राजस्थान के हिस्से में कटौती, हकीकत जानने पंजाब पहुंचे मुख्य अभियंता

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. इंदिरागांधी नहर के शेयर में पंजाब की ओर से लगातार की जा रही कटौती से राजस्थान के अधिकारियों की चिंता बढ़ती जा रही है। जल संसाधन विभाग उत्तर संभाग हनुमानगढ़ के मुख्य अभियंता लगातार पंजाब के अधिकारियों से संपर्क बनाकर तय शेयर के अनुसार पानी दिलाने के प्रयास में जुटे हुए हैं।

 

राजस्थान के हिस्से में कटौती, हकीकत जानने पंजाब पहुंचे मुख्य अभियंता
-इंदिरागांधी मुख्य नहर में तय शेयर की तुलना में १५०० से २००० क्यूसेक कम पानी प्रवाहित करने का मामला
-राजस्थान की नहरों के पिटने की आश्ंाका में अधिकारियों की बढ़ी बेचैनी
.........फोटो.........
हनुमानगढ़. इंदिरागांधी नहर के शेयर में पंजाब की ओर से लगातार की जा रही कटौती से राजस्थान के अधिकारियों की चिंता बढ़ती जा रही है। जल संसाधन विभाग उत्तर संभाग हनुमानगढ़ के मुख्य अभियंता लगातार पंजाब के अधिकारियों से संपर्क बनाकर तय शेयर के अनुसार पानी दिलाने के प्रयास में जुटे हुए हैं। लेकिन इसमें उन्हें कामयाबी नहीं मिल रही है। जल्द कटौती नहीं रोकी गई तो इंदिरागांधी नहर का रेग्यूलेशन प्रभावित हो सकता है। जल संसाधन खंड उत्तर संभाग हनुमानगढ़ कार्यालय में एक्सईएन लखपत राय मेहरड़ा ने बताया कि २७ नवम्बर को भी पंजाब की ओर से इंदिरागांधी नहर में १५०० क्यूसेक कम पानी प्रवाहित किया गया। इससे पहले पंजाब के अधिकारी दो हजार क्यूसेक तक की कटौती राजस्थान के हिस्से से कर चुके हैं। लगातार एक हजार से दो हजार क्यूसेक पानी कम प्रवाहित करने से राजस्थान की नहरों के पिटने की आशंका जताई जा रही है। इसका आंशिक असर क्षेत्र में नजर भी आने लगा है।
बादलवाही के साथ २४ घंटे पहले हुई बारिश के कारण सिंचाई पानी की कमी थोड़ी दूर जरूर हुई है। लेकिन जल्द इंदिरागांधी नहर में तय शेयर के अनुसार पानी नहीं चलाने पर आगे दिक्कतें और बढ़ सकती है। वर्तमान में क्षेत्र के किसान रबी फसलों की बिजाई में जुटे हुए हैं। क्षेत्र में रबी की प्रमुख फसल गेहूं मानी जाती है। करीब पौने तीन लाख हेक्टैयर में गेहूं की बिजाई होने का अनुमान है। इस फसल को बिजाई से पकाई तक सर्वाधिक आठ से नौ बारी सिंचाई पानी की जरूर पड़ती है। इस स्थिति में बिजाई के वक्त ही नहरी पानी का संकट आने से आगे बिजाई के वक्त पूरा पानी मिलेगा या नहीं, इस पर भी संशय के बादल मंडरा रहे हैं। नहरी पानी में लगातार हो रही कटौती से किसान पसोपेश की स्थिति में हैं। विभागीय अधिकारियों का कहना है कि सरहिंद फीडर पंजाब भाग में रीलाइनिंग का काम चल रहा है। सीपेज आदि की समस्या के चलते पंजाब ने राजस्थान के शेयर में कटौती का निर्णय लिया है। हालांकि गत माह बीबीएमबी की हुई बैठक में पंजाब ने इस तरह के संकेत नहीं दिए थे। लिंक के जरिए राजस्थान को तय शेयर के अनुसार पानी देने पर सहमति जताई गई थी। लेकिन अब अचानक की जा रही कटौती से राजस्थान के अधिकारियों के होश उड़े हुए हैं।

मुख्य अभियंता गए पंजाब
पंजाब की ओर से लगातार कम पानी प्रवाहित करने के कारण जल संसाधन उत्तर संभाग हनुमानगढ़ के मुख्य अभियंता विनोद कुमार मित्तल ने बुधवार को पंजाब जाकर वास्तविक स्थिति जानी। इस दौरान उन्होंने पंजाब के अधिकारियों से कहा कि वह तत्काल तय शेयर के अनुसार राजस्थान की नहर में पानी प्रवाहित करें। बताया जा रहा है कि पंजाब ने आश्वासन दिया है कि दो दिनों में तय शेयर के अनुसार इंदिरागांधी मुख्य नहर राजस्थान भाग में पानी प्रवाहित कर दिया जाएगा। जल संसाधन खंड हनुमानगढ़ के अधिशाषी अभियंता दिवाकर पांडे ने बताया कि दो दिनों में नहरी पानी की स्थिति ठीक हो जाएगी। इस बारे में पंजाब की ओर से हमें आश्वस्त किया गया है।

सीपेज की समस्या
जल संसाधन खंड उत्तर संभाग हनुमानगढ़ के मुख्य अभियंता विनोद कुमार मित्तल ने पंजाब में चल रहे सरहिंद फीडर के मरम्मत कार्य का निरीक्षण किया। बुधवार को निरीक्षण के बाद उन्होंने बताया कि सीपेज की समस्या सही में थी। लेकिन पंजाब के अधिकारियों ने अब इसके समाधान के रास्ते निकाल लिए हैं। पंजाब के अधिकारियों ने एक दो दिन में राजस्थान को तय शेयर के अनुसार पानी देने का भरोसा दिलाया है।

दिनांक तय शेयर मिला इतना
२४ १२०४५ १००००
२५ १२०४५ १००००
२६ १२०४५ १०५००
२७ १२०४५ १०५००
(नोट: इंदिरागांधी मुख्य नहर में नवम्बर २०१९ में पंजाब की ओर से राजस्थान क्षेत्र में प्रवाहित किए जा रहे पानी व तय शेयर को क्यूसेक में समझें।)

Purushottam Jha
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned