पुलिस पर हमले के दोषी को आजीवन कारावास

पुलिस पर हमले के दोषी को आजीवन कारावास

pawan uppal | Publish: Jul, 14 2018 11:20:00 AM (IST) Hanumangarh, Rajasthan, India

-20 हजार रुपए के अर्थदंड से दंडित

भादरा.

अपर सेशन न्यायाधीश मदन गोपाल आर्य ने पुलिसकर्मियों पर जानलेवा हमले के दोषी को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। दोषी बलराज सिंह उर्फ बाजा पुत्र चन्द्रसिंह जाट निवासी पेगा जिला जींद को 20 हजार रुपए के अर्थदंड से भी दंडित किया गया है। इस प्रकरण में तत्कालीन अपर जिला एवं सैशन न्यायाधीश वंदना राठौड़ ने अन्य दोषियों को चार जुलाई 2017 को आजीवन कारावास व अर्थदंड से दंडित किया था।

मामले में भादरा व भिरानी पुलिस कर्मियों ने घटना के दो घंटे बाद ही हमलावरों को गिरफ्तार कर लिया था, तथा हमलावरों का पीछा करते समय भिरानी पुलिस के हवलदार अनंतराम की हृदय गति रुकने से मौत हो गई थी। प्रकरण के अनुसार हिसार की जेल में हत्या के आरोप में बंद शेरड़ा गांव के उम्मेद सिंह उर्फ फौजी पुत्र डालूराम जाट को हिसार पुलिस के तीन पुलिसकर्मी हवलदार बलजीत, मोहनलाल व सिपाही अमित 25 मई 2011 को कोर्ट में पेशी पर लेकर आए।


तारीख भुगताने के बाद जब तीनों पुलिसकर्मी उम्मेद को हिसार ले जाने के लिए बस स्टैंड पहुंचे तो एक इनोवा गाड़ी में सवार होकर आए नौ जनों ने तीन पुलिस कर्मियों पर ताबड़तोड़ हमला बोल दिया। हवलावरों ने हवाई फायर किए तथा पुलिस की आंखों में मिर्च का पाउडर डाल दिया। वहीं उम्मेद सिंह उर्फ फौजी को लेकर फरार हो गए। हमलावर पुलिस कर्मियों से एक रायफल भी छीनकर ले गए। मगर भादरा से निकलते ही करीब आठ किमी दूर हिसार रोड पर जोगीवाला के पास हमलावरों की इनोवा गाड़ी पलट गई और गाड़ी में सवार सभी हमलावरों सहित उम्मेदसिंह मौके से फरार हो गए।

भादरा व भिरानी पुलिस ने वारदात के दो घंटे बाद देवेन्द्र उर्फ नन्हा पुत्र चन्द्रसिंह जाट निवासी वार्ड चार नारनोद जिला हिसार (हरियाणा) कर्ण सिंह उर्फ किशन पुत्र राजेन्द्र सिंह बैश ठाकुर निवासी चिलाबादा हमीरपुरा (उत्तरप्रदेश) हाल लल्ला पंडित रोहित शर्मा का मकान थाना ग्वालियर, विक्रमसिंह पुत्र ईश्वर सिंह ब्राह्मण निवासी गांगोली पीएस पीलूखेड़ा जिला जींद, नरेश पुत्र हवा सिंह निवासी पेगा जिला जींद, लीलाधर उर्फ अमित पुत्र सज्जन कुमार ब्राह्मण निवासी नारनोद जिला हिसार, धर्मवीर पुत्र लखमीचंद जाट निवासी माईयड़ थाना हिसार, जसवीर उर्फ जस्सी पुत्र गजेसिंह जाट निवासी गुरूसर तहसील नरवाना जिला जिंद व सुरेन्द्र पुत्र महेन्द्रसिंह जाट निवासी शेरड़ा तहसील भादरा जिला हनुमानगढ़ इस घटनाक्रम में आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए उनका पीछा करते समय हरियाणा के तीनों पुलिसकर्मियों को गंभीर चोटे आई थी। इस घटना में फरार कराए गए उम्मेदसिंह की मौत हो जाने के कारण उसके विरूद्ध कार्यवाही समाप्त कर दी गई थी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned