दंपती को दो सप्ताह तक खानी होगी जेल की दाल रोटी

दंपती को दो सप्ताह तक खानी होगी जेल की दाल रोटी

pawan uppal | Publish: Jul, 14 2018 08:30:26 AM (IST) Hanumangarh, Rajasthan, India

-अवैध रूप से गर्भ समापन का धंधा कर चांदी कूट रहे दंपती को फिलहाल दो सप्ताह तक जेल की दाल रोटी खानी होगी।

हनुमानगढ़.

अवैध रूप से गर्भ समापन का धंधा कर चांदी कूट रहे दंपती को फिलहाल दो सप्ताह तक जेल की दाल रोटी खानी होगी। आरोपित पति-पत्नी को पीसीपीएनडीटी सैल जयपुर के पुलिस अधिकारियों ने यहां शुक्रवार को सीजेएम कोर्ट में विजय प्रकाश सोनी के समक्ष पेश किया। दोनों को कोर्ट ने 27 जुलाई तक न्यायिक अभिरक्षा में भिजवा दिया। पीसीपीएनडीटी सैल जयपुर से आए एसआई विमल दीक्षित ने बताया कि आरोपित वकील सिंह व उसकी पत्नी लक्ष्मी देवी का कैनाल कॉलोनी स्थित राजकीय डिस्पेंसरी में मेडिकल करवाया गया।

पीसीपीएनडीटी सैल जयपुर तथा चिकित्सा विभाग के स्थानीय अधिकारियों व कर्मचारियों की टीम ने अवैध रूप से गर्भ समापन करने के धंधे का गुरुवार शाम भंडाफोड़ किया था। मुखबिर के जरिए कई दिनों की प्लानिंग के बाद कार्रवाई को अंजाम देकर दंपती को सुरेशिया से दबोचा गया।


अवैध रूप से गर्भ समापन के आरोप में पकड़ी गई आरोपित लक्ष्मी देवी अभी नर्सिंग कोर्स ही कर रही है। जांच टीम ने मौके से एमटीपी किट में आने वाली दवाई, औजार, इंजेक्शन आदि जब्त किए। साथ ही मुखबिर को दिए गए विशेष नम्बर के नोट भी आरोपितों से जब्त कर लिए। चिकित्सा विभाग के अधिकारियों के अनुसार विभाग को हनुमानगढ़ के खुंजा व सुरेशिया इलाके में अवैध रूप से गर्भ समापन कराने का रैकेट चलाने की शिकायतें मिल रही थी।

इसके आधार पर मुख्यालय से मिले निर्देशों के बाद सीएमएचओ डॉ. अरुण चमडिय़ा ने टीम का गठन किया। मुखबिर ने टीम को सूचना दी कि गुरुनानक क्लिनिक खुंजा पर अवैध रूप से गर्भ समापन के लिए महिला आई हुई है। झोला छाप क्लिनिक संचालक वकील सिंह निवासी डबलीराठान ने गर्भपात कराने के लिए तीन हजार रुपए मांगे। सौदा तय होने के बाद वकील सिंह ने गर्भपात के लिए आई महिला को अपनी पत्नी लक्ष्मी देवी के पास सुरेशिया भिजवा दिया। सुरेशिया में लक्ष्मी देवी का पीहर है। वहां एक नोहरे में उसने टेबल वगैरह लगा
रखी थी।


महिला के पहुंचने पर लक्ष्मी देवी व अन्य आरोपितों ने गर्भपात का रेट बढ़ाकर पांच हजार कर दिया। थोड़ा मोल-भाव के बाद पांच हजार रुपए देने के लिए महिला तैयार हो गई। मुखबिर के जरिए लक्ष्मी देवी व उसके पति ने पांच हजार रुपए लिए तथा गर्भपात की तैयारी शुरू कर दी। औजार व दवाई वगैरह निकाल ली। तभी चिकित्सा विभाग की टीम ने धावा बोला। आरोपितों के कब्जे से नम्बर लिखकर दिए गए पांच हजार रुपए बरामद कर लिए। आरोपितों को गिरफ्तार कर औजार आदि जब्त कर लिए। महिला सूरतगढ़ से गर्भपात के लिए दोपहर को हनुमानगढ़ आई। आरोपित वकील सिंह उसे जेल फाटक के पास मिला तथा पहले अपने क्लिनिक पर ले गया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned