scriptBank management increased the target of crop loan distribution | बैंक प्रबंधन ने बढ़वाया फसली ऋण वितरण का लक्ष्य | Patrika News

बैंक प्रबंधन ने बढ़वाया फसली ऋण वितरण का लक्ष्य

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. केंद्रीय सहकारी बैंक से फसली ऋण लेने वाले किसानों के लिए राहत की खबर है। इस बार बैंक प्रबंधन ने ऋण वितरण के लिए वर्ष २०२१-२२ में आवंटित लक्ष्य में बढ़ोतरी करवाया है। पूर्व में हनुमानगढ़ केंद्रीय सहकारी बैंक को ८२५ करोड़ का लक्ष्य आवंटित किया गया था।

 

हनुमानगढ़

Published: October 17, 2021 09:32:51 pm

बैंक प्रबंधन ने बढ़वाया फसली ऋण वितरण का लक्ष्य
-८२५ करोड़ की बजाय चालू वर्ष में बांटेंगे ९३५ करोड़ का फसली ऋण
-२१ को होने वाली केंद्रीय सहकारी बैंक हनुमानगढ़ की आमसभा में रखेंगे आय-व्यय का लेखा-जोखा
बैंक प्रबंधन ने बढ़वाया फसली ऋण वितरण का लक्ष्य
बैंक प्रबंधन ने बढ़वाया फसली ऋण वितरण का लक्ष्य
हनुमानगढ़. केंद्रीय सहकारी बैंक से फसली ऋण लेने वाले किसानों के लिए राहत की खबर है। इस बार बैंक प्रबंधन ने ऋण वितरण के लिए वर्ष २०२१-२२ में आवंटित लक्ष्य में बढ़ोतरी करवाया है। पूर्व में हनुमानगढ़ केंद्रीय सहकारी बैंक को ८२५ करोड़ का लक्ष्य आवंटित किया गया था। लेकिन किसानों की मांग को देखते हुए बैंक प्रबंधन ने इस लक्ष्य को अब ९३५ करोड़ करवा लिया है। इस तरह अब जिले में अवधिपार ऋणी किसानों को भी २५००० रुपए तक का फसली ऋण वितरित किया जाएगा।
गत वर्ष बजट की कम उपलब्धता के चलते अवधिपार किसानों को ऋण नहीं दिया गया था। वहीं ऋणी सदस्यों को इस बार गत वर्ष की तुलना में पांच प्रतिशत अधिक राशि वितरित करेंगे। हनुमानगढ़ केंद्रीय सहकारी बैंक की साख सीमा १५०० करोड़ रुपए निर्धारित है। जबकि एक लाख से अधिक किसान बैंक से जुड़े हैं। ऋण वितरण सहित अन्य मुद्दों पर चर्चा करने के लिए २१ अक्टूबर को बैंक की वर्चुअल आमसभा रखी गई है।
इसमें ग्राम सेवा सहकारी समितियों के साथ ही कुल ३०४ सदस्यों को शामिल होने के लिए आमंत्रित किया गया है। वर्चुअल आमसभा में सभी ऑनलाइन तरीके से अपनी राय रख सकेंगे। इसमें बैंक वर्ष २०२०-२१ के अंकेक्षित लेखों व वर्ष २०२१-२२ के बजट का अनुमोदन किया जाएगा। बैंक के मुख्य प्रबंधक रामकुमार सहारण ने बताया कि ऋण वितरण का लक्ष्य बढ़ाने से ऋणी किसानों को लाभ होगा। किसान हितों को देखते हुए लक्ष्य बढ़वाया गया है।
हिस्सा पंूजी में बढ़ोतरी
केंद्रीय सहकारी बैंक हनुमानगढ़ के एमडी दीपक कुक्कड़ के अनुसार ३१ मार्च २०२० को बैंक की हिस्सा पूंजी ३७.२२ करोड़ हो गई। इसकी औसत वृद्धि दर ०.४२ प्रतिशत रही। ३१ मार्च २०२१ को बैंक की हिस्सा पूंजी ३७.१६ करोड़ हो गई है। वर्ष २०२० को बैंक की अमानतें ४६८.२० करोड़ रही। जबकि वर्ष २०२१ में बैंक की अमानतें ५०६.८८ करोड़ हो गई। इसमें ८.२६ प्रतिशत वृद्धि हुई है।
ऋण वसूली पर नजर
केंद्रीय सहकारी बैंक हनुमानगढ़ में वर्ष २०२०-२१ में ऋण वसूली की कुल मांग ४०६.०१ करोड़ रही। इसके विरुद्ध ३८५.२५ करोड़ वसूली कर ली गई है। जो कुल मांग का ९४.८९ प्रतिशत है। मार्च २०२१ में बैंक की कार्यशील पंूजी ११९१.१२ करोड़ रही।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

पूर्व केंद्रीय मंत्री आरपीएन सिंह ने छोड़ी कांग्रेस, सोनिया गांधी को सौंपा अपना इस्तीफाRepublic Day 2022: आज होगी वीरता पुरस्कारों की घोषणा, गणतंत्र दिवस से पूर्व राजधानी बनी छावनीRepublic Day 2022: गणतंत्र दिवस से पहले दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने जारी की एडवाइजरी, घर से निकलने से पहले जरूर जान लेंDelhi: सीएम केजरीवाल का ऐलान, अब सरकारी दफ्तरों में नेताओं की जगह लगेंगी अंबेडकर और भगत सिंह की तस्वीरेंशरीयत पर हाईकोर्ट का अहम आदेश, काजी के फैसलों पर कही ये बातUP Election Campaign :मायावती दो फरवरी से करेंगी प्रचार का आगाज, आगरा में होगी पहली जनसभा7th Pay Commission: कर्मचारियों में खुशी की लहर, जल्द खाते में आएंगे पैसे, एलाउंस भी मिलेगापुलिस को देखकर फिल्मी स्टाइल में बेरिकेट तोड़कर भागे तस्कर, जब जवानों ने की चेकिंग तो मिला डेढ़ करोड़ का गांजा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.