गोवंश की भूख मिटाने को 14 करोड़ 66 लाख का बजट स्वीकृत

Purushotam Jha | Updated: 14 Jun 2019, 11:37:15 AM (IST) Hanumangarh, Hanumangarh, Rajasthan, India

गोवंश की भूख मिटाने को 14 करोड़ 66 लाख का बजट स्वीकृत
हनुमानगढ़. जिले की गोशालाओं के लिए 14 करोड़ 66 लाख 49 हजार 232 रुपए के अनुदान प्रस्ताव स्वीकृत हो गए हैं। जिला कलक्ट्रेट में जिला कलक्टर जाकिर हुसैन की अध्यक्षता में हुई जिला गोपालन समिति में अनुदान प्रस्ताव को स्वीकृति दी गई। लिहाजा अब जिले की 166 गोशालाओं को फरवरी-मार्च माह का 13 करोड़ 70 लाख 37 हजार 232 का अनुदान दिया जाएगा। इसी प्रकार जिले की 7 गोशालाओं को जनवरी, फरवरी और मार्च तीन महीनों का कुल 96 लाख 12 हजार का अनुदान स्वीकृत किया गया। बैठक में पशुपालन विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ. मुखराम कड़वासरा ने बताया कि जिला गोपालन समिति की 29 मार्च 2019 को हुई बैठक में जनवरी माह के लिए जिले की कुल 166 पात्र गोशालाओं को द्वितीय किश्त का भुगतान करने की प्रशासनिक और वित्तीय स्वीकृति प्रदान की गई थी। जिसके अंतर्गत जिले की कुल 159 गोशालाओं का जनवरी माह का भुगदान कर दिया गया। बची हुई 7 गोशालाओं को अनुदान नहीं दिया जा सका था। लिहाजा अब इन 7 गोशालाओं को जनवरी समेत फरवरी और मार्च तक का अनुदान दिया जाएगा। गोशाला निधि नियम 2016 के अंतर्गत गोशाला के बड़े पशु को 32 और छोटे पशु को 16 रुपए प्रतिदिन की दर से अनुदान दिया जाता है। अनुदान की कार्यवाही संपन्न करने से पहले जिले में स्थित पात्र सभी गोशालाओं को 3 बार सर्वे और निरीक्षण किया गया। पहला निरीक्षण पशुपालन विभाग की ओर से दूसरा संयुक्त दल और तीसरा औचक निरीक्षण करवाया गया। तीनों निरीक्षण में सबसे कम पशु पाए जाने के साक्ष्य के आधार पर अनुदान भुगतान प्रस्तावित किया गया। बैठक में जिला कलक्टर जाकिर हुसैन के अलावा एडीएम अशोक कुमार असीजा, पीआरओ सुरेश बिश्नोई, पशुपालन विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ. मुखराम कड़वासरा, कृषि विभाग के उपनिदेशक दानाराम गोदारा समेत अन्य अधिकारी मौजूद थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned