प्रेम विवाह की रंजिश में बहनाई की हत्या करने का आरोपी गिरफ्तार

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. प्रेम विवाह की रंजिश में युवक की हत्या के मामले में गिरफ्तार पांचवें आरोपी को पुलिस ने न्यायालय में पेश कर रिमांड मंजूर कराया। उसे गुरुवार को गिरफ्तार कर शुक्रवार को कोर्ट में पेश किया गया था। इससे पहले पुलिस बुधवार को इस मामले में चार जनों को गिरफ्तार कर चुकी है जो रिमांड पर हैं।

प्रेम विवाह की रंजिश में बहनाई की हत्या करने का आरोपी गिरफ्तार
- टाउन पुलिस ने कराया रिमांड मंजूर
- अब तक इस प्रकरण में पांच जनों को किया जा चुका गिरफ्तार
हनुमानगढ़. प्रेम विवाह की रंजिश में युवक की हत्या के मामले में गिरफ्तार पांचवें आरोपी को पुलिस ने न्यायालय में पेश कर रिमांड मंजूर कराया। उसे गुरुवार को गिरफ्तार कर शुक्रवार को कोर्ट में पेश किया गया था। इससे पहले पुलिस बुधवार को इस मामले में चार जनों को गिरफ्तार कर चुकी है जो रिमांड पर हैं। पांचवें आरोपी आकाशदीप उर्फ टैणी (19) पुत्र गुरमेल सिंह निवासी 10 केएसपी को 10 केएसपी की रोही से गिरफ्तार किया गया था। मामले की जांच कर रहे लखूवाली चौकी प्रभारी पूर्णसिंह ने बताया कि इस मामले में मुख्य आरोपी रणजीत (23) पुत्र गुरमेल सिंह के अलावा सतनाम (22) पुत्र जीतराम बावरी निवासी 10 केएसपी, लक्ष्मण उर्फ शंभू (26) पुत्र बसंतराम निवासी चक 10-11 केएसपी एवं सुरजीत (18) पुत्र जगसीर सिंह निवासी जोगेवाला डबवाली जिला सिरसा हरियाणा को पूर्व में ही गिरफ्तार कर लिया था। वे चारों भी 17 फरवरी तक रिमांड पर हैं। इस मामले में आकाशदीप उर्फ टैणी की गिरफ्तारी के साथ सभी आरोपी पकड़ में आ चुके हैं। रिमांड अवधि के दौरान इनसे पूछताछ कर वारदात में इस्तेमाल पिस्तौल, गंडासियों व लाठियों की बरामदगी के प्रयास किए जा रहे हैं।
क्या था मामला
पुलिस के अनुसार जगदीशप्रसाद उर्फ जग्गा (50) पुत्र काशीराम जाट निवासी वार्ड आठ झांबर की ढाणी चक 7 एसएसडब्ल्यू ने दस फरवरी टाउन थाने में पुत्र की हत्या के प्रयास मामला दर्ज कराया था। उसका आरोप था कि उसके पुत्र संदीप ने चक दस केएसपी निवासी गुरमेल सिंह मजहबी सिख की लड़की के साथ प्रेम विवाह किया था। इसको लेकर गुरमेल सिंह का परिवार रंजिश रखता था। १० फरवरी की शाम गुरमेल सिंह का बेटा रणजीत सिंह और टैणी सिंह के अलावा 3-4 अन्य जने लाठियों और गंडासियों से लैस होकर आए व संदीप पर हमला कर दिया। शोर मचाया तो आरोपी भाग गए। संदीप को बेहोशी की हालत में जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया। पुलिस ने जगदीश प्रसाद की रिपोर्ट पर आरोपियों के खिलाफ जानलेवा हमले का मामला दर्ज किया। बाद में करीब साढ़े सात बजे संदीप ने दम तोड़ दिया तो मामला हत्या में बदल गया। अगस्त 2019 में प्रेम विवाह करने के बाद संदीप अपनी प्रेमिका के साथ कहीं चला गया था। इस सम्बन्ध में युवती के परिजनों ने टाउन थाने में गुमशुदगी रिपोर्ट भी दर्ज कराई थी। लेकिन संदीप ने अपनी प्रेमिका के साथ प्रेम विवाह कर लिया। संदीप अपनी पत्नी के साथ कुछ समय पहले ही वापस आया था।

adrish khan Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned