अफीम तस्कर को बारह वर्ष की सजा, एनडीपीएस एक्ट में न्यायाधीश ने सुनाया फैसला

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. एनडीपीएस एक्ट प्रकरण के विशिष्ट न्यायाधीश वीरेंद्र जसूजा ने अफीम तस्करी मामले में मंगलवार को फैसला सुनाया। तस्करी के दोषी को बारह वर्ष के कठोर कारावास से दंडित किया। साथ ही दोषी पर एक लाख रुपए का जुर्माना भी लगाया है। अदम अदायगी एक वर्ष का अतिरिक्त कठोर कारावास भुगतना होगा।

 

By: Purushottam Jha

Published: 18 Feb 2020, 05:49 PM IST

अफीम तस्कर को बारह वर्ष की सजा, एनडीपीएस एक्ट में न्यायाधीश ने सुनाया फैसला

हनुमानगढ़. एनडीपीएस एक्ट प्रकरण के विशिष्ट न्यायाधीश वीरेंद्र जसूजा ने अफीम तस्करी मामले में मंगलवार को फैसला सुनाया। तस्करी के दोषी को बारह वर्ष के कठोर कारावास से दंडित किया। साथ ही दोषी पर एक लाख रुपए का जुर्माना भी लगाया है। अदम अदायगी एक वर्ष का अतिरिक्त कठोर कारावास भुगतना होगा। राज्य सरकार की ओर से पैरवी विशिष्ट लोक अभियोजक दिनेश दाधीच ने की। प्रकरण के अनुसार 15 जनवरी 2018 को जंक्शन पुलिस ने ग्रेफ चौराहे के पास परसराम पुत्र मांगीलाल निवासी हंसपुर, जिला नीमच (मध्यप्रदेश) को दो अलग-अलग थैलियों में तीन किलो 300 ग्राम अफीम सहित गिरफ्तार किया था। जांच के बाद पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 8/18 एनडीपीएस एक्ट में आरोप प्रमाणित मानकर न्यायालय में चालान पेश किया। लोक अभियोजक दिनेश दाधीच ने बताया की सुनवाई के दौरान अभियोजन ने कुल नौ गवाह पेश किए। इसके बाद मंगलवार को एनडीपीएस एक्ट प्रकरण के विशिष्ट न्यायाधीश वीरेंद्र जसूजा ने अपराध साबित मानते हुए परसराम को दोषी करार दिया। दोषी को बारह वर्ष के कठोर कारावास की सजा सुनाई। साथ ही एक लाख रुपए का जुर्माना भी लगाया।

Purushottam Jha Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned