नहरी चुनाव को लेकर मतदान दलों ने संभाला मोर्चा

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. नहरी चुनाव को लेकर शुक्रवार को जल संसाधन विभाग कार्यालय से मतदान दलों को रवानगी दे दी गई। इसके बाद ज्यादातर जगहों पर मतदान दलों ने मोर्चा संभाल लिया।

 

By: Purushottam Jha

Published: 13 Sep 2019, 09:29 PM IST


-पहले चरण के चुनाव को लेकर नामांकन की प्रक्रिया आज होगी पूर्ण, कल होगा मतदान
हनुमानगढ़. नहरी चुनाव को लेकर शुक्रवार को जल संसाधन विभाग कार्यालय से मतदान दलों को रवानगी दे दी गई। इसके बाद ज्यादातर जगहों पर मतदान दलों ने मोर्चा संभाल लिया। पहले चरण में भाखड़ा नहर के दस नहर वितरिकाओं में जल उपयोक्ता संगम के अध्यक्ष का निर्वाचन करने के लिए १४ सितम्बर को बीके १३१, १३२, १३३, १३४, १६०, १६१, १६२, १६३, १६४, १६५ में नामांकन की प्रक्रिया पूर्ण की जाएगी। इसके बाद जरूरत पडऩे पर १५ सितम्बर को सुबह आठ से शाम पांच बजे तक मतदान करवाए जाएंगे। चुनाव को लेकर ११६ अधिकारियों व कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है। तीन फ्लाइंग टीम नियमित रूप से मतदान व्यवस्था पर निगरानी बनाए रखेगी।
सभी पोलिंग बूथों पर सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस जाब्ता लगाने के लिए जल संसाधन विभाग के एक्सईएन ने एसपी को आग्रह किया है। इस बार महिला मतदाताओं की तादाद बढऩे के कारण महिला सुरक्षाकर्मी को भी पोलिंग बूथ पर तैनात किया जाएगा। जिससे शांतिपूर्ण तरीके से चुनाव संपन्न हो सके। नहरी चुनाव में करीब ७३ हजार किसान भाग लेंगे। चार चरणों में संपन्न होने वाले नहरी चुनाव में कुल ४१ बीके में मतदान करवाने को लेकर जल संसाधन विभाग के अधिकारियों ने सभी तरह की तैयारी पूरी कर ली है। इसके तहत पहले चरण का मतदान करवाने के लिए शुक्रवार को मतदान दलों को मतदान सामग्री देकर रवाना कर दिया गया। इस मौके पर भाखड़ा खंड द्वितीय के एक्सईएन बीरबल सिंह, मतदान प्रकोष्ठ प्रभारी मनीराम, खंडीय लेखाधिकारी कालूराम सुथार की निगरानी में मतदान दलों को रवाना किया गया।

ऐसे होंगे चुनाव
पहले चरण में १५ सितम्बर को सादुलब्रांच, सूरतगढ़ वितरिका, खुंजा माइनर, हनुमानगढ़ वितरिका, किशनुपरा वितरिका के चुनाव होंगे। इसी तरह दूसरे चरण में १८ को सिलवाला वितरिका, साबुआना, नगराना, खारा सब ब्रांच, तीसरे चरण में २१ को सूरतगढ़ वितरिका, चंदूरवाली वितरिका, चौथे चरण में २३ को सूरतगढ़ वितरिका, पीलीबंगा वितरिका, संघर माइनर, सरदारगढ़ माइनर के चुनाव प्रस्तावित किए गए हैं। राजस्थान सिंचाई प्रबंधन में कृषकों की सहभागिता अधिनियम २००० के तहत चुनाव करवाने जरूरी हैं।

चुनाव बहुत जरूरी
जायका के तहत भाखड़ा नहरों को पक्का करने के बाद इनमें तय अनुबंधों के अनुसार जल उपयोक्ता संगम अध्यक्षों का चुनाव करवाना जरूरी है। इसके तहत अब नहरों को पक्का करने के बाद इनमें अध्यक्षों के निर्वाचन को लेकर चुनाव करवाए जा रहे हैं। चुनाव के बाद उक्त सभी ४१ बीके अध्यक्षों की निगरानी में नहरों का संचालन किया जाएगा। बारी बांधने सहित अन्य कई अधिकार नहर अध्यक्षों को मिल जाएंगे। वर्तमान में इन नहरों का संचालन विभागीय अधिकारी कर रहे हैं।

Purushottam Jha Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned