मंडियों में बारदाना न बिगाड़ दे सरकारी खरीद का गणित

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. जिले की मंडियों में आगामी सप्ताह में गेहूं की आवक शुरू होने का अनुमान है। बम्पर पैदावार को देखते हुए एफसीआई ने खरीद लक्ष्य बढ़ा दिया है।

 

By: Purushottam Jha

Published: 07 Apr 2021, 09:39 AM IST

मंडियों में बारदाना न बिगाड़ दे सरकारी खरीद का गणित
-जिले में गेहूं की सरकारी खरीद में आ सकती है अड़चनें
-इस बार खरीद को लेकर सोलह केंद्र घोषित
हनुमानगढ़. जिले की मंडियों में आगामी सप्ताह में गेहूं की आवक शुरू होने का अनुमान है। बम्पर पैदावार को देखते हुए एफसीआई ने खरीद लक्ष्य बढ़ा दिया है। लेकिन खरीद के इंतजाम मामले में अभी पूरी तैयारी पूरी नहीं हो पाई है। कुछ मंडियों में तो बारदाने की आपूर्ति करवा दी गई है। लेकिन कुछ मंडी ऐसी है, जहां अब तक मांग के अनुसार बारदाने की आपूर्ति नहीं हो पाई है। इस स्थिति में भविष्य में कैसे सरकारी खरीद शुरू तथा सुचारू रह पाएगी, यह सवाल ही बना हुआ है। किसानों को इस बात की चिंता सता रही है कि कहीं बारदाना खरीद का गणित नहीं बिगाड़ दे। उत्पादन की बात करें तो इस बार जिले में करीब दो लाख 63 हजार हैक्टेयर क्षेत्र में गेहूं की खेती की गई है। इसमें करीब 13 लाख मैट्रिक टन गेहूं उत्पादन की संभावना है। जिले में कुल 16 केन्द्रों पर एक अप्रैल से 15 मई तक गेहूं की समर्थन मूल्य 1975 रुपए पर खरीद की जाएगी। इसमें से 15 केन्द्रों जंक्शन, टाउन, टिब्बी, तलवाड़ा, नोहर, भादरा, रावतसर, पल्लू, पीलीबंगा, गोलूवाला, डबली, लखासर, जाखड़ांवाली, हिरणांवाली और पक्कासहारणा में एफसीआई और एक संगरिया में नैफेड की ओर से गेहूं की खरीद की जाएगी।

अब इतनी होगी खरीद
हनुमानगढ़ जिले में इस बार छह लाख ६० हजार एमटी गेहंू की सरकारी खरीद की जाएगी। इससे पहले एफसीआई ने जो खरीद लक्ष्य निर्धारित किया था, उसमें साढ़े पांच लाख एमटी गेहूं खरीदने की योजना थी। परंतु कृषि विभाग की ओर से प्रस्तुत उत्पादन रिपोर्ट के आधार पर एफसीआई ने अब हनुमानगढ़ जिले में छह लाख साठ हजार एमटी गेहूं खरीदने की प्लानिंग की है।

ऑफलाइन हो खरीद
हनुमानगढ़. ऑनलाइन के साथ ही गेहूं की ऑफलाइन खरीद शुरू करवाने की मांग को लेकर व्यापारियों ने सोमवार को सीएम के नाम का ज्ञापन कलक्टर को सौंपा। इस मौके पर व्यापार मंडल, व्यापार संघ, फूडग्रेन व्यापार मंडल, खाद्य व्यापार संघ के पदाधिकारियों ने सरकारी खरीद में गिरदावरी की जगह जमा बंदी लागू करने व आढ़त पौने दो की जगह सवा दो प्रतिशत करने की मांग की। व्यापारी प्यारेलाल बंसल, महावीर सहारण, पदम जैन सहित अन्य व्यापारी मौजूद थे।

Purushottam Jha Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned