भ्रष्टाचार के माहौल में व्यंग्यकार की कलम छलनी का काम करती है

https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

नुमानगढ़. राजस्थान साहित्य परिषद् हनुमानगढ़ की ओर से शनिवार को हाउसिंग बोर्ड में आयोजित कार्यक्रम में वरिष्ठ साहित्यकार दीनदयाल शर्मा की हिंदी व्यंग्य कृति (एक ही उल्लू काफी है) का लोकार्पण किया गया।

 

By: Purushottam Jha

Published: 21 Aug 2021, 08:26 PM IST

भ्रष्टाचार के माहौल में व्यंग्यकार की कलम छलनी का काम करती है
-एक ही उल्लू काफी है व्यंग्य पुस्तक के लोकार्पण कार्यक्रम में बोले वक्ता

हनुमानगढ़. राजस्थान साहित्य परिषद् हनुमानगढ़ की ओर से शनिवार को हाउसिंग बोर्ड में आयोजित कार्यक्रम में वरिष्ठ साहित्यकार दीनदयाल शर्मा की हिंदी व्यंग्य कृति (एक ही उल्लू काफी है) का लोकार्पण किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि वरिष्ठ पत्रकार गोपाल झा थे। उन्होंने कहा कि साहित्यकार दीनदयाल की ओर से रचित यह उच्च कोटि का व्यंग्य संग्रह है। साहित्यकार दीनदयाल शर्मा न सिर्फ बाल साहित्य बल्कि व्यंग्य की विधा में भी सिद्धहस्त हैं। शर्मा की पहली कृति मैं उल्लू हूं, देश भर में चर्चित रही। अब एक ही उल्लू काफी है पुस्तक मौजूदा साहित्यिक जगत में कीर्तिमान स्थापित करेगी, ऐसी उम्मीद है। उन्होंने कहा कि गंभीर बातों को बेहद चुटीले अंदाज में आसानी से कह देेना दीनदयाल शर्मा की खासियत है। इसी विधा के कारण वे समकक्ष साहित्यकारों में अलग स्थान रखते हैं। शिक्षाविद् प्रो. सुमन चावला ने कहा कि साहित्य के बगैर जीवन अधूरा सा है। दीनदयाल शर्मा की पुस्तकें सामाजिक व्यवस्था की खामियों पर चोट करती हैं तो बाल साहित्य में दक्षता के कारण ये बच्चों के बेहद निकट हैं। पुस्तक के लेखक दीनदयाल शर्मा ने कहा कि हिन्दी-राजस्थानी में अब तक 51 पुस्तकें प्रकाशित हो चुकी हैं। लेकिन व्यंग्य विधा में मेरी यह तीसरी कृति है। युवा कवयित्री ऋतुप्रिया, कार्टूनिस्ट मस्तानसिंह, कवि दुष्यंत जोशी, विरेन्द्र छापोला, अदरीस खान व कमलेश शर्मा आदि कार्यक्रम में मौजूद रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता कवि नरेश मेहन ने की। इस मौके पर मेहन ने कहा कि समाज और राजनीति में फैले भ्रष्टाचार के लिए व्यंग्यकार की कलम छलनी का काम करती है। इस दृष्टि से दीनदयाल शर्मा की यह व्यंग्य कृति मील का पत्थर साबित होगी।

Purushottam Jha Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned