मेडिकल कॉलेज स्तर के ऑपरेशन हुए जिला अस्पताल में

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

 

By: Anurag thareja

Published: 10 Mar 2019, 12:35 PM IST

मेडिकल कॉलेज स्तर के ऑपरेशन हुए जिला अस्पताल में
सर्जिकल कांफ्रेस में पहले दिन तेरह हुए निशुल्क ऑपरेशन
- अस्पताल में होंगे निरंतर होंगे निशुल्क ऑपरेशन
- ऑपरेशन के दौरान चिकित्सकों ने लाइव दिए सवालों के जवाब।
हनुमानगढ़. जिला अस्पताल में शनिवार को आयोजित तीसरी भटनेर सर्जिकॉन कांफ्रेस में आसपास के राज्यों के जाने-माने चिकित्सकों ने तेरह निशुल्क ऑपरेशन किए। लाइव ऑपरेशन देखने की व्यवस्था नई एमसीएच यूनिट में की गई। यहां पर मौजूद चिकित्सकों ने लाइव ऑपरेशन को देख वरिष्ठ चिकित्सकों से सवाल-जवाब किए। खास बात है कि वजन कम करने वाली बेरियाट्रिक सर्जरी हुई, रेडियो आवृति पृथककरण पद्धति से ऑपरेशन किया गया। इस तरह की सर्जरी मेडिकल कॉलेज में भी संभव है। लेकिन यह सर्जरी जिला स्तर पर पहली बार जिला अस्पताल में की गई। लेजर से पाइल्स, ब्रेस्ट कैंसर, थाईरायड, दूरबीन की ओर से पित की थैली का ऑपरेशन, अपेंडिक्स, प्रोसटेट, स्त्री रोग, गुर्दे की पथरी, वेरिकॉज वेन आदि लेप्रोस्कोपी सर्जरी हुई। कांफ्रेंस के बाद से इनमें से अधिकांश ऑपरेशन जिला अस्पताल में निरंतर निशुल्क होंगे। जबकि निजी अस्पतालों में इस तरह के ऑपरेशन के लिए ८० हजार से एक लाख रुपए का खर्च आता है। अब यह सुविधा हनुमानगढ़ के जिला अस्पताल में भी मिल सकेगी। इसके लिए अस्पताल प्रशासन ने ऑपरेशन थियेटर के लिए कई उपकरणों को भी खरीद कर ली है।
खास बात यह थी कि कार्यक्रम में पहली बार प्रतिष्ठित मेडिकल कंपनियों ने एग्जीबिजेशन भी लगाए। इनमें हड्डी रोग से संबंधित, लैबरोटेरी के लिए विभिन्न रोगों की जांच आदि स्वास्थ्य से संबंधित जानकारी दी गई। सर्जिकल कांफ्रेस के दूसरे दिन भी आठ रोगों से संबंधित लेप्रोस्कोपी सर्जरी होगी। दो दिवस में करीब चालीस रोगियों का रजिस्ट्रशन किया जा चुका है। उल्लेखनीय है कि जिला अस्पताल में पहली बार 14 फरवरी 2016 को लाइव सर्जरी हुई थी। 2017 में 25 व 26 फरवरी को दूसरी बार सर्जिकल कांफेस हुई।

अस्पताल प्रशासन ने किया दावा
जिला अस्पताल प्रशासन ने दावा किया कि अब तक राज्य के किसी भी सरकारी अस्पताल में इस तरह की सर्जिकल कांफ्रेस नहीं हुई। इस बर सर्जिकल कांफ्रेस को नेशनल स्तर की तरह आयोजित किया गया। इसमें लाइव ऑपरेशन के साथ कई नामी कंपनियों के प्रतिनिधि भी शामिल हुए हैं।

यह चिकित्सक हुए शामिल
भटनेर सर्जिकॉन में जेएनयू प्रिंसिपल एंड कंट्रोलर
डॉ. अमीलाल भट्ट, एसएमएस अस्पताल के सर्जरी डिपार्टमेंट हैड डॉ. आरके जैनव, बीकानेर एसपीएमसी अस्पताल के सर्जरी डिमार्टमेंट के हैड डॉ. अशोक परमार, एसएमएस अस्पताल की डॉ. प्रभा ओम, जेएनएल मेडिकल कॉलेज के डॉ. श्याम भूतरा, डॉ. मोहम्मद सलीम, डॉ. आरके काजला, डॉ. जीवन राम कंनकरिया, डॉ. बीएल यादव, डॉ. प्रदीप वर्मा, डॉ. सीपी दाधिच, डॉ. संदीप जैन, बिड़ला अस्पताल के डॉ. राजकुमार, फोर्टिस अस्पताल के डॉ. हमेंद्र शर्मा, डॉ. हिमांशु शर्मा, डॉ. ईशान इलाहाबादी, डॉ. उज्जवल बंसल, डॉ. हरीश रहेजा आदि जाने-माने चिकित्सकों ने ऑपरेशन किए और कॉफ्रेंस हॉल में बैठे चिकित्सकों के सवालों के जवाब दिए।

कार्यक्रम में यह रहे मौजूद
सर्जिकल कॉफ्रेंस का विधिवत रुप से उद्घाटन शनिवार शाम को हनुमानगढ़ विधायक विनोद कुमार चौधरी, नोहर विधायक अमित चाचाण, जिला कलक्टर जाकिर हुसैन, डॉ. हसबंस सिंह, सीएमएचओ डॉ. अरूण चमडिय़ा ने किया। जिला कलक्टर ने विधायक कोटे से लेजर सर्जरी के लिए १२ लाख रूपए की मांग की तो विधायक विनोद कुमार ने खुद के कोटे से देने की अनुमति दी। कार्यक्रम के दौरान अतिथियों को पीएमओ डॉ. एमपी
शर्मा, सचिव डॉ. विजय शर्मा व डॉ. अमृत पाल सिंह ने कांफ्रेस के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इस मौके पर आईएमए अध्यक्ष डॉ. निशांत बतरा, डॉ. शिप्रा शर्मा, डॉ. पारस जैन, डॉ. बीके चावला, डॉ. बीके शर्मा, डॉ. भागीरथ कासनिया, डॉ. राजविंद्र कौर, पूर्व पीएमओ डॉ. रोहिल्ला, डॉ. मनोज शर्मा, डॉ. ब्रिजेश गौड़, डॉ. ओपी सोलंकी, नर्सिंग अधीक्षक सुनील बहल, पंचायत समिति प्रधान जयदेव भीड़ासरा, पीआरओ सुरेश बिश्नोई आदि मौजूद रहे।
*******************************

Anurag thareja
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned