दोषी पुलिस अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की मांग पर अड़े, दूसरे दौर की वार्ता भी विफल, ग्यारह को प्रशासन ठप करेंगे

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. संयुक्त किसान मोर्चा हनुमानगढ़ के बैनर तले किसानों व किसान कार्यकर्ताओं का जिला कलक्ट्रेट के समक्ष चल रहा पड़ाव शुक्रवार को लगातार पांचवें दिन भी जारी रहा। यद्यपि आंदोलनकारियों की ओर से की जा रही धान की सरकारी खरीद की मांग पूरी हो गई है लेकिन वह अन्य मांगों को लेकर शुक्रवार को भी पड़ाव स्थल पर डटे रहे।

 

By: Purushottam Jha

Published: 08 Oct 2021, 09:36 PM IST

दोषी पुलिस अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की मांग पर अड़े, देर शाम को दूसरे दौर की वार्ता भी विफल

अब ग्यारह अक्टूबर को प्रशासन ठप करेंगे, सात किसान बेमियादी अनशन भी शुरू करेंगे

हनुमानगढ़. संयुक्त किसान मोर्चा हनुमानगढ़ के बैनर तले किसानों का जिला कलक्ट्रेट के समक्ष चल रहा पड़ाव शुक्रवार को लगातार पांचवें दिन भी जारी रहा। यद्यपि आंदोलनकारियों की ओर से की जा रही धान की सरकारी खरीद की मांग पूरी हो गई है लेकिन वह अन्य मांगों को लेकर शुक्रवार को भी पड़ाव स्थल पर डटे रहे। दिन में दो दौर की वार्ता हुई। लेकिन मांगों को लेकर सहमति नहीं बनी। लाठीचार्ज करने वाले पुलिस अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई होने तक आंदोलन जारी करने की चेतावनी दी। इसी तरह निजी कंपनी को ठेके पर दिए गए वेयर हाउस के गोदाम वापस नहीं लिए जाते तब तक पड़ाव जारी रहेगा। जिला प्रशासन के साथ दूसरे दौर की वार्ता विफल रहने पर संयुक्त किसान मोर्चा के रघुवीर वर्मा ने बताया कि अब ग्यारह अक्टूबर को प्रशासन ठप करेंगे। सात किसान बेमियादी अनशन भी शुरू करेंगे। किसान कार्यकर्ता पांच दिनों से जिला कलक्ट्रेट के गेट के समक्ष सड़क पर धान की ढेरियां लगाकर बैठे हैं। चार अक्टूबर को जिला कलक्ट्रेट के समक्ष हुए प्रदर्शन के दौरान पुलिस की ओर से बल प्रयोग किया गया था। लाठीचार्ज में कई किसान और किसान कार्यकर्ता चोटिल हो गए थे। इस कारण से आंदोलनकारी अब दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई होने तक आंदोलन जारी रखने की बात कह रहे हैं।

Purushottam Jha Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned