scriptHanumangarh will soon emerge on the tourism map | पर्यटन के मानचित्र पर बहुत जल्द उभरेगा हनुमानगढ़ | Patrika News

पर्यटन के मानचित्र पर बहुत जल्द उभरेगा हनुमानगढ़

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. अब वो दिन दूर नहीं जब हनुमानगढ़ राजस्थान के पर्यटन मानचित्र पर प्रमुख पर्यटन स्थलों में शुमार होगा। मुख्यमंत्री की बजट घोषणा 2022-23 के अनुरूप जिले के प्रसिद्ध व महत्वपूर्ण पर्यटन स्थलों का करीब तीन करोड़ की लागत से विकास किया जाएगा।

 

हनुमानगढ़

Published: May 26, 2022 08:07:39 pm

पर्यटन के मानचित्र पर बहुत जल्द उभरेगा हनुमानगढ़
-तीन करोड़ की लागत से जिले के प्रसिद्ध व महत्वपूर्ण पर्यटन स्थलों का होगा विकास
-ऊंट व मरू महोत्सव के तर्ज पर हनुमानगढ़ में भी हर साल आयोजित होंगे विभिन्न महोत्सव, पर्यटन विभाग बनाएगा प्लान

हनुमानगढ़. अब वो दिन दूर नहीं जब हनुमानगढ़ राजस्थान के पर्यटन मानचित्र पर प्रमुख पर्यटन स्थलों में शुमार होगा। मुख्यमंत्री की बजट घोषणा 2022-23 के अनुरूप जिले के प्रसिद्ध व महत्वपूर्ण पर्यटन स्थलों का करीब तीन करोड़ की लागत से विकास किया जाएगा। जिला कलक्टर नथमल डिडेल की अध्यक्षता में गुरुवार को कलक्ट्रेट सभागार में हुई जिला पर्यटन विकास समिति की बैठक में इसका खाका तैयार किया गया। तीन करोड़ की लागत से जिले के प्रसिद्ध व महत्वपूर्ण पर्यटन स्थलों भद्रकाली मंदिर, कृषि विज्ञान केन्द्र संगरिया, कोहला वन क्षेत्र, मसीतावाली हेड, संगरिया का सर छोटूराम स्मारक संग्रहालय, रावतसर का खेतरपाल जी का मंदिर, गोगामेड़ी मंदिर, पल्लू का ब्रह्माणी माता मंदिर, शिला पीर/माता मंदिर को विकसित किया जाएगा। जिला कलक्टर डिडेल ने बताया कि इसके अलावा बीकानेर के ऊंट महोत्सव, जैसलमेर के मरू महोत्सव की तर्ज पर हनुमानगढ़ में भी प्रति वर्ष एक महोत्सव का आयोजन किया जाएगा। इसको लेकर पर्यटन विभाग को विस्तृत रूपरेखा तैयार करने के निर्देश दिए गए हैं। जिले के प्रमुख पर्यटन स्थलों को शामिल करते हुए एक पंपलेट भी पर्यटन विभाग तैयार करेगा। जिसका विमोचन जिला स्थापना दिवस पर किया जाएगा। जिला कलक्टर ने बताया कि वन विभाग की ओर से करीब दो करोड़ की लागत से धन्नासर में लव-कुश वाटिका का निर्माण भी जल्द शुरू किया जाएगा। लिहाजा हनुमानगढ़ जल्द ही राज्य के पर्यटन मानचित्र पर उभरने जा रहा है।
बीकानेर से आए पर्यटन विभाग के उपनिदेशक भानु प्रताप ने बताया कि हनुमानगढ़ में पर्यटन विकास को लेकर बहुत संभावनाएं है। इसको देखते हुए जिले को राज्य के पर्यटन मानचित्र पर लाने के लिए पर्यटन विभाग कोई कोर कसर नहीं छोड़ेगा। हर साल यहां महोत्सव के आयोजन को लेकर जल्द ही प्रस्ताव जिला कलेक्टर को प्रस्तुत किया जाएगा। उन्होने धन्नासर में आपणी योजना के जलाशयों में स्पीड बोटिंग, स्कूबा डाइविंग इत्यादि की संभावनाएं जताई, लेकिन इसको लेकर संबंधित विभाग से पहले अनुमति लेनी होगी।
बैठक में जिले के प्रमुख पर्यटन स्थलों के विकास को लेकर करीब 3 करोड़ के जिन विकास कार्यों के प्रस्तावों का अनुमोदन किया गया। उनमें 30 लाख की लागत से भद्रकाली मंदिर में यात्री निवास, शौचालय निर्माण इत्यादि कार्य ग्राम पंचायत के जरिए, 30 लाख की लागत से खेत्रपाल मंदिर रावतसर में पीने का पानी, आरओ, शौचालय, बैठने का शेड व अन्य कार्य नगर पालिका रावतसर के जरिए, 20 लाख की लागत से शीलापीर/माता मंदिर में शौचालय, पेयजल, बैठने का शैड का निर्माण नगर परिषद हनुमानगढ़,10 लाख की लागत से पल्लू ब्राह्मणी माता मंदिर में कचरा पात्र, पीने का पानी, शौचालय इत्यादि ग्राम पंचायत पल्लू के जरिए, जैसलमेर, बीकानेर संग्रहालय की तर्ज पर संगरिया के सर छोटूराम स्मारक के विकास हेतु 30 लाख की लागत से वैक्यूम क्लीनर, शौचालय, मुख्य गेट, चारदीवारी, छत की मेंटेनेंस, ट्रेंड स्टॉफ, रंग रोगन व अन्य कार्य करवाए जाएंगे।
पर्यटन के मानचित्र पर बहुत जल्द उभरेगा हनुमानगढ़
पर्यटन के मानचित्र पर बहुत जल्द उभरेगा हनुमानगढ़
इतनी लागत से बनेगा वॉच टॉवर
जिले को पर्यटन को मानचित्र पर उभारने के लिए कई तरह के कार्य होंगे। इसमें बीस लाख की लागत से गोगामेड़ी मेले के लिए 8-8 यूनिट के दो चल शौचालय व अन्य अचल शौचालय का निर्माण नगर पालिका नोहर के जरिए, 60 लाख की लागत से संगरिया केवीके में हाट बाजार, कैंटीन, म्यूजियम, फाउंटेन इत्यादि विकास कार्य केवीके के जरिए, 60 लाख की लागत से कोहला वन क्षेत्र में वाच टावर बनाए जाएंगे। इसके अलावा टॉयलेट, वन्यजीवों के लिए रेस्क्यू सेंटर, बैठने की जगह पर शेड निर्माण, पीने के पानी की व्यवस्था इत्यादि वन विभाग के जरिए, मसीतावाली हैड पर 50 लाख की लागत से कैफेटेरिया, शौचालय, पीने का पानी, झोंपड़ी इत्यादि का निर्माण शामिल है।
यह अधिकारी रहे मौजूद
बैठक में जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे। इसमें जिला कलक्टर नथमल डिडेल, सीईओ जिला परिषद अशोक असीजा, बीकानेर से आए पर्यटन विभाग के उपनिदेशक भानुप्रताप, केवीके संगरिया इंचार्ज डॉ. अनूप कुमार, पीआरओ सुरेश बिश्नोई, पर्यटन अधिकारी पुष्पेन्द्र प्रताप, जल संसाधन विभाग के अधीक्षण अभियंता लखपत राय, अधिशाषी अभियंता सहीराम यादव, रावतसर ईओ प्रमोद कुमार, पीडब्ल्यूडी के अधिशाषी अभियंता अनिल अग्रवाल, क्षेत्रीय वन अधिकारी शंकरलाल, संगरिया ग्रामोत्थान विद्यापीठ के सचिव डॉ. सुरेन्द्र सहारण, नगर परिषद सचिव अजीत सिंह, सहायक प्रशासनिक अधिकारी तुलसीराम, कनिष्ठ सहायक पंचायत राज हंसराज, देवस्थान विभाग से कनिष्ठ सहायक योगेश शर्मा उपस्थित रहे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

12 जुलाई को झारखंड जाएंगे पीएम नरेंद्र मोदी, देवघर एयरपोर्ट का करेंगे उद्घाटननूपुर शर्मा के समर्थन में सुप्रीम कोर्ट को 117 पूर्व जजों समेत बड़े अधिकारियों का ओपन लेटर, CJI को भेजाMaharashtra Politics: शिवसेना में किस वजह से शुरू हुई थी बगावत? बागी विधायक ने बताई पूरी सच्चाईसंभल में हिंदू देवी-देवताओं के पोस्टर पर चिकन बेचना पड़ा भारी, पुलिस ने सिखाया ये सबकअयोध्या में 1000 एकड़ भूमि पर बनेगा रामायण परिसर, रामलीलाओं से सजेगी धरतीप्रयागराज पहुंचे डिप्टी सीएम बृजेश पाठक ने कहा- हनिहार में विकसित होगा चंद्रशेखर आजाद पार्क जैसा पार्कMaharashtra Politics: डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस ने मंत्रिमंडल विस्तार पर दिया बड़ा बयान, विदर्भ के विकास को लेकर भी कही यह बातएमपी के इन दो शहरों में हो सकता है G 20 शिखर सम्मेलन, शुरु हुई आयोजन की तैयारियां
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.