संगरिया राजस्थान का हिस्सा ही नहीं लगता...

संगरिया राजस्थान का हिस्सा ही नहीं लगता...

Manoj Goyal | Publish: Mar, 17 2019 12:13:05 PM (IST) Hanumangarh, Hanumangarh, Rajasthan, India

सीमावर्ती होने का दर्द :

महिला दिवस-रक्षाबंधन या वरिष्ठ नागरिक सभी रियायत से क्षेत्र वंचित

24 घंटे में मात्र नौ जौड़ी बसों का होता है संचालन

हनुमानगढ़. (संगरिया) राजस्थान-पंजाब-हरियाणा राज्य के त्रिवेणी संगम पर स्थित हनुमानगढ़ जिले का संगरिया क्षेत्र कहने को तो राजस्थान के हनुमानगढ जिले में स्थित है परंतु परिवहन के सबसे बड़े माध्यम राजस्थान रोडवेज की बसों के संचालन व्यवस्था को देखकर यह किसी भी रुप से राजस्थान का हिस्सा नहीं लगता है। उत्तर भारत में शिक्षा नगरी के नाम से प्रसिद्ध शहर से 24 घंटे की समयावधि में मात्र नौ जोड़ी बसें संचालित होती है वो भी केवल हनुमानगढ-डबवाली मार्ग पर हैं। एक बस अनूपगढ़-जम्मू संचालित होती है जो एक दिन राजस्थान रोडवेज व एक दिन जम्मू रोडवेज द्वारा संचालित की जाती है।


यहां के नागरिक सभी रियायत से वंचित
राजस्थान रोडवेज द्वारा क्षेत्र में बस सेवा नहीं संचालित किए जाने से क्षेत्र के नागरिक राज्य सरकार द्वारा प्रदान की जाने वाली सभी प्रकार की रोडवेज सुविधाओं से वंचित है। महिला दिवस व रक्षाबंधन पर सरकार द्वारा महिलाओं को नि:शुल्क यात्रा की सुविधा दी जाती है जो बसों की नहीं समान संख्या से अर्थहीन हो जाती है। राजस्थान की महिलाओं व स्मार्ट कार्ड धारक वरिष्ठ नागरिक को राजस्थान में रोडवेज की बस में यात्रा करने पर तीस प्रतिशत की छूट दी जाती है इस छूट से यहां की महिलाएं, छात्राएं व वरिष्ठ नागरिक वंचित रह जाते है व पंजाब-हरियाणा रोडवेज व निजी बसों में पूरा किराया चुकाकर यात्रा करनी पड़ती है।


दो तहसील में बंटी विधानसभा
संगरिया विधानसभा क्षेत्र दो तहसील व दो पंचायत समिति कार्यालय वाले संगरिया व टिब्बी क्षेत्र में बंटा हुआ है। परंतु दोनो क्षेत्रों को जोडऩे के लिए एक भी रोडवेज की बस सेवा उपलब्ध नहीं है। टिब्बी क्षेत्र 2008 के सीमांकन से संगरिया विधानसभा क्षेत्र से जुड़ गया था परंतु एक दशक से अधिक समय निकलने के बाद भी आजतक एक भी रोडवेज सेवा इस मार्ग पर संचालित नहीं हो रही है।


राजस्थान के मुकाबले तीन गुना है पंजाब-हरियाणा रोडवेज की बसें
एक लाख से अधिक आबादी वाले संगरिया क्षेत्र में राजस्थान रोडवेज की सेवा मात्र हनुमानगढ-डबवाली मार्ग पर ही उपलब्ध है। यहां भी शाम 16:45 बजे से लेकर सुबह 7:30 बजे तक एक भी बस डबवाली मार्ग पर जाने के लिए तथा शाम 18:30 बजे से लेकर सुबह 9:00 बजे तक जिला मुख्यालय हनुमानगढ की ओर जाने के लिए राजस्थान रोडवेज की सेवा उपलब्ध नहीं है। रात्रि के समय 21:00 बजे संचालित होने वाली एक अन्य बस अनूपगढ़ से चलकर जम्मू जाने वाली एक दिन राजस्थान रोडवेज व एक दिन जम्मू रोडवेज द्वारा संचालित की जाती है। यही स्थिति सुबह 4:30 बजे जम्मू से चलकर अनूपगढ जाने वाली बस की है। इसके मुकाबले यहां से हरियाणा रोडवेज की डबवाली के लिए सुबह सात बजे से रात्रि 18:50 बजे तक 16 बसें, डबवाली से हनुमानगढ मार्ग पर सुबह 7:15 बजे से रात्रि 20:00 बजे तक 15 बसें, संगरिया-सिरसा ग्रामीण मार्ग से सुबह 5:40 बजे से शाम 17:15 बजे तक 18 बसें संचालित की जा रही है। इसी प्रकार पंजाब रोडवेज की चार बसें हनुमानगढ-डबवाली मार्ग तथा चार बसे डबवाली-हनुमानगढ मार्ग पर संचालित होती है।


चार मुख्य मार्ग पर शून्य बसें
संगरिया क्षेत्र से जिला मुख्यालय हनुमानगढ व हरियाणा के डबवाली के अतिरिक्त चार मुख्य मार्ग है जो क्षेत्र को विधानसभा क्षेत्र की दूसरी तहसील टिब्बी, सादुलशहर व पंजाब के अबोहर तथा मलोट से जोड़ता है। चारों मार्ग व्यापार की दृष्टि से भी शहर के लिए महत्व के है परंतु अभी तक चारों मार्गो पर ही रोडवेज की सेवा उपलब्ध नहीं होने के चलते यात्री निजी बसों में यात्रा करने को मजबूर है। क्षेत्र की सभी ग्राम पंचायत रोडवेज की सेवा से अभी तक वंचित है। हनुमानगढ मार्ग के गांव मानकसर, नगराना से होकर बस निकलती है परंतु वहां उनका ठहराव नहीं है। इसके अतिरिक्त किसी भी ग्राम पंचायत का जुड़ाव शहर से करने के लिए रोडवेज की बस सेवा उपलब्ध नहीं है।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned