्द्र सिहाग, भगतराम मूंड, मदन बेनीवाल, साहबराम गोदारा, मंगतुराम डूडी, औंकारसिंह राठोड़, मनीराम गढ़वाल, सुरेन्द्र सिहाग, कृष्ण गोदारा, कृष्ण सहारण, मनीराम बडग़ुजर, लालचंद नायक, कृष्ण मायला, गुरमेल सिंह, मोहन सुथार, हनुमान सिहाग, हंसराम आर्य, बीरबल कादयान, जिप सदस्य दीपचंद बेनीवाल आदि ने विचार व्यक्त किए।
सिंचाई पानी किसानों का हक, इसे पाने के लिए करेंगे संघर्ष
सिंचाई पानी किसानों का हक, इसे पाने के लिए करेंगे संघर्ष

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Republic Day 2022 LIVE :गणतंत्र दिवस के अवसर पर जनरल बिपिन रावत समेत 4 हस्तियों को पद्म विभूषणRepublic Day 2022: 939 वीरों को मिलेंगे गैलेंट्री अवॉर्ड, सबसे ज्यादा मेडल जम्मू-कश्मीर पुलिस कोस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाBudget 2022: कोरोना काल में दूसरी बार बजट पेश करेंगी निर्मला सीतारमण, जानिए तारीख और समयमुख्यमंत्री नितीश कुमार ने छोड़ा BJP का साथ, UP चुनावों में घोषित कर दिये 20 प्रत्याशीकोरोना पॉजिटिविटी दर में उतार-चढाव जारी, मिले नए 427 केसUP Assembly elections 2022 : 'मुस्लिमों को पिछड़ा बनाने के लिए सरकारें दोषी, बच्चों को हासिल करवाओं तालीम'स्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.