अन्नपूर्णा योजना के कर्मचारी फर्जी टोकन काटते हुए पकड़े

फर्जी टोकनों से कंपनी के कारिंदे लगा रहे पलीता

पीलीबंगा में नागरिकों ने पकड़ा

By: Manoj

Published: 19 Jan 2019, 01:12 PM IST

हनुमानगढ़. राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी अन्नपूर्णा योजना को कंपनी के कर्मचारियों की ओर से पलीता लगाए जाने का सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है। हनुमानगढ़ जिले के पीलीबंगा कस्बे में अन्नपूर्णा की गाडिय़ोंं में कार्यरत कर्मचारियों द्वारा प्रतिदिन खाली भूखंडों में गाड़ी को खड़ी कर फर्जी टोकन काट कर जला दिए जाते हैं।
पीलीबंगा के पूर्व पार्षद विनोद सेन व सुभाष लुगरिया ने शुक्रवार को दोपहर बाद मौके पर कंपनी के कर्मचारियोंं को फर्जी टोकन काटते हुए रंगे हाथों पकड़ लिया। पूर्व पार्षद विनोद सेन ने बताया कि अन्नपूर्णा गाड़ी में कार्यरत कर्मचारियों की ओर से विगत कई दिनों से पंचायत समिति के समीप खाली भूखंड में फर्जी टोकन काटकर टोकन एंव प्लेटों को जलाया जा रहा था। उन्होंने बताया कि शुक्रवार को अन्नपूर्णा के कर्मचारियों द्वारा खाली भूखंड में गाड़ी खड़ी कर करीब 50 टोकन जलाने की कोशिश की जा रही थी लेकिन नागरिकों की सतर्कता के कारण मामला पकड़ में आ गया।
नागरिकों ने आरोप लगाया कि राज्य सरकार की योजना से गरीब लोगों को सस्ता खाना नहीं उपलब्ध हो रहा। योजना का संचालन कर रहे जीवन संबल ट्रस्ट कोटा के स्थानीय सुपरवाइजर मोहित चौधरी ने बताया कि कस्बे के वार्ड 25 में कर्मचारियों द्वारा बिना टोकन के ही बच्चों को खाने की प्लेटें दे दी गई थी, जिन्हें पूरा करने के लिए कर्मचारियों द्वारा टोकन काटे जा रहे थे। गड़बड़ी के आरोप निराधार हैं।

Manoj Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned