scriptMan sentenced to five years for attempting to rape four-year-old girl | चार वर्षीय बच्ची से दुष्कर्म के प्रयास के दोषी को पांच साल की सजा | Patrika News

चार वर्षीय बच्ची से दुष्कर्म के प्रयास के दोषी को पांच साल की सजा

हनुमानगढ़. विशिष्ट न्यायाधीश पोक्सो प्रकरण मदनगोपाल आर्य ने एक जने को चार वर्षीय बालिका से दुष्कर्म के प्रयास का दोषी करार दिया। दोषी प्रौढ़ को पांच साल कारावास की सजा सुनाई।

हनुमानगढ़

Published: November 17, 2021 08:46:02 pm

चार वर्षीय बच्ची से दुष्कर्म के प्रयास के दोषी को पांच साल की सजा
- विशिष्ट न्यायालय पोक्सो प्रकरण ने सुनाया फैसला
हनुमानगढ़. विशिष्ट न्यायाधीश पोक्सो प्रकरण मदनगोपाल आर्य ने एक जने को चार वर्षीय बालिका से दुष्कर्म के प्रयास का दोषी करार दिया। दोषी प्रौढ़ को पांच साल कारावास की सजा सुनाई। साथ ही 40 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया। राज्य की ओर से विशिष्ट लोक अभियोजक विनोद डूडी ने पैरवी की।
प्रकरण के अनुसार 19 मार्च 2019 को एक व्यक्ति ने भादरा थाने में रिपोर्ट दी कि 19 मार्च की शाम उसकी चार साल की पोती घर के आगे खेल रही थी। अचानक वह गायब हो गई। गली में खेल रहे अन्य बच्चों से पूछा तो उन्होंने बताया कि बच्ची को पवन कुमार उठाकर स्कूल की तरफ ले गया। जब परिवादी स्कूल की तरफ गया तो उसे पोती के रोने की आवाज सुनाई दी। स्कूल में जाकर देखा तो शौचालय के पास पवन उसकी पोती से दुष्कर्म का प्रयास कर रहा था। वह समय पर नहीं पहुंचता तो आरोपी उससे गलत कार्य कर सकता था। पुलिस ने अलग-अलग धाराओं के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू की। जांच के बाद न्यायालय में चालान पेश किया गया। विशिष्ट न्यायाधीश ने मंगलवार को पवन कुमार पुत्र माडूराम निवासी कुंजी, भादरा को आईपीसी की धारा 366, धारा 376/511 व पोक्सो एक्ट की धारा 9एम/10 के तहत दोषी करार दिया। दोषी को आईपीसी की धारा 366 के तहत 5 साल की सजा, 20 हजार रुपए अर्थदण्ड व अदम अदायगी 6 माह का अतिरिक्त कारावास, धारा 376/511 व पोक्सो एक्ट की धारा 9एम/10 के तहत 5 साल की सजा, 20 हजार रुपए जुर्माना व अदम अदायगी 6 माह का अतिरिक्त कारावास भुगतने का निर्णय सुनाया। सभी सजा साथ-साथ चलेंगी। आरोपी को एससी/एसटी एक्ट की धारा में दोषमुक्त कर दिया गया। विशिष्ट लोक अभियोजक विनोद डूडी ने बताया कि ट्रायल के दौरान अभियोजन पक्ष ने छह गवाह तथा नौ दस्तावेज पेश किए। इस तरह के फैसलों से भविष्य में बालकों के विरुद्ध होने वाले अपराधों पर लगाम लग सकेगी।
चार वर्षीय बच्ची से दुष्कर्म के प्रयास के दोषी को पांच साल की सजा
चार वर्षीय बच्ची से दुष्कर्म के प्रयास के दोषी को पांच साल की सजा

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.