मुख्यमंत्री ने साधा कांग्रेस पर निशाना बोलीं कहां थे वे पांच साल ! अब उठा रहे हैं मुझ पर सवाल!

मुख्यमंत्री ने साधा कांग्रेस पर निशाना बोलीं कहां थे वे पांच साल ! अब उठा रहे हैं मुझ पर सवाल!

jainarayan purohit | Publish: Sep, 09 2018 08:16:07 PM (IST) Sri Ganganagar, Rajasthan, India

संगरिया.

मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने कहा है कि जो कांग्रेस साढ़े चार साल से कहीं नजर नहीं आ रही थी, चुनाव नजदीक आते ही खबरों में दिखाई देने लगी है। मुख्यमंत्री ने कांग्रेस पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए कहा कि अब कांग्रेस किस मुंह से भ्रष्टाचार की खिलाफत कर रही है।


मुख्यमंत्री ने कहा एक तो वो सरकार थी, जिसमें खानो की बंदर बांट हुई और एक हमारी सरकार है जिसे शिकायत मिलते ही जांच लोकायुक्त को सौंप दी। क्योंकि हमारी सरकार शुरू से ही भ्रष्टाचार के मामलों में जीरो टोलरेंस पर काम कर रही है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार के समय में खानो के आवंटन के लिए मंशा पत्र देने की शिकायत हुई तो हमने 601 मंशा पत्र और अनुज्ञा पत्रों की स्वीकृतियां निरस्त कर दी और इस सारे प्रकरण की जांच लोकायुक्त को सौंप दी।
उन्होंने कहा कि कोई भी सरकार अपने कायज़्काल की जांच लोकायुक्त को नहीं सौंपती। लेकिन हमने सौंपी। क्योंकि हमारी नीयत और नीति साफ है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने तो भ्रष्टाचार बंद करने के लिए अपने पिछले कायज़्काल में ही भामाशाह जैसी योजना शुरू की थी। जिसे कांग्रेस ने आते ही बंद कर दिया।

फिर से हमारी सरकार आई और हमने भामाशाह योजना शुरू की। आज सरकारी योजनाओं के शत-प्रतिशत करीब 21 हजार करोड़ रूपए सीधे लाभाथिज़्यों के खातों में जमा हो चुके हैं। वे बोली हमारी सोच प्रदेश को उन्नति करने वाला और शक्तिशाली राजस्थान बनाने वाली है। पूवज़् में बीमारु प्रदेश की श्रेणी में आने वाले राजस्थान को सबके सहयोग से विकसित राज्यों की श्रेणी में ला दिया है। आगे भी विकास यात्रा यूं ही जारी रहे इसके लिए ऐसे ही प्यार की जरुरत है। मुख्यमंत्री ने करीब 58मिनट तक सभा को संबोधित किया।

विधायक कृष्ण कड़वा ने कहा कि मुख्यमंत्री के आशीवाज़्द से क्षेत्र में वे इसी प्रकार विकास कायज़् का सिलसिला बनाए रखेंगे। 50 सी रेलवे फाटक पर अंडरपास की स्वीकृति इसका उदाहरण है। कड़वा ने कायज़्क्रम में पहुंचे लोगों का आभार जताया। मंच पर सहकारिता मंत्री अजयसिंह किलक, सांसद निहालचंद, पूवज़् भाजपा प्रदेशाध्यक्ष अशोक परनामी, पालिकाध्यक्ष नत्थूराम सोनी, पंचायत समिति प्रधान रजनी मोहन मेघवाल, पूवज़् जिला प्रमुख दमयंती बेनीवाल, भाजपा जिला उपाध्यक्ष राजीव सहू, मंडल अध्यक्ष श्याम मित्तल सहित अन्य भाजपा पदाधिकारी मौजूद थे।

गिनाई उपलब्धियां
मुख्यमंत्री ने राज्य सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि बच्चियों से दुष्कमज़् मामलों में अब तक तीन आरोपियों को फांसी की सजा सुनाई जा चुकी है। 16 लाख युवाओं को रोजगार दिया गया है। स्कूलों में 68 हजार पद भरे हैं। उन्होनें कहा कि वतज़्मान में किसानों को बीस घंटे बिजली उपलब्ध हो रही है। ग्यारह अक्टूबर के बाद घरेलू विद्युत कनेक्शन 500 रुपए में सबको मिलेगा।

दीनदयाल उपाध्याय ज्योति योजना और सौभाग्य योजना के तहत माचज़् 19 तक प्रदेश की सभी ढाणियों में बिजली कनेक्शन दे दिए जाएंगे। किसानों को सब्सिडी देने के बावजूद दरों में बढ़ोत्तरी नहीं की। भ्रष्टाचार के मामले लोकायुक्त को सौंप कर दोषी को सजा देने के निदेज़्श दिए। महिलाओं को आथिज़्क, सामाजिक सुरक्षा देने के लिए भामाशाह योजना में महिला परिवार की मुखिया बनी और उन्हें अनेकों लाभ मिल रहे हैं।

राशन दुकानों पर काला बाजारी खत्म करने के लिए पोस मशीनों के जरिए राशन वितरण व्यवस्था लागू की जिसे सभी पात्र लोगों को उनके हक का राशन मिला है। वृद्ध व नि:शक्तों को पेंशन के लिए बैंक जाना पड़ता था जहां भ्रष्टाचार करने के लिए सीधे कमज़्चारी के बैंंक खातों में रुपए डाल दिए। इस क्षेत्र में सिंचाई पानी के लिए किसान नहरी तंत्र पर निभज़्र हैं। उसके लिए सरकार ने जीणज़्-शीज़्ण नहरों की रिलाइनिंग करवाई। पक्का खाळा निमाज़्ण कराया, जिससे टेल तक किसानों को पूरा पानी मिला। क्षेत्र में 70 करोड़ रुपए की योजना के तहत शुद्ध पीने का पानी मुहैया कराया। ग्रामीण क्षेत्र में महिलाओं व अन्य को बरसात में आने वाली समस्याओं को दूर करने के लिए 56 ग्राम पंचायतों में ग्रामीण गौरव पथ स्वीकृत कराए जिनमें से 40 बनकर तैयार हैं।

ढाणियों और गांवों में रह रहे बच्चों को उच्च शिक्षा देने के लिए उच्च माध्यमिक स्तर के विद्यालय खुलवाए। जिनमें 57 विद्यालय संचालित हैं। महिलाओं को सशक्त करने के लिए जमीनी प्रयास किए जिसमें बेटी को संबंल देने के लिए राजश्री योजना में 50 हजार तक की सहायता राशि सरकार उपलब्ध करवा रही है।


मंच से की योजनाओं की बातें
राजे ने राज्य सरकार की योजनाओं के बारे में बताते हुए इनकी कांग्रेस सरकार के शासन से तुलना की। उन्होंने कृषि, गोपालन, विद्युत, चिकित्सा, सुरक्षा, जल, नहर के सम्बंध में तुलनात्मक आंकड़े बताए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोटज़् के बंधन के चलते संगरिया क्षेत्र में नहर, विद्युत, जल संसाधन, सावज़्जनिक निमाज़्ण विभाग सहित अनेक विभागों के पूवज़् में पारित योजनाओं के शिलान्यास के कायज़् रविवार को नहीं हो सके। उन्होने इनकी लागत अस्सी करोड़ रुपए के करीब बताई। उन्होने बताया कि इन योजनाओं पर शीघ्र कायज़् शुरू होगा।


योजनाओं के सम्बंध में सवाल-जवाब
राजे ने गांव रतनपुरा और मानकसर में आयोजित स्वागत कायज़्क्रम में सरपंचों से राज्य व केंद्र सरकार की योजनाओं के बारे में सवाल-जवाब किए। रतनपुरा सरपंच सत्यपाल राहड़ प्रत्येक प्रश्न का जवाब देने में सफल रहे। उन्होने मुख्यमंत्री को रतनपुरा में एक क्षेत्र विशेष में चार दशक से अधिक समय से बसे लोगों को पट्टे जारी करने में आ रही तकनीकी कमी दूर करने की मांग भी की।

मानकसर सरपंच के रूप में 23 वषज़् की युवती को देखकर उन्होने खुशी जताई व कहा कि शिक्षा की बाध्यता के चलते युवाओं को गांव की सेवा का मौका मिला है। उन्होने योजनाओं से सम्बंधित कुछ प्रश्नों पर सरपंच को मौन देखा तो कहा कि गांव के विकास के लिए हिम्मत करके बोलना आवश्यक है। नहीं तो लोग अगली बार वोट नहीं देंगें।


टिकट दावेदारों ने किया शक्ति प्रदशज़्न
राजे की गौरव यात्रा का काफिला जैसे ही संगरिया से हनुमानगढ़ की ओर चला उनके समक्ष संगरिया विधानसभा क्षेत्र से टिकट के दावेदारों ने शक्ति प्रदशज़्न किया। संगरिया से निकलते ही सबसे पहले भाजपा के पूवज़् जिलाध्यक्ष व संगरिया के पालिकाध्यक्ष प्रदीप बेनीवाल व इसके बाद भाजपा महिला मोचाज़् जिलाध्यक्ष गुलाब सींवर ने गांव मानकसर में संगरिया विधानसभा क्षेत्र के लिए शक्ति प्रदशज़्न किया। राजे ने भी किसी को निराश नहीं किया। उन्होंने करीब 5-10 मिनट संबोधन देते हुए आभार जताया।


चुनरी, हल, मुकुट, माला हुए भेंट
राजे को संगरिया, रतनपुरा व माकनसर में हुए कायज़्क्रम में उम्मीदवारी के इच्छुक लोगों ने चुनरी, कृषि का प्रतीक हल, चांदी का मुकुट, फूलों की माला और स्मृति चिन्ह भेंट किए गए। उन्होने इस अवसर पर कहा कि चांदी का मुकुट वह पहनती नहीं। इसलिए नजदीक के मंदिर या गुरुद्वारे में भेंट कर दिया जाए जिससे सभी को ईश्वर का आशीवाज़्द मिले।


सभा में सम्बोधन 58 मिनट, स्वागत कायज़्क्रमों में 7-8 मिनट
मुख्यमंत्री ने नई धान मंडी में आयोजित कायज़्क्रम में 58 मिनट का संबोधन दिया व राज्य के विकास की बात कही। वहीं रतनपुरा व मानकसर में आयोजित स्वागत कायज़्क्रम में उन्होने 7-8 मिनट के संबोधन में गांव में सरकारी योजनाओं से लाभ की बात कही।


हैलीपैड पर स्वागत
निधाज़्रित कायज़्क्रम से करीब डेढ़ घंटे देरी से पहुंची राजे का स्वागत हुआ। यहां सांसद निहालचंद, महिला मोचाज़् जिलाध्यक्ष गुलाब सींवर, पूवज़् पालिकाध्यक्ष राजेंद्र खीचड़, भाजपा जिला उपाध्यक्ष राजीव सहू, पूवज़् जिला प्रमुख दमयंती बेनीवाल, सुखजीतसिंह, युधिष्ठिर मित्तल, पंचायत समिति प्रधान रजनी मोहन मेघवाल व अन्य ने पुष्प गुच्छ भेंटकर राजे का स्वागत किया। पुलिस की ओर से गाडज़् ऑफ ऑनर दिया गया।


नरेंद्र मोदी बना युवक रहा आकषज़्ण का केंद्र
राजे के आगमन के दौरान हेलीपैड से लेकर यात्रा हनुमानगढ़ जाने तक नरेंद्र मोदी की वेशभूषा धारण किए वाडज़् 20 वासी राहुल पोटलिया आकषज़्ण का केंद्र रहा। भीड़ उनके संग फोटो खिंचवाने के लिए उमड़ती रही। [पसं.]

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned