बीबीएमबी ने बनाया दबाव, दो-तीन दिन में सुधर सकती है शेयर की स्थिति

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. भाखड़ा ब्यास मैनेजमेंट बोर्ड(बीबीएमबी) की बैठक गुरुवार को चंडीगढ़ में हुई। इसमें राजस्थान के अधिकारियों ने हरियाणा की तरफ से राजस्थान को मिल रहे कम पानी के मुद्दे को जोर-शोर से उठाया।

 

बीबीएमबी ने बनाया दबाव, दो-तीन दिन में सुधर सकती है शेयर की स्थिति
-हरियाणा की तरफ से पानी की मात्रा बढऩे के आसार
-बैठक में बीबीएमबी चैयरमेन ने संबंधित राज्यों को समन्वय से अधिकतम पानी का इस्तेमाल करने की सलाह दी

हनुमानगढ़. भाखड़ा ब्यास मैनेजमेंट बोर्ड(बीबीएमबी) की बैठक गुरुवार को चंडीगढ़ में हुई। इसमें राजस्थान के अधिकारियों ने हरियाणा की तरफ से राजस्थान को मिल रहे कम पानी के मुद्दे को जोर-शोर से उठाया। राजस्थान का प्रतिनिधित्व जल संसाधन उत्तर संभाग हनुमानगढ़ के अधीक्षण अभियंता शिवचरण रैगर व अधिशाषी अभियंता दिवाकर पांडे ने किया। अधिशाषी अभियंता दिवाकर पांडे ने बीबीएमबी चैयरमेन डीके शर्मा से कहा कि हरियाणा की तरफ से राजस्थान को महज पांच सौ क्यूसेक पानी मिल रहा है। जबकि इंडेंट आठ सौ क्यूसेक का भेजा हुआ है।
इस पर हरियाणा ने पंजाब से कम पानी रीलीज करने की बात कही। बीबीएमबी चैयरमेन ने पंजाब को निर्देशित किया कि वह राजस्थान व हरियाणा की मांग का ध्यान रखते हुए नहरों में अधिकतम पानी प्रवाहित करे। जिससे दोनों प्रदेश के किसानों को मांग के अनुसार समुचित सिंचाई पानी मिल सके। चैयरमेन की ओर से दबाव बनाने पर पंजाब ने दो-तीन दिन में मांग के अनुसार दोनों प्रदेशों को पानी उपलब्ध करवाने का आश्वासन दिया। गौरतलब है कि राजस्थान ने दिल्ली में हुई बैठक में बीबीएमबी की ओर से शेयर से अधिक पानी देने की बात कहने पर इंदिरागांधी नहर में १२५००, गंगकैनाल में २५०० तथा भाखड़ा में १२०० क्यूसेक पानी चलाने का इंडेंट गत सप्ताह भेज दिया था। लेकिन इसके अनुसार राजस्थान को पानी नहीं मिल पा रहा है। बंाधों में भंडारित पानी का अधिकतम इस्तेमाल संबंधित राज्य कर सकें, इसके लिए बीबीएमबी ने यह विशेष बैठक बुलाई थी। वाया हरियाणा राजस्थान को मिल रहे कम पानी को लेकर भादरा विधायक बलवान पूनियां ने विधानसभा में जोरशोर से मुद्दा उठाया था।

Purushottam Jha Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned