केेंद्रीय सहकारी बैंक ने घटाई ब्याज दरें, संचालन मंडल की बैठक में पारित किया था प्रस्ताव

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

हनुमानगढ़. केंद्रीय सहकारी बैंक हनुमानगढ़ ने अब कई ऋण योजनाओं पर ब्याज दरें घटाने का निर्णय लिया है। बैंक संचालन मंडल की हुई बैठक में ब्याज निर्धारण को लेकर कमेटी गठित की गई थी। इसके बाद अब बैंक प्रधान कार्यालय में कमेटी ने अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत कर दी है।

 

By: Purushottam Jha

Published: 05 Sep 2020, 08:07 AM IST

केेंद्रीय सहकारी बैंक ने घटाई ब्याज दरें, संचालन मंडल की बैठक में पारित किया था प्रस्ताव
-कमेटी की ओर से रिपोर्ट सौंपने के बाद संशोधित ब्याज दरें लागू

हनुमानगढ़. केंद्रीय सहकारी बैंक हनुमानगढ़ ने अब कई ऋण योजनाओं पर ब्याज दरें घटाने का निर्णय लिया है। बैंक संचालन मंडल की हुई बैठक में ब्याज निर्धारण को लेकर कमेटी गठित की गई थी। इसके बाद अब बैंक प्रधान कार्यालय में कमेटी ने अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत कर दी है। इसमें फार्म सैक्टर व नॉन फार्म सेक्टर ऋणों पर ब्याज दरों में संशोधन करके अब नई ब्याज दरें निर्धारित की गई है। अन्य वाणिज्य व अपेक्स बैंकों की ब्याज दरों का तुलनात्मक अवलोकन करने के बाद कमेटी ने संशोधित ब्याज दरें लागू करने का सुझाव दिया था। इसके बाद संशोधित ब्याज दरें अब बैंक में लागू कर दी गई है।
संशोधित ब्याज दरों के अनुसार बैंक की ओर से वाहन ऋण लेने पर व्यापारिक कार्य के लिए उपलब्ध करवाए जाने वाले वाहन पर दस प्रतिशत एवं व्यक्तिगत संस्थाओं के कर्मचारियों को ८.५० प्रतिशत की दर से ऋण उपलब्ध करवाया जाएगा। जबकि पहले इस श्रेणी के ऋण पर १०.७५ प्रतिशत ब्याज वसूल किया जाता था। इसी तरह सीसीएल लिमिट, अचल संपत्ति ऋण, कार्यशील पूूंजी मोरगेज टर्म लोन में तीन लाख रुपए तक के ऋणों पर दस प्रतिशत एवं तीन लाख से अधिक के ऋणों पर ग्यारह प्रतिशत ब्याज दर वसूल किया जाएगा। इससे पहले तक उक्त सभी ऋण योजनाओं में दो लाख तक बारह प्रतिशत व दो से दस लाख तक तेरह प्रतिशत व दस लाख से अधिक तक 14 प्रतिशत ब्याज दर वसूल किया जाता था। केंद्रीय सहकारी बैंक हनुमानगढ़ के मुख्य प्रबंधक रामकुमार सहारण ने बताया कि संशोधित ब्याज दरें लागू कर दी गई है। इस संबंध में सभी बैंक प्रबंधकों को अवगत करवा दिया गया है।

शिक्षा संबंधी ऋण पर नजर
केंद्रीय सहकारी बैंक हनुमानगढ़ की ओर से जो संशोधित ब्याज दरें निर्धारित की गई है। उसमें शिक्षा ऋण योजना में दस प्रतिशत की दर से ब्याज वसूल किया जाएगा। इसी तरह व्यक्तिगत व कुबेर ऋण योजना में अन्य संस्थाओं के कर्मचारियों को ग्यारह प्रतिशत ब्याज दर देना होगा। इसी तरह सहकार स्वरोजगार एवं स्वयं सहायता समूह योजना में ग्यारह प्रतिशत की दर से ऋण उपलब्ध करवाया जाएगा।

इनके सुझाव पर अमल
केंद्रीय सहकारी बैंक के संचालन मंडल की हुई बैठक में ऋण योजनाओं की समीक्षा कर ब्याज दरों में संशोधित करने का प्रस्ताव पारित किया गया। इसके लिए कमेटी भी गठित की गई। संचालक मंडल सदस्य व पूर्व बैंक के पूर्व चैयरमेन संदीप डूडी, उप रजिस्ट्रार सहकारी समितियां, केंद्रीय सहकारी बैंक के प्रबंध निदेशक, वरिष्ठ प्रबंधक केंद्रीय सहकारी बैंक, प्रबंधक परिचालन व परिचालन अनुभाग केंद्रीय सहकारी बैंक हनुमानगढ़ को शामिल किया गया था। सबकी राय को सुनकर अब संशोधित ब्याज दरें लागू करने का फैसला किया गया है।

....फैक्ट फाइल.....
-जुलाई २०२० तक केंद्रीय सहकारी बैंक हनुमानगढ़ की पोर्टल पर १०२१९८ किसानों का रजिस्ट्रेशन हुआ।
-खरीफ २०२० में बैंक ने जुलाई तक ३४०.९८ करोड़ का ऋण वितरित किया।
-जिले में वर्तमान में २१६ ग्राम सेवा सहकारी समितियों का संचालन किया जा रहा है।
-शिक्षा ऋण योजना में १० प्रतिशत की दर से ब्याज वसूल करेगा केंद्रीय सहकारी बैंक हनुमानगढ़।
-ऋण वसूली में हनुमानगढ़ सहकारी बैंक की काफी अच्छी स्थिति।

Purushottam Jha Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned