प्रशासन शहरों के संग अभियान कल से, गाइडलाइन का इंतजार

प्रशासन शहरों के संग अभियान कल से, गाइडलाइन का इंतजार
-17 को वार्ड 2 से 8 तक के नागरिकों के लिए लगेगा शिविर।
हनुमानगढ़. प्रदेश में प्रशासन शहरों के संग अभियान की शुरूआत 15 सितंबर से होनी थी लेकिन दो दिन अवकाश होने के कारण अभियान 17 सितंबर से शुरू होने जा रहे है।

By: adrish khan

Published: 15 Sep 2021, 10:09 PM IST


प्रशासन शहरों के संग अभियान कल से, गाइडलाइन का इंतजार
-17 को वार्ड 2 से 8 तक के नागरिकों के लिए लगेगा शिविर।
हनुमानगढ़. प्रदेश में प्रशासन शहरों के संग अभियान की शुरूआत 15 सितंबर से होनी थी लेकिन दो दिन अवकाश होने के कारण अभियान 17 सितंबर से शुरू होने जा रहे है। इस अभियान के तहत वार्ड वाइज शिविर लगाए जाएंगे। इसके लिए अभी तक गाइडलाइन का इंतजार है। इस गाइडलाइन में छूट का प्रावधान और मालिकाना हक किस वर्ष से होना चाहिए। इससे संबंधित अभी तक निकायों को स्वायत्त शासन विभाग से दिशा-निर्देश नहीं मिले हैं। अभी तक निकायों को गाइडलाइन नहीं मिलने के कारण शिविर के पहले दिन अत्यधिक आवेदन आने की संभावना है। गाइडलाइन के अनुसार इन आवेदनों की जांच कर पट्टे बनाए जाएंगे। इधर, राज्य सरकार ने शहरी निकाय को दो अक्टूबर को एक हजार पट्टे वितरण करने का लक्ष्य दिया है। स्थानीय नगर परिषद 17 सितंबर को पहले दिन सात वार्डों के लिए शिविर लगाएगी। 17 को वार्ड दो, तीन, चार, पांच, छह, सात व आठ को हाउसिंग बोर्ड स्थित सामूदायिक केंद्र में लगाया जाएगा। 18 सितंबर को वार्ड 09, 10, 11, 13, 14 का शिविर सेक्टर 12 स्थित सामूदायिक केंद्र में लगाया जाएगा। 19 सिंतबर को वार्ड 12, 15, 16, 49, 50, 51, 52, 53 का शिविर नगर परिषद उपकार्यालय में लगाया जाएगा। 20 सितंबर को वार्ड 54, 55, 56, 57, 58, 59, 60 व 01 का शिविर अम्बेडकर भवन में लगाया जाएगा। 21 सितंबर को वार्ड 17, 18, 19 व 48 का शिविर में दुर्गा मंदिर धर्मशाला में लगाया जाएगा। 22 सितंबर को वार्ड 20, 21, 22, 23, 24, 25, 26, 42 व 43 का शिविर टाउन स्थित पुरानी नगर परिषद में लगेगा। 23 सितंबर को वार्ड 27, 28, 29, 30, 31, 32, 33 व 34 का शिविर पंचायती धर्मशाला नई आबादी में लगाया जाएगा। 24 सितंबर को वार्ड 35, 36, 37, 38, 39 व 40 का शिविर ्रेप्रेमनगर स्थित नगर परिषद प्राथमिक पाठशाला में लगाया जाएगा। 25 सितंबर को वार्ड 41, 44, 45, 46 व 47 का शिविर नगर परिषद कार्यालय में लगेगा।

शिविर में यह रहेंगे मौजूद
टाउन क्षेत्र के शिविर में सहायक राजस्व निरीक्षक सुरेंद्र गोदारा, सहायक अभियंता वेदपाल गोदारा, कनिष्ठ अभियंता विनोद कुमार पचार, सत्यवीर कटारिया, व कनिष्ठ लिपिक योगेश कुमार कार्य करेंगे। सहायक राजस्व निरीक्षक गंगाराम, सहायक अभियंता वेदप्रकाश सहारण, कनिष्ठ अभियंता प्रेमदास नायक, धीरज कुमार व कार्यालय सहायक वेदप्रकाश शर्मा जंक्शन क्षेत्र के शिविर में कार्य करेंगे। इनके प्रभारी अधिशासी अभियंता सुभाष बंसल होंगे। इनके अलावा विधिक सलाहकार अमित माहेश्वरी, नगर नियोजन सहायक सुनील कुमार भी रहेंगे।

यह होंगे कार्य
69 के तहत पुराने पट्टों के स्थान पर नए पट्टे मिलेंगे, आम नागरिक अभियान से संबंधित नियमिन करवा सकेंगे व उससे संबंधित जानकारी भी ले सकेंगे। आवेदनकर्ता के पास भूखंड का स्वामित्व, कब्जे से जुड़े कागजात की संपूर्ण कड़ी होनी चाहिए। हालांकि राज्य सरकार ने अभी तक संपूर्ण गाइडलाइन जारी नहीं की है। उपविभाजन व पुर्नगठन के मामलों में भी अंतिम क्रेता के नाम पर नवीन पट्टे मिलने की भी संभावना है। अपंजीकृत दस्वातेज होने पर भी छूट मिल सकती है। गाइडलाइन में इससे संबंधित जानकारी होगी। जानकारी के अनुसार आवासीय, व्यवसायिक, मिश्रित, संस्थागत, औद्योगिक, पर्यटन उपयोग के पट्टों पर कई नियम लिखे होंगे। इसमें पट्टा धारक उक्त भूखण्ड को विक्रय अथवा अन्य प्रकार से हस्तान्तरित कर सकेगा तथा भूखण्ड को उप-पट्टे (सब-लीज) पर भी दे सकेगा। उक्त भूखण्ड के विक्रय/हस्तान्तरण पर क्रेता के पक्ष में नाम परिवर्तन के लिए निकाय में निर्धारित शुल्क आवेदन के साथ पंजीकृत विक्रय पत्र आदि प्रस्तुत करने होंगे। पट्टाधारक उत्तराधिकारी के मामले में कोई राशि देय नहीं होगी। पट्टे को सरकार/जीवन बीमा निगम/ऋण देने वाली संस्थाके पास बंधक (मोर्गेज) रखा जा सकेगा। इसके लिए स्थानीय निकाय के अनापत्ति प्रमाण पत्र (एनओसी) की आवश्यकता नहीं होगी।

adrish khan Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned