हनुमानगढ़ के पक्का सारणा सीएचसी का लेखाकार रिश्वत लेते गिरफ्तार

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. लेखाकार को अस्पताल में किए गए बिजली फिटिंग संबंधी कार्य के बिल पास करने के एवज में सोमवार को रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया। एसीबी हनुमानगढ़ की टीम ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पक्का सारणा में कार्यरत लेखाकार को अस्पताल परिसर स्थित कार्यालय से ही घूस लेते दबोचा।

By: adrish khan

Updated: 01 Mar 2021, 10:14 PM IST

हनुमानगढ़ के पक्का सारणा सीएचसी का लेखाकार रिश्वत लेते गिरफ्तार
- बिजली संबंधी कार्य का बिल पास करने में एवज में मांगी घूस
- एसीबी हनुमानगढ़ ने एक हजार रुपए लेते दबोचा
हनुमानगढ़. लेखाकार को अस्पताल में किए गए बिजली फिटिंग संबंधी कार्य के बिल पास करने के एवज में सोमवार को रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया। एसीबी हनुमानगढ़ की टीम ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पक्का सारणा में कार्यरत लेखाकार को अस्पताल परिसर स्थित कार्यालय से ही घूस लेते दबोचा। आरोपी लेखाकार तिलकराज चलाना (46) पुत्र झांगीराम निवासी वार्ड 15 सादुलशहर जिला श्रीगंगानगर हाल अकाउंटेंट सीएचसी पक्का सारणा, हनुमानगढ़ को मंगलवार को एसीबी कोर्ट श्रीगंगानगर में पेश किया जाएगा।
प्रकरण के अनुसार दिलीप कुमार पुत्र लेखराम कुम्हार निवासी गांव पक्का सारणा ने एसीबी हनुमानगढ़ को शिकायत दी थी कि वह सिद्धि विनायक इलेक्ट्रोनिक पक्का सारणा पर कार्य करता है। इस फर्म ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पक्का सारणा में बिजली संबंधी कार्य किया था। इसके दो बिलों का कुल 8430 रुपए भुगतान बकाया था। इस राशि के भुगतान के एवज में सीएचसी के लेखाकार तिलकराज चलाना ने एक हजार रुपए की रिश्वत मांगी। घूस नहीं देने पर बिलों का भुगतान अटकाने की बात कही। एसीबी ने 24 फरवरी को सत्यापन कराया तो शिकायत सही पाई गई। इसके बाद लेखाकार को रंगे हाथ गिरफ्तार करने के लिए तैयारी की गई। एसीबी टीम ने सोमवार को परिवादी दिलीप कुमार को एक हजार रुपए की घूस राशि देकर अस्पताल भेजा। लेखाकार तिलकराज चलाना ने घूस के एक हजार रुपए ले लिए। इशारा मिलते ही एसीबी टीम ने आरोपी को दबोच लिया। रंग लगी नकदी उसके कब्जे से बरामद कर ली गई। एसीबी बीकानेर रेंज के पुलिस अधीक्षक गगनदीप सिंगला तथा एसीबी हनुमानगढ़ एएसपी तेजपाल के निर्देशन में एवं सीआई सुभाषचंद्र के नेतृत्व में एसीबी टीम ने कार्रवाई को अंजाम दिया। टीम में एसीबी के जगदीशराय, वरुण कुमार, विनय विशाल, बजरंग लाल, संदीप एवं अमन कुमार शामिल रहे। गौरतलब है कि पक्का सारणा पीएचसी गत वर्ष ही क्रमोन्नत होकर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बना था। क्रमोन्नति के बाद सीएचसी के अनुरूप वहां साधन-संसाधन बढ़ाए गए। इसी के चलते बिजली संबंधी कार्य भी कराया गया था।

adrish khan Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned