नहर पर जाकर पूर्व पति को भेजा संदेश, मन्नत का रखना ख्याल

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. विवाहिता को प्रेम में फांस कर हत्या व शव नहर में फेंकने का मामला पुलिस जांच में आत्महत्या का होने के तथ्य मिले हैं। मृतका के मोबाइल फोन की लोकेशन, कॉल, मैसेज, सीसीटीवी फुटेज आदि के आधार पर टाउन पुलिस ने इसे हत्या की बजाय आत्महत्या का माना है।

नहर पर जाकर पूर्व पति को भेजा संदेश, मन्नत का रखना ख्याल
- प्रेम में फांस कर हत्या व शव नहर में फेंकने का मामला जांच में निकला आत्महत्या का
- अब आरोपियों की लोकेशन जांच रही पुलिस, इससे आगे बढ़ेगी जांच
हनुमानगढ़. विवाहिता को प्रेम में फांस कर हत्या व शव नहर में फेंकने का मामला पुलिस जांच में आत्महत्या का होने के तथ्य मिले हैं। मृतका के मोबाइल फोन की लोकेशन, कॉल, मैसेज, सीसीटीवी फुटेज आदि के आधार पर टाउन पुलिस ने इसे हत्या की बजाय आत्महत्या का माना है। यद्यपि अभी आरोपियों के मोबाइल फोन की लोकेशन पुलिस जांच रही है। इसके आधार पर मामला आत्महत्या दुष्प्रेरण आदि की तरफ जाने या नहीं जाना तय होगा। अब तक की पुलिस पड़ताल में अपहरण व हत्या के तथ्य नहीं मिले हैं। ऐसे में पुलिस इसे आत्महत्या का मामला मानकर जांच आगे बढ़ा रही है। मृतका ने घटना स्थल की ओर जाते हुए अपने मोबाइल फोन से पूर्व पति को मैसेज भी भेजा था। इसमें विवाहिता ने उससे अपनी गोद ली हुई बेटी मन्नत का ख्याल रखने का निवेदन किया था।
मामले की जांच कर रहे एसआई अनिल चिंदा ने बताया कि सीसीटीवी कैमरों की फुटेज जांच में पता चला कि विवाहिता रेखा उर्फ सिमरन (26) निवासी अम्बेडकर कॉलोनी टाउन से एक दिसम्बर को सुबह ऑटो के जरिए जंक्शन पहुंची। फिर राजस्थान रोडवेज से डबवाली गई। वहां से बस में अबूबशहर पहुंची। अबूबशहर कस्बे से पैदल ही इंदिरा गांधी नहर की तरफ रवाना हो गई। करीब दो किलोमीटर तक वह पैदल चली। इस दौरान अपनी बुआ शीला रानी को फोन कर अब तक हुई बातों को लेकर माफी मांगी। इसके अलावा पूर्व पति लक्की अरोड़ा निवासी पीलीबंगा को भी मैसेज भेजकर माफी मांगी व गोद ली गई बेटी का ख्याल रखने का निवेदन किया। विवाहिता को कई ग्रामीणों ने नहर में कूदते देखा था। इन सबके आधार पर अपहरण व हत्या जैसी बात सामने नहीं आई। अब आरोपियों की लोकेशन जांच रहे हैं। विवाहिता के कोई औलाद नहीं हुई थी। पति से तलाक हो चुका था। वह स्वयं भी बीमार रहती थी। उसने एक बच्ची गोद ले रखी थी।
क्या दर्ज कराया था मामला
टाउन के वार्ड 24 निवासी शीला रानी (55) पत्नी रमेश अरोड़ा ने एक दिसम्बर की रात भतीजी रेखा उर्फ सिमरन की हत्या का मामला दर्ज कराया था। उसने पुलिस को रिपोर्ट दी कि रेखा का विवाह करीब नौ साल पहले हुआ था। दंपती में विवाद के चलते उसका तलाक हो गया था। सात-आठ माह पहले प्रेम सेतिया पुत्र हाकम सेतिया ने रेखा को प्रेम में फांस नाजायज संबंध बना लिए। एक दिसम्बर की सुबह आठ बजे रेखा उर्फ सिमरन अपनी बुआ के घर मिलने गई। तभी उसके पास प्रेम सेतिया का फोन आया तो वह डरकर वापस चली गई। आरोपी ने अपने दोस्त हाकम खां के साथ मिलकर अबूबशहर के पास ले जाकर रेखा की हत्या कर दी तथा शव नहर में फेंक दिया। डबवाली पुलिस ने रविवार शाम को ही नहर से शव बरामद कर लिया था।

adrish khan Reporting
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned