फसल बीमा योजना अब नए अंदाज में, खरीफ व रबी दोनों की अधिसूचना एक साथ जारी

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत इस बार नए अंदाज में काम होगा। इसके तहत योजना में कई तरह के बदलाव किए गए हैं। ऋणी किसानों के लिए बीमा एच्छिक करने के साथ ही अनुबंधित बीमा कंपनी को दो वर्ष के लिए के लिए काम करने के लिए अधिकृत किया गया है।

By: Purushottam Jha

Published: 03 Jul 2020, 08:08 AM IST

फसल बीमा योजना अब नए अंदाज में, खरीफ व रबी दोनों की अधिसूचना एक साथ जारी

हनुमानगढ़. प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत इस बार नए अंदाज में काम होगा। इसके तहत योजना में कई तरह के बदलाव किए गए हैं। ऋणी किसानों के लिए बीमा एच्छिक करने के साथ ही अनुबंधित बीमा कंपनी को दो वर्ष के लिए के लिए काम करने के लिए अधिकृत किया गया है। साथ ही पहली बार ऐसा हुआ है, जिसमें खरीफ के साथ रबी सीजन के लिए भी अधिसूचना जारी की गई है। हनुमानगढ़ जिले में दोनों सीजन के लिए एग्रीकल्चर इंश्योरेंस कंपनी ऑफ इंडिया लिमिटेड को फसल बीमा के लिए अधिकृत किया गया है।
खरीफ सीजन २०२० में हनुमानगढ़ जिले में बाजरा, कपास, मूंगफली, ग्वार, मूूंग, मोठ, धान व तिल आदि फसलों को अधिसूचित किया गया है। अगर कोई किसान बीमा नहीं करवाना चाहता है तो संबंधित किसान को ऑफ आऊट फार्म भरकर बैंक में जमा करवाना होगा। बीमा करवाने वाले किसानों को १५ जुलाई तक प्रिमियम कटवाना होगा। जो नहीं करवाना चाहते उन्हें आठ जुलाई तक फार्म बैंक को देना होगा। कृषि विभाग के उप निदेशक दानाराम गोदारा ने बताया कि फसल बीमा की अधिसूचना जारी कर दी गई है। निर्धारित समय में किसान प्रीमियम जमा करवा सकते हैं। जिले में ऋणी व गैर ऋणी किसानों के साथ ही बंटाईदार किसान भी अबकी बार स्वैच्छिक आधार पर फसल बीमा करवा सकते हैं।

किस फसल का कितना प्रीमियम
खरीफ २०२० सीजन में किसानों को बाजरा की फसल का बीमा करवाने पर ३४२.९८ रुपए कृषक हिस्सा के तौर पर प्रीमियम जमा करवाना होगा। इसी तरह कपास की फसल पर १६४९.८०, मूंगफली पर २१००.५०, ग्वार पर ४३३.५०, मूंग पर ७७१.७८, मोठ पर ४०४.७०, धान पर १४२३.८६ व तिल पर ४३५.०६ रुपए प्रति हेक्टेयर के हिसाब से कृषक हिस्सा राशि जमा करवानी होगी।

२६७.९४ करोड़ बीमा कंपनी के खाते में जमा
रबी २०19-२० में हनुमानगढ़ जिले में कुल २०16३१ किसानों ने फसल बीमा करवाया था। इसमें किसान हिस्सा राशि के रूप में २५.६८ करोड़ की राशि वसूल की गई। इस तरह कुल प्रीमियम के तौर पर बीमा कंपनी के खाते में २६७.९४ करोड़ जमा हुए। क्लेम का सेटलमेंट करने में बीमा कंपनी जुटी हुई है।

४३५ करोड़ का क्लेम जारी
लॉकडाउन के बाद गत माह पीएम फसल बीमा योजना के तहत खरीफ सीजन २०१९ का बकाया बीमा क्लेम जारी कर दिया गया। इसमें ४३५ करोड़ की राशि जिले के करीब ९० हजार किसानों के लिए जारी की गई। लेकिन अब भी करीब ८० से ९० करोड़ का क्लेम अटकने से किसान परेशान हो रहे हैं। नोहर के आसपास के करीब १७ पटवार मंडलों का बीमा क्लेम अटकने से धरतीपुत्र मुसीबत में फंस गए हैं। बताया जा रहा है कि बीमा कंपनी के पास फंड का अभाव है। इसलिए कंपनी इसकी व्यवस्था करने में लगी हुई है। वहीं किसान संगठन लगातार बकाया क्लेम के लिए संघर्ष कर रहे हैं।

......फैक्ट फाइल.....
-खरीफ २०१९ में हनुमानगढ़ जिले के कुल २००९५२ किसानों ने फसल बीमा करवाया था।
-इसमें अभी तक ९० हजार किसानों को क्लेम के तौर पर ४३५ करोड़ की राशि स्वीकृत हो चुकी है।
-रबी २०१९-२० में जिले के २०१६३१ किसानों ने बीमा करवाया।
-इस तरह किसानों की हिस्सा राशि के तौर पर रबी सीजन से बीमा कंपनी के खाते में २६७.९४ करोड़ जमा हुए।
-चालू खरीफ सीजन में बीमा करवाने वाले किसानों को १५ जुलाई तक प्रिमियम कटवाना होगा।

Purushottam Jha Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned