दहेज लोभियों का कहर: बड़ी बहू की बेरहमी से पीट-पीटकर हत्या, छोटी बहू ने भागकर बचाई जान

दहेज लोभियों का कहर: बड़ी बहू की बेरहमी से पीट-पीटकर हत्या, छोटी बहू ने भागकर बचाई जान

abdul bari | Publish: Jul, 14 2019 08:01:15 PM (IST) | Updated: Jul, 15 2019 01:05:02 AM (IST) Hanumangarh, Hanumangarh, Rajasthan, India

दोनों बेटियों को उनके पति तल्लाराम व कालूराम, सास रानी, ससुर श्रवण व ननद कीड़ो दहेज के लिए तंग-परेशान कर मारपीट करते थे। लड़कियां उन्हें हर बार पिता की गरीबी का वास्ता देकर दहेज की मांग ( dowry death in hanumangarh ) पूरी नहीं करने की बात कहतीं लेकिन उन्होंने मारपीट करना नहीं छोड़ा।

संगरिया.

दहेज के लिए एक विवाहिता को ससुराल वालों ने निर्दयतापूर्वक पीटा। जिसके चलते उपचार के लिए अस्पताल ले जाते समय उसने रास्ते में दम तोड़ दिया। विवाहिता दो बच्चों की मां है। चार साल पहले उसकी व छोटी बहन की एक ही घर में शादी हुई। लेकिन प्रताडऩा के चलते बड़ी बेटी ने दम तोड़ ( dowry death in hanumangarh ) दिया। जबकि छोटी ने भागकर जान बचाई।


मौके पर संगरिया थाना प्रभारी व डीएसपी पुलिस टीम के साथ हनुमानगढ़ ( hanumangarh news ) टाऊन अस्पताल पहुंचे। जहां मृतका का पोस्टमार्टम करवाकर रविवार बाद दोपहर शव पीहर पक्ष को सौंप दिया।

 

ससुराल वाले दहेज के लिए करते थे मारपीट ( dowry death case )

मृतका के पिता गांव गुडिय़ा (टिब्बी) निवासी दारासिंह पुत्र जग्गासिंह बावरी ने पुलिस को बताया कि उसकी दो लड़कियां सुगनाबाई व मीराबाई हैं। जो गांव खैरूवाला (सादुलशहर) में तल्लाराम व कालूराम पुत्र श्रवण बावरी को ब्याही हुई हैं। दोनों की शादी आज से चार साल पूर्व की थी। बड़ी बेटी सुगनाबाई के दो बच्चे हैं और छोटी मीराबाई के एक लड़की है।

दोनों बेटियों को उनके पति तल्लाराम व कालूराम, सास रानी, ससुर श्रवण व ननद कीड़ो दहेज के लिए तंग-परेशान कर मारपीट करते थे। लड़कियां उन्हें हर बार पिता की गरीबी का वास्ता देकर दहेज की मांग पूरी नहीं करने की बात कहतीं लेकिन उन्होंने मारपीट करना नहीं छोड़ा। करीब एक महीने पहले तल्लाराम व कालूराम, ससुर श्रवण व सास रानी संगरिया तहसील क्षेत्र के गांव पिलानियांवाली ढाणी में काम करने के लिए चले गए।


मारपीट में बड़ी बेटी की मौत, छोटी ने भागकर बचाई जान

दहेज की बात को लेकर फिर से आरोपियों के साथ सुगनाबाई के साथ बोलचाल हो गई। तब सभी आरोपियों ने उसे बुरी तरह पीटा। उसकी टांगों को पकड़कर बेरहमी से हमला किया। जिससे उसकी हालत गंभीर हो गई। मौके पर छोटी बेटी मीराबाई ने बीच-बचाव किया तो उसे भी पीटा तो उसने भागकर अपना बचाव किया। उसने गुडिय़ा गांव आकर सारी बात बतलाई। तब वह ढाणी पहुंचा। गंभीर हालत में बेटी सुगनाबाई को हनुमानगढ़ अस्पताल में भर्ती करवाने के लिए ले जा रहा था, कि अधिक चोटों व रक्तस्त्राव के चलते रास्ते में उसकी मृत्यु हो गई।


दहेज हत्या का मामला दर्ज मृतका के पिता ने आरोप लगाया कि आरोपियों ने एकराय होकर दहेज के लिए उसकी लड़की सुगनाबाई की हत्या कर दी। जिस पर संगरिया पुलिस ने गांव खैरुवाला (सादुलशहर) निवासी पति तल्लाराम, देवर कालूराम, ससुर श्रवण पुत्र करतारसिंह, सास रानी के खिलाफ धारा 498ए, 304बी, 120बी के तहत मामला दर्ज किया है। मामले की जांच डीएसपी नरपतचंद स्वयं कर रहे हैं।

 

यह भी पढ़ें..

बेकाबू होकर दीवार से टकराई कार, एक की हुई दर्दनाक मौत, 3 घायल


घर में घुसकर बदमाशों ने पति पर किए ताबड़तोड़ वार, सो रही पत्नी को पलंग से गिराकर पीटा, बरसाए पत्थर

 

आत्महत्या की कोशिश में ट्रेन के आगे आया मेधावी विद्यार्थी, बाजू से कटकर अलग हुआ हाथ

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned